ब्रेकिंग न्यूज़

INDvsSA: पांड्‍या शतक चूके, भारत की पहली पारी 209 पर सिमटी

केपटाउन। हार्दिक पांड्‍या शतक चूके, लेकिन उनके 93 रनों की मदद से भारत शनिवार को पहले टेस्ट मैच में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सम्मानजनक स्कोर बना पाया। द. अफ्रीका के पहली पारी के 286 रनों के जवाब में भारत की पहली पारी 73.4 ओवरों में 209 रनों पर सिमटी। इस तरह मेजबान टीम को पहली पारी में 77 रनों की महत्वपूर्ण बढ़त मिली।

भारत ने दूसरे दिन सुबह 28/3 से आगे खेलना शुरू किया। दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाजी आक्रमण का पुजारा और रोहित ने संयम के साथ सामना किया। पहले एक घंटे के खेल में इन्होंने मात्र 18 रन जोड़े। भारत को दिन का पहला झटका रबाडा ने दिया जब उन्होंने रोहित को एलबीडब्ल्यू किया।

रोहित को अंपायर ने आउट दिया, जिस पर भारतीय बल्लेबाज ने रिव्यू लिया लेकिन फैसला उनके खिलाफ ही रहा। भारत की उम्मीदें अब चेतेश्वर पुजारा पर टिक गई थी, लेकिन वे बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहे। पुजारा 26 रन बनाकर फिलेंडर की गेंद पर दूसरी स्लिप में प्लेसिस को कैच थमा बैठे। अश्विन 12 रन बनाकर फिलेंडर की गेंद पर विकेटकीपर डी कॉक को कैच थमा बैठे। डेल स्टेन ने रिद्धिमान साहा को खाता भी नहीं खोलने दिया, साहा उनकी गेंद पर एलबीडब्ल्यू हुए।

हार्दिक पांड्‍या ने विकट परिस्थिति में भी जबर्दस्त प्रदर्शन किया और 46 गेंदों पर 10 चौकों की मदद से फिफ्टी पूरी की। 92/7 की विषम स्थिति के बाद हार्दिक पांड्‍या को भुवी का साथ मिला और दोनों ने 99 रनों की महत्वपूर्ण भागीदारी कर स्कोर को सम्मानजनक बनाया। इस साझेदारी के दौरान भुवी ने पांड्‍या का जमकर साथ दिया। वे 25 रन बनाकर मॉर्केल की गेंद पर विकेटकीपर डी कॉक को कैच थमा बैठे। इसके बाद पांड्‍या भी शतक से चूके और 93 के स्कोर पर रबाडा की बाउंसर पर विकेटकीपर डी कॉ को कैच थमाकर पैवेलियन लौटे। उन्होंने 95 गेंदों का सामना कर 14 चौकों और 1 छक्के की मदद से ये रन बनाए।

रबाडा ने जसप्रीत बुमराह को एल्गर के हाथों झिलवाकर भारत की पारी का अंत किया। वर्नोन फिलेंडर ने 33 रनों पर 3 और रबाडा ने 34 रनों पर 3 विकेट लिए। स्टेन ने 51 रनों पर 2 और मॉर्केल ने 57 रनों पर 2 विकेट झटके।

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Translate »
Skip to toolbar