ब्रेकिंग न्यूज़

शेयर बाजार में फिसलन, सेंसेक्‍स 161 अंक टूटकर 38,700 के स्‍तर पर

सोमवार को सेंसेक्‍स 161.70 अंक गिरकर 38,700 के स्‍तर पर बंद हुआ. जबकि निफ्टी 61.45 अंक घटकर 11,604.50 अंक के स्‍तर पर रहा.

सप्‍ताह के पहले कारोबारी दिन भारतीय शेयर बाजार में उथल-पुथल देखने को मिली. शुरुआती कारोबार में बढ़त के बाद सेंसेक्‍स 400 अंक तक टूट गया. हालांकि कारोबार के अंत में सेंसेक्‍स में रिकवरी आई और 161.70 अंक गिरकर 38,700 के स्‍तर पर बंद हुआ. इसी तरह निफ्टी 61.45 अंक घटकर 11,604.50 अंक के स्‍तर पर रहा. इससे पहले शुक्रवार को सेंसेक्स 177.51 अंक यानी 0.49 फीसदी बढ़कर 38,862.23 अंक जबकि निफ्टी 67.95 अंक यानी 0.59 फीसदी की बढ़त के साथ 11,665.95 अंक पर बंद हुआ था.

शेयरों का हाल
सेंसेक्‍स की बात करें तो कारोबार के अंत में इन्‍फोसिस 1.44% बढ़त के साथ बंद हुआ जबकि महिंद्रा एंड महिंद्रा के शेयर में 1.07% का इजाफा हुआ. इसके अलावा टीसीएस, पावर ग्रिड, ओएनजीसी, एनटीपीसी और कोटक बैंक के शेयर भी बढ़त के साथ बंद हुए. वहीं सबसे ज्‍यादा गिरावट यस बैंक के शेयर में देखने को मिली. यस बैंक के शेयर 2.66 % फीसदी लुढ़के जबकि बजाज फाइनेंस, वेदांता, टाटा मोटर्स के शेयर में भी 2 फीसदी से ज्‍यादा की फिसलन रही. रिलायंस, एसबीआईएन, एशियन पेंट, हीरो मोटोकॉर्प और एक्‍सिस बैंक के शेयर 1 फीसदी या उससे अधिक टूट गए.

रुपये में फिसलन
सप्‍ताह के पहले दिन आयातकों एवं बैंकों की ओर से अमेरिकी मुद्रा की मांग आने से रुपया शुरुआती कारोबार में 37 पैसे लुढ़क कर 69.60 रुपये प्रति डॉलर पर आ गया. इससे पहले शुक्रवार को रुपया 6 पैसे गिरकर 69.23 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ था. बाजार के जानकारों का कहना है कि अमेरिका में रोजगार के बेहतर आंकड़ों और वैश्विक बाजार में कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों से रुपये पर दबाव रहा. हालांकि, निरंतर विदेशी पूंजी निवेश और घरेलू शेयर बाजारों की शुरुआती बढ़त ने रुपये की गिरावट को थामने का प्रयास किया.

सोना 425 रुपये महंगा
सोमवार को दिल्ली बुलियन बाजार में सोना 425 रुपये की बढ़त के साथ 33,215 रुपये प्रति दस ग्राम पर पहुंच गया. वहीं चांदी भी 170 रुपये की बढ़त के साथ 38,670 रुपये प्रति किलोग्राम पर पहुंच गई. कारोबारियों के मुताबिक वैश्विक बाजारों में मजबूती के रुख तथा स्थानीय आभूषण विनिर्माताओं की मांग बढ़ने से पीली धातु की कीमतों में तेजी आई.

Print Friendly, PDF & Email
Translate »