ब्रेकिंग न्यूज़

प्रदेश सरकार श्रमिक वर्ग के कल्याण हेतु दृढ़संकल्पित : नायब सिंह सैनी

फरीदाबाद। श्रम एवं रोजगार मंत्री नायब सिंह सैनी ने कहा कि प्रदेश सरकार का सदैव प्रयास रहा है कि श्रमिक वर्ग से जुडी सभी योजना -प्रयोजनाओ का लाभ श्रमिक वर्ग को समय रहते मिल सके जिसके लिए संबंधित विभागीय अधिकारीयों को भी कड़े व आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार श्रमिक वर्ग के कल्याण हेतु दृढ़संकल्पित है। श्री सैनी आज भारतीय मजदूर संघ हरियाणा के 20वें त्रैवार्षिक अधिवेशन में देशभर से आए मजदूर एवं श्रमिक संगठनो के प्रतिनिधियों को बतौर मुख्यातिथि संबोधित कर रहे थे।

भारतीय मजदूर संघ हरियाणा के 20वें त्रैवार्षिक अधिवेशन सम्पन्न

उल्लेखनीय है कि सेक्टर 19 स्थित अग्रसैन भवन में भारतीय मजदूर संघ हरियाणा के 20 वें त्रैवार्षिक अधिवेशन का आयोजन किया गया। जिसका उद्देश्य श्रमिक वर्ग से जुडी योजनायों के बारे में मजदूर संगठनों के माध्यम से श्रमिकों को जागरूक करना था। उन्होंने भारतीय मजदूर संघ के बारे में कहा कि यह संगठन देश का सबसे बड़ा केंद्रीय श्रमिक संगठन है। जिसकी स्थापना तत्कालीन परस्तिथियों में श्रमिक कल्याण के लिए की गई थी और इस प्रकार के अधिवेशन श्रमिक वर्ग से जुडी महत्वपूर्ण सूचनाओं एवं जानकारी के संबंध में उन्हें जागरूक करने के उद्देश्य से किए जाते हैं। इस दौरान श्रममंत्री के समक्ष भारतीय मजदूर संघ हरियाणा के पदाधिकारियों द्वारा श्रमिकों के न्यूनतम वेतन, सामाजिक सुरक्षा, महंगाई भत्ता, समान वेतन मान,आवास योजना बनाकर उसका लाभ दिए जाने, कर्मचारियों को नियमित करने, श्रमिक कानूनों की दृढ़ता से पालना कराने जैसी मांगो पर मंत्री नायब सिंह सैनी ने आस्वस्त करते हुए कहा कि श्रमिक हित में शीघ्र ही इन मांगो को पूरा करवाने का प्रयास किया जाएगा। इस अवसर पर भारतीय मजदूर संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष बिनय कुमार सिन्हा, रामदास पांडेय, जगदीश जोशी। गीता ताई गोखले, वेद सैनी, सुरेंद्र कौर मान,  मेयर सुमन बाला, भाजपा जिला अध्यक्ष गोपाल शर्मा, संघ के प्रदेश अध्यक्ष जंग बहादुर यादव, प्रदेश उपाध्यक्ष सी बी चौहान,सुभाष चंद्र वर्मा, शशि भास्कर, विनय कुमार सिंह, रोहताश यादव, हनुमान गोदारा, आर सी कटोच, अशोक वर्मा, कमल सिंह, कुवरपाल शर्मा, प्रेस सिंह रावत, मटरू लाल,ताराचंद त्यागी, नीरज त्यागी सहित काफी संख्या में महिला एवं दूर दराज से आए मजदूर संगठनों के प्रतिनिधि उपस्थित रहे ।

Print Friendly, PDF & Email
Translate »