ब्रेकिंग न्यूज़

कैब से यात्रा करने वाले सावधान, कहीं महंगी न पड़ जाए सवारी

बढ़ते ट्रैफिक को देखते ही सरकार सार्वजनिक वाहनों से चलने की अपील करती है. इस वजह से लोग आजकल यात्रा के लिए कैब का इस्तेमाल करने लगे हैं. लेकिन यही शेयर सवारी लोगों की चूक की वजह से उन्हें कई बार महंगी पड़ जाती है. दिल्ली पुलिस के ओखला थाने की टीम ने ऐसे ही एक गैंग को पकड़ा है, जो लोगों को शेयरिंग में सस्ते किराया का झांसा देकर गाड़ी में बिठाते और रास्ते मे मौका देखकर उससे कैश, मोबाइल, लैपटॉप आदि लूट लेते थे.

डीसीपी चिन्मय विस्वाल ने बताया कि एसीपी आनंद मित्तल और एसएचओ मुकेश वालिया की टीम ने गैंग के तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया है. इनके पास से सवारी से लूटा गया मोबाइल, लैपटॉप, एटीएम कार्ड और कैश बरामद किया गया है. गिरफ्तार किए गए बदमाशों में एक दिल्ली यूनिवर्सिटी का बीकॉम सकेंड ईयर का स्टूडेंट भी है. जो इस ग्रुप में बाकी साथियों के साथ मिलकर लूट पाट करता था. इसमें रेहान, रंजन और रवि शंकर नामक आरोपी शामिल हैं.

सभी आरोपी साऊथ ईस्ट डिस्ट्रिक्ट के जैतपुर थाना इलाके के रहने वाले हैं. इन्होंने हाल में ही ऐसे ही एक वारदात को अंजाम दिया था. बदरपुर निवासी कौशल कुमार शर्मा 19 जनवरी को इंडियन ओवरसीज बैंक से काम निपटा कर जब घर लौट रहे थे तभी रात में करीब सवा 8 बजे इन बदमाशों ने अपनी कार में लिफ्ट दिया था. कार में बिठाने के बाद 300 मीटर आगे जाते ही इन्होंने कौशल को पकड़ लिया. उससे लूटपाट करने के बाद गाड़ी से उतारकर फरार हो गए.

इस मामले की शिकायत मिलने पर मामला दर्ज कर जांच शुरू की गई और एक एक कर तीनों को पकड़ा गया. एक आरोपी रेहान दो महीने पहले से कैब चला रहा था. वह वारदात को अंजाम देकर नौकरी छोड़ देता है. इनसे कई मामलों का पता चल सकता है. पुलिस के मुताबिक़ पकड़े गए आरोपी लग्जरी लाइफ स्टाइल जीने के लिए इस तरह की वारदात को अंजाम दिया करते थे. इनके कब्जे से एक अपाची मोटरसाइकिल, 1 बुलेट, 1 कार, लैपटॉप, मोबाईल बरामद हुआ.

आरोपियों के पास से बरामद हुई बाइक पर एक स्टिकर लगा हुआ था. उस पर इंग्लिश में लिखा था, Made Like Gun यानी बंदूक की तरह बना दिया. पुलिस की माने तो ये लोग बढ़िया जिंदगी जीने के लिये वारदात किया करते थे. इनके निशाने पर खास तौर पर वो लोग हुआ करते थे, जो सड़क किनारे खड़े होकर बस का इंतज़ार किया करते थे. ये लोग सवारी को कार में शेयरिंग का झांसा देकर बिठाते और आगे जाकर लूटपाट करके उन्हें रास्ते मे उतार कर फरार हो जाते.

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Translate »
Skip to toolbar