ब्रेकिंग न्यूज़

व्यापारी से 45 लाख लूटने वाला टैक्सी चालक तीन साथियों सहित काबू

फरीदाबाद। बल्लभगढ़ के व्यापारी के 45 लाख रुपए लेकर फरार होने वाले टैक्सी ड्राईवर के तीन साथियों को अपराध शाखा सेक्टर-30 पुलिस ने गिरफ्तार करके 38 लाख 20 हजार 650 रुपए की बरामदगी की है। पकड़े गए आरोपियों की पहचान मुकेश पुत्र नेम सिंह निवासी बृृज थाना राया मथुरा यूपी, सतबीर पुत्र सिरीया निवासी मितरोल मोहल्ला नरु थाना सदर पलवल व  कमल सिंह उर्फ गोला पुत्र मोहन सिंह निवासी संजय कालोनी मुजेसर के रुप में हुई है। गौरतलब है कि बल्लभगढ़ के एक व्यापारी पंकज ने फोन करके एक टैक्सी ड्राईवर को बताया कि उसे 26 जनवरी को दिल्ली जाना है। गाड़ी ले जाना है, यह व्यापारी पहले भी कई बार इस टैक्सी ड्राईवर को दिल्ली लेकर जाता रहा है। व्यापारी पंकज ने टैक्सी ड्राईवर को बताया था कि कुछ पैसे दिल्ली लेकर चलना है। टैक्सी ड्राईवर राजेश को पता था कि पंकज कई बार पैसे लेकर दिल्ली जाता है।

व्यापारी से 45 लाख लूटने वाला टैक्सी चालक तीन साथियों सहित काबू

टैक्सी ड्राईवर के मन में लालच आ गया और उसने रुपये उड़ाने की योजना बनाई और इसमें उसने अन्य तीन साथी लोगों को वारदात को अंजाम देने के लिए शामिल किया। ड्राईवर राजेश ने अपनी गाडी को ओला कम्पनी में लगा रखा था। जैसे ही पंकज गाडी के अंदर रुपयों से भरा बैग लेकर बैठा तो ड्राईवर ने तुरन्त अपनी गाड़ी का जीपीएस सिस्टम बंद कर दिया था। पंकज और उसका साथी किराये की गाडी से दिल्ली के लिए निकल पडें, जब वो बडखल के पास पहुचें तो ड्राईवर राजेश ने योजनानुसार पंकज को गाडी में कुछ तकनीकी खराबी आ जाने की बात कही और स्वंय गाड़ी का बोन्ट चैक करने का ढोंग रचा और फिर कहा कि गाडी स्टार्ट नही हो रही है आप नीचे उतर कर गाडी को धक्का लगा दीजिए। शिकायतकर्ता पकंज व उसका साथी जैसे ही गाडी को धक्का लगाने के लिए उतरे और धक्का लगाने लगे तो आरोपी ड्राईवर राजेश उनका रुपयों से भरा बैग लेकर भाग गया। पुछताछ पर पकडे गये तीनों आरोपीयों ने बताया कि वारदात को अंजाम देनें के लिए हम राजेश के कहे अनुसार गाडी के पीछे-पीछे मोटरसाईकिल पर चल रहे थे। जैसे ही राजेश ने सवारियों को नीचे उतारा वो गाडी लेकर भाग गया। हम चारो बाईपास रोड पर मिले और शिकायतकर्ता का फोन व सिम कार्ड पैसे लूटने के बाद  सै0 17 बाईपास रोड पर फैक दिया था और मोबाइल फोन बंद कर लिए थे। आरोपियों से वारदात में प्रयुक्त मोटरसाइकिल को भी बरामद कर लिया। आरोपियों को अदालत में पेश किया, जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया।

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Translate »
Skip to toolbar