ब्रेकिंग न्यूज़

Category: आलेख

Total 10 Posts

11 जनवरी पुण्य तिथि पर विशेष : किसान को भी जवान के बराबर मानते थे शास्त्री जी

  लाल बहादुर शास्त्री का जन्म 2 अक्टूबर 1904 को उत्तर प्रदेश के वाराणसी से सात मील दूर रेलवे टाउन मुगलसराय में हुआ था। उनके पिता एक स्कूल शिक्षक थे।

23 दिसम्बर जन्मदिवस : चौधरी चरण सिंह महान व्यक्तित्व के गौरव थे

23 दिसम्बर 1902 का वह दिन एैतिहासिक था जबकि पिता चौधरी मीर सिंह माता श्रीमती नेमी देवी के घर में ग्राम भटौना जिला बुलन्दशहर उ0प्र0 में चरण सिंह नामक बच्चे

गोवा मुक्ति आंदोलन के प्रखर सेनानी थे डॉ लोहिया

गोवा मुक्ति दिवस प्रति वर्ष 19 दिसम्बर को मनाया जाता है। भारत को 1947 में आजादी मिल गई थी, लेकिन इसके 14 साल बाद भी गोवा पर पुर्तगाली अपना शासन

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने कराई थी यशस्वी कवि प्रभाकर माचवे की शादी

नयी दिल्ली। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने हिन्दी एवं मराठी के प्रख्यात लेखक एवं तारसप्तक के यशस्वी कवि प्रभाकर माचवे की शादी अपने आश्रम की एक अनाथ लडकी से कराई थी

6 दिसंबर पुण्यतिथि पर विशेष : आधुनिक भारत के निर्माता- बाबाभीमराव अंबेडकर

बाबा साहव डा. भीमराव अंबेडकर दलितों के अभिमन्यु संविधान केबास्तुकार और युग निर्माता थे।डा. अंबेडकर का जन्म14अप्रैल1891में आधुनिक मध्य प्रदेश के मऊ नामक स्थान पर हुआ था । महार परिवार

14 नवंबर, बाल दिवस : बच्चों के चाचा-जवाहर लाल नेहरू

जवाहर लाल नेहरू के128वीं जन्म दिवस पर विशेष बच्चें हर देश काभविष्यऔर उसकी तस्वीर होते हैं। बच्चे ही किसी देश के आने वाले भविष्य को तैयारकरते हैं। लेकिन भारत जैसे

31 अक्टूबर जयन्ती पर विशेष : आधुनिक भारत के शिल्पी थे सरदार पटेल

भारत के विकास में सरदार वल्लभभाई पटेल के महत्व को सैदव याद रखा जायेगा। भारत के राजनीतिक इतिहास में सरदार पटेल के योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता। वे

पुण्य तिथि पर विशेष (31 अक्टूबर) : पहली महिलाप्रधानमंत्री औऱ आयरन लेडी ‘इंदिरा गांधी’

भारत में हरितक्रांति और गरीबी उनमुलन के प्रणेता आयरन लेडी इंदिरागांधी का जन्म देश के एक आर्थिक एंव बैध्दिक रुप से सभ्रांत परिवार में पं. जवाहरलाल नेहरु के घऱ में

गांधी और शास्त्री के आदर्श आज भी प्रासंगिक

आजादी के 71 वर्षों के बाद नई पीढ़ी के मन में यह प्रश्न उठना स्वाभाविक है कि देश को शांति और अहिंसा के मार्ग पर ले जाने वाले गाँधी और

राष्ट्रकविः रामधारी सिंह दिनकर

जन्मः  23 सितम्बर 1908 देहान्तः  24 अप्रैल 1974 आधुनिक हिंदी काव्यजगतमें राष्ट्रीय सांस्कृतिक चेतना का शंखनाद करने वाले तथा युग चारण नाम से विख्यातवीर रस के कवि रुप में स्थापित

Translate »
Skip to toolbar