ब्रेकिंग न्यूज़

गारमेंट व्यापारी की सरेराह गोली मारकर हत्या

राजधानी के करोल बाग इलाके के बापा नगर में शनिवार देर रात पार्किंग विवाद को लेकर कपड़ा कारोबारी को गोली मारकर हत्या कर दी गई। वारदात उस वक्त हुई जब कारोबारी अपनी बेटी के साथ टहलने के लिए घर से बाहर निकले थे। हत्या करने वाला भी पड़ोस में रहने वाला उनका दोस्त निकला। पार्किंग विवाद को ही लेकर पिछले कुछ समय आरोपी हमलावर व कारोबारी की दोस्ती टूट गई थी और इनके बीच अनबन चल रही थी।

शनिवार रात भी पार्किंग को लेकर दोनों के बीच विवाद हुआ और कहासुनी के दौरान पड़ोसी ने उन्हें गोली मार दी। वारदात को अंजाम देने के बाद मौके से फरार हुए आरोपी को पुलिस ने रविवार शाम दिल्ली के नरेला इलाके से गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी को पुलिस ने उस वक्त दबोचा, जब वह दिल्ली से फरार होकर झारखंड जाने की फिराक में जुटा था। बहरहाल पुलिस उससे पूछताछ कर मामले की जांच कर रही है। उधर पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है।
पुलिस के मुताबिक, 31वर्षीय कपड़ा कारोबारी मोहित परिवार समेत करोल बाग इलाके में बापा नगर स्थित ई ब्लॉक में रहते थे। उनके परिवार में पिता राजेंद्र, मां मीना, पत्नी रंजना और तीन बेटियां हैं। मोहित करोलबाग इलाके में टैंक रोड पर कपड़ों का कारोबार करते थे। वहीं उनकी हत्या करने का आरोपी 32 वर्षीय कमल उनके पड़ोस में ही रहता है। जांच के दौरान यह पता चला दोनों के बीच बपचन से ही दोस्ती थी। दोनों के परिवारों में भी अच्छा मेलजोल था। लेकिन जिस गली में ये रहते हैं, वह बेहद संकरी है। जबकि कमल रोज गली में ही अपनी कार खड़ी कर देता था। इस कारण आने-जाने का रास्ता ब्लॉक हो जाता था। इस बात को लेकर ही दोनों के बीच कहासुनी होती थी और धीरे-धीरे हालात यहां तक पहुंच गए कि इस खटपट में दोनों के बीच दोस्ती खत्म हो गई।

बेटी के सामने ही मारी गोली
इस बीच शनिवार रात करीब 10 बजे कारोबारी मोहित खाना खाने के बाद अपनी बेटी काजल के साथ टहलने के लिए निकले थे। तभी नशे में धुत पड़ोस में रहने वाल आरोपी कमल आया और गाली-गलौज करते लगा। वह यह कहने लगा कि वह यहीं पर गाड़ी खड़ी करेगा। कोई उसे हटा नहीं सकता है। इस बात को लेकर दोनों के बीच जमकर कहासुनी हुई और नौबत हाथापाई तक जा पहुंची। तभी गुस्से में कमल ने पिस्टल निकाली और मोहित के सीने में गोली दाग दी, जिसमें वह घायल होकर जमीन पर गिर गए। गोली माने जाने के बाद जब पिता खून से लथपथ हालत में गिर पड़े तो रोते चिल्लाते हुए उनकी बेटी काजल ने घर जाकर अपनी मां को बुलाया। इसके बाद तत्काल पुलिस को सूचना दी गई और आनन-फानन में मोहित को पास के बीएलके हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया, जहां उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई।

रौब झाड़ने के लिए फायरिंग करता है
उधर मोहित के परिजनों ने यह आरोप लगाया कि आरोपी कमल इलाके में रौब झाड़ने के लिए पहले भी फायरिंग करता रहा है। कुछ दिन पहले भी उसने एक लड़के को गोली मार दी थी, जिसमें वह घायल हो गया था। बहरहाल पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। मामले की जांच में जुटी पुलिस चश्मदीदों और परिजनों से पूछताछ कर रही है।

Print Friendly, PDF & Email
Translate »