ब्रेकिंग न्यूज़

पीएम मोदी ने किया नए पार्टी मुख्यालय का उद्घाटन, अशोका रोड से बदलकर दीन दयाल उपाध्याय मार्ग होगा नया पता

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी ने रविवार को राजधानी में भाजपा के नए मुख्यालय का शुभारंभ किया। अत्याधुनिक संचार तकनीक से युक्त यह दफ्तर बहुमंजिला इमारत की शक्ल में बना है। इसके साथ ही अब पार्टी के नए मुख्यालय का पता अशोका रोड से बदलकर दीन दयाल उपाध्याय मार्ग हो गया।
पीएम मोदी ने अमित शाह और उनकी टीम को बधाई देते हुए कहा कि भवन के साथ भूमिका और भावी योजनाएं तैयार हैं। तय समय सीमा में कार्यालय का निर्माण किया गया। सभी राजनीतिक दलों के अपने-अपने तरीके हैं। बहुदल व्यवस्था लोकतंत्र की खूबसूरती है। भाजपा ने राष्ट्रभक्ति के आंदोलन का नेतृत्व किया। हमारे सोचने और काम करने के तरीके में लोकतंत्र है। जनसंघ ने देश के हर हिस्से में दल बनाएं।
उन्होंने आगे कहा कि हमारी पार्टी राष्ट्रभक्ति के रंग में डूबी हुई है। भारत की सीमाएं हमारे कार्यालय की सीमाएं हैं। हम सबको साथ लेकर आगे बढ़ रहे हैं। भाजपा और जनसंघ ने देश के लिए आंदोलन किए। क्षेत्रीय दलों संग भाजपा ने एनडीए का प्रयोग किया।
बता दें कि इस दौरान भाजपा के दिग्गज नेता लालकृष्ण आडवाणी, राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, राजनाथ सिंह और पीयूष गोयल भी कार्यक्रम में पहुंचे।
अमित शाह ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि देखने में यह छोटा कार्यक्रम है लेकिन भाजपा के लिए बड़ा दिन है। अमित शाह ने भाजपा के नए मुख्यालय कि विशेषताओं के बार में बताया। उन्होंने कहा कि यह देश की सबसे बड़ी पार्टी का सबसे बड़ा मुख्यालय है। देश भर से पेड़ लाकर यहां लगाए गए हैं।
पार्टी के कामों को 19 विभागों में बांटा गया है। मुख्यालय 14 महीनों में बनकर तैयार हुआ। मुख्यालय में 70 कमरे हैं। मुख्यालय 1 लाख 70 हजार स्कवॉयर फीट में फैला है। 7 मंजिला इमारत में 3 ब्लॉक है। उन्‍होंने कहा कि प्रदेश की कार्यकारिणी और वीडियो कॉन्‍फ्रेंस के जरिये बैठक हो सकती है।
भाजपा पहली बड़ी राष्ट्रीय पार्टी बन गई, जिसका दफ्तर लुटियंस बंगला क्षेत्र के बाहर हो जाएगा। ज्ञात हो कि सुप्रीम कोर्ट ने सभी दलों के दफ्तर लुटियंस क्षेत्र से बाहर ले जाने का निर्देश दिया है। भाजपा के अपना मुख्यालय अन्यत्र ले जाने से अन्य दलों पर भी ऐसा करने का दबाव पड़ सकता है। बता दें कि सभी दल दशकों से लुटियन जोन के बंगलों में अपना कार्यालय चला रहे हैं।

8000 वर्ग मीटर में बना है मुख्यालय –
भाजपा का नया मुख्यालय करीब 8000 वर्ग मीटर में फैला हुआ है। नए ऑफिस को बनाने में करीब डेढ़ साल का समय लगा। यह मुख्यालय आधुनिक सुविधाओं से पूरी तरह लैस है। यहां सभी प्रवक्ताओं के लिए ग्राउंड फ्लोर पर ही चैंबर बनाया गया है। नए मुख्यालय में 2 बेंसमेंट भी बनाए गए हैं। टॉप फ्लोर पार्टी अध्यक्ष और उनके साथ काम करने वाले लोगों के लिए सुरक्षित रखा गया है। इसके साथ ही ग्राउंड फ्लोर पर भी 1 रुम अमित शाह के लिए रखा गया है।

मु्ख्यालय में बनाई गई है लाइब्रेरी –
दूसरे और तीसरे फ्लोर पर पार्टी के जनरल सेक्रेटरी और उपाध्यक्ष के लिए केबिन बनाए गए हैं। हर फ्लोर पर एक मीटिंग रूम भी बनाया गया है। पार्टी कि विचारधारा को पढ़ने और समझने के लिए चौथे फ्लोर पर एक लाइब्रेरी भी बनाई गई है। इस लाइब्रेरी में देश-दुनिया के इतिहास से जुड़ी कई पुस्तकें उपलब्ध होंगी।

सभी केबिन को पारदर्शी रखा गया है –
मीडिया के लिए मुख्यालय के ग्राउंड फ्लोर पर ही प्रेस कॉन्फ्रेंस के लिए व्यवस्था की गई है। मुख्यालाय के दोनों बेसमेंट में पार्किंग के अलावा पार्टी का एक सेल कॉउंटर भी रहेगा। इस पार्किंग में करीब 270 गाड़ियों को पार्क किया जा सकता है। मुख्यालय में सुरक्षा की दृष्टि से पूरे कैंपस में CCTV लगाये गए हैं। बीजेपी के मुख्यालय की खास बात ये हैं कि सभी फ्लोर्स पर सभी केबिन को पारदर्शी (शीशे वाला) रखा गया है। केवल पार्टी प्रेजिडेंट के केबिन को छोड़ कर बाकि सभी पदाधिकारी और पूरे स्टॉफ के केबिन पारदर्शी रखे गए हैं।

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Translate »
Skip to toolbar