National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

कमल हासन के ‘हिंदू आतंकवादी’ बयान पर विवेक ओबेरॉय का पलटवार , ‘देश को न बांटें’

नई दिल्ली l इन दिनों देश लोकसभा चुनाव का माहौल बना हुआ. राजनीतिक गलियारों में सभी पार्टियां एक दूसरे की टांग खींचने में लगे पड़े हुए. इसी बीच फिल्म कलाकार कमल हासन द्वारा दिए गए एक बयान ने सोशल मीडिया पर हंगामा मचाए हुए है. दरअसल मक्कल नीधि मैयम (एमएनएम) के संस्थापक कमल हासन ने तमिलनाडु में यह कहकर नया विवाद खड़ा कर दिया है कि आजाद भारत का पहला ‘‘आतंकवादी हिन्दू’’ था. वह महात्मा गांधी की हत्या करने वाले, नाथूराम गोडसे के संदर्भ में बात कर रहे थे.

कमल हसान द्वारा दिए गए इस बयान पर बॉलीवुड एक्टर विवेक ओबेरॉय का रिएक्शन सामने आया है. उन्होंने कमल हासन से अनुरोध किया है कि वह देश को न बांटें. विवेक ने इस माले में दो ट्वीट किया. पहला ट्वीट करते हुए उन्होंने लिखा, ‘डियर कमल सर, आप महान कलाकार हैं. जिस तरह कला का कोई धर्म नहीं होता, उसी तरह आतंक का भी कोई धर्म नहीं होता! आप कह सकते हैं कि गोडसे आतंकवादी हैं. आप ‘हिंदू’ शब्द का इस्तेमाल क्यों कर रहे हैं? इसलिए क्योंकि आप वोटों की खातिर मुस्लिम बहुल इलाके में हैं?’

वहीं, अपने दूसरे ट्वीट में विवेक ने लिखा, ‘प्लीज सर, एक छोटा-सा कलाकार एक महान कलाकार से कहना चाहता है कि इस देश को मत बांटो, हम एक हैं. जय हिंद.’ रविवार की रात एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए हासन ने कहा कि वह एक ऐसे स्वाभिमानी भारतीय हैं जो समानता वाला भारत चाहते हैं. उन्होंने कहा, ‘‘मैं ऐसा इसलिए नहीं बोल रहा हूं कि यह मुसलमान बहुल इलाका है, बल्कि मैं यह बात गांधी की प्रतिमा के सामने बोल रहा हूं. आजाद भारत का पहला आतंकवादी हिंदू था और उसका नाम नाथूराम गोडसे है. वहीं से इसकी (आतंकवाद) शुरुआत हुई.’’ महात्मा गांधी की 1948 में हुई हत्या का हवाला देते हुए हासन ने कहा कि वह उस हत्या का जवाब खोजने आए हैं.

Print Friendly, PDF & Email
Translate »