ब्रेकिंग न्यूज़

पढ़ाई की स्ट्रेटजी में बदलाव से होगी आसानी

राज्यों के बोर्ड एग्जाम फरवरी से हो जाते हैं शुरू
भोपाल । एक्सपर्टस की माने तो बोर्ड एग्जाम की तैयारी के लिए अब एक अलग स्ट्रेटजी बना कर पढ़ाई करनी होगी।
पढ़ाई की स्ट्रेटजी में बदलाव बोर्ड एग्जाम की तैयारी को आसान बना देंगे। सही जगह अपनी एनर्जी और कंसन्ट्रेशन को बनाना जरूरी होगा। क्योंकि अब समय कम है और कई बार ज्यादा प्रेशर में आकर स्टूडेंट्स पढ़ा हुआ भी भूल जाते हैं। सीबीएससी, आईसीएससी, सीआईएससीई और तमाम राज्यों के बोर्ड एग्जाम फरवरी से शुरू हो जाते हैं। दिसंबर में प्री बोर्ड भी होते हैं। क्लास 10 और 12 के लिए दिसंबर महीने से ही पढ़ाई का तरीका बदलना जरूरी हो जाता है। काउंसलर डॉ. अनिता पुरी कहती हैं इस दिनों अधिकतर स्टूडेंट्स का स्टे्रस लेवल बढ़ जाता है। जो सबसे ज्यादा खराब है। पहले अपने उन सब्जेक्ट्स को देखें, जिनकी तैयारी आपको कम लग रही है उन पर सबसे पहले फोकस करें। सब्जेक्ट्स के इंर्पोटेंट टॉपिक्स को सलेक्ट करें और उसकी तैयारी के लिए रोज एक घंटे का वक्त दें। साथ ही सब्जेक्ट में उन टॉपिक्स को टिक कर लें जिनकी तैयारी कर चुके हैं। ताकि आप इन टॉपिक्स को लास्ट डेज में रिवाइज करें। सब्जेक्ट के टॉपिक्स रेडी नहीं हैं उनके लिए अलग से नोटबुक बनाएं और उन्हें याद कर लिखना शुरू करें। पहले अपनी पढ़ाई का टाइम टेबल बनाएं। किस सब्जेक्ट के लिए कितना वक्त देना है यह अपनी तैयारी के हिसाब से तय करना होगा। अल्टरनेट डे पर दो सब्जेक्ट की तैयारी का टारगेट रखें। मॉर्निंग में पांच से छह बजे तक जरूरी पढ़ें। उसके बाद स्कूल जाएं।
शाम को ट्यूशन या कोचिंग से आने के बाद दो घंटे का रेस्ट लें।इसके बाद अपने हिसाब से पढ़ाई करें। जो भी पहला टारगेट बनाएं, उसकी टाइमिंग 25 मिनट की रखें। ऐसा करने से टारगेट पूरा करने में बोरियत नहीं होगी। पढ़ने के दौरान 40 मिनट के बाद ब्रेक जरूर लें, यह तरीका आपका पढ़ाई में इंटरेस्ट बनाए रखेगा। प्रेशर इतना न लें कि आप सोना ही कम कर दें। सही समय पर सोना बहुत जरूरी है। एग्जाम के लिए जाने से 30 मिनट पहले पढ़ाई करना बंद कर दें। आराम से एक कुर्सी पर बैठें, अपने शरीर को ढीला छोड़ दें, दिमाग में चल रही सारी उलझनों को भूल जाएं। मूड को रिफ्रेश करने के लिए बाहर घूम लें, दोस्तों से बात कर लें या कुछ देर टीवी देख लें। सोशल मीडिया से दूरी दो महीने के लिए बनाना जरूरी होगा। तैयारी के दौरान डाइट भी अलग होनी चाहिए। फास्ट फूड, ऑयली फूड, कोल्ड डिंक्स बंद कर दें।न्यूट्रिशनिस्ट स्वर्णा व्यास कहती हैं एग्जाम टाइम में सबसे पहले कैफीन लेना बंद कर दें। यानी चाय, कॉफी आदि ज्यादा न लें। इससे आपको नींद आने में बहुत परेशानी हो जाती है और नींद पूरी नहीं होने से आप सुबह उठने के बाद थकान महसूस करेंगे। खुद को रिफ्रेश करने के लिए ग्रीन टी लें। तैयारी के दौरान अपना मोबाइल ऑफ कर दें। अपने से दूर रखें और जब पढ़ने के बाद फ्री हों तब मोबाइल देखें।

Print Friendly, PDF & Email
Translate »