ब्रेकिंग न्यूज़

असली मालिक का पता न चलने की वजह से युपी पुलिस ने कुत्ते को किया गिरफ्तार

इन दिनों यूपी पुलिस जानवरों की गिरफ्तारी को लेकर खूब सुर्खियां बटोर रही है. अभी कुछ दिन पहले जालौन जिले में गधों को गिरफ्तार करने और फिर जमानत पर रिहा करने का मामला मीडिया और सोशल मीडिया पर छाया रहा. ऐसा ही कुछ मामला बदायूं से सामने आया है, जहां दो दावेदारों के झमेले में फंसे कुत्ते को हवालात की हवा खानी पड़ रही है.

दरअसल, एक कुत्ते पर दो लोगों ने अपना दावा ठोक दिया. बात इतनी बढ़ी की मामला पुलिस तक पहुंच गया. एक कुत्ते के दो मालिक होने और किसका दावा सच और किसका झूठ, इसका फैसला न हो पाने पर पुलिस ने कुत्ते को गिरफ्तार कर हिरासत में ले लिया है. फिलहाल इस बात की जांच की जा रही है कि आखिर कुत्ते का मालिक कौन है.

बदायूं के थाना सिविल लाइंस क्षेत्र के मोहल्ला महाराजगंज में एक व्यक्ति दीपावली के आसपास बरेली से लेब्राडोर प्रजाति का कुत्ता लाया था. एक दिन कुत्ता घर से बाहर निकला और फिर नहीं लौटा. गुरुवार को मोहल्ले में ही एक पड़ोसी की छत पर उसने जब कुत्ता देखा तो उसका नाम लेकर बुलाया.

अपना नाम सुनते ही कुत्ता उसके पास आ गया. इस बीच कुत्ते का दूसरा मालिक भी आ गया. दोनों ही लोग कुत्ते पर अपनी दावेदारी ठोकने लगे. मामला इतना बढ़ा कि बात पुलिस तक जा पहुंची. पुलिस कुत्ते और दोनों मालिकों को थाने ले आई. लेकिन कुत्ता किसका है यह गुत्थी पुलिस भी नहीं सुलझा पाई. जिसके बाद पुलिस ने कुत्ते को गिरफ्तार कर लिया और थाने में बैठा दिया. दोनों मलिकों से कहा कि जांच पूरी होने तक कुत्ता थाने में ही रहेगा. अब कुत्ता पुलिस की कस्टडी में है, लेकिन अभी तक यह तय नहीं हो पाया है कि इसका असली मालिक कौन है.

वहीं सीओ सिटी वीरेन्द्र कुमार सिंह का कहना है कि एक कुत्ते का प्रकरण आया है. उस कुत्ते पर दो लोग अपना दावा कर रहे हैं. पुलिस मामले की जांच कर रही है. फिलहाल कुत्ता थाने में है, जांच के बाद जिस व्यक्ति की दावेदारी सही होगी, कुत्ता उसे सौंप दिया जाएगा.

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Translate »
Skip to toolbar