ब्रेकिंग न्यूज़

एशियन गेम्स में वेट लिफ्टर अजयसिंह शेखावत

झुंझुनू। राजस्थान में झुंझुनू जिले के खुड़ौत ग्राम के अंतरराष्ट्रीय वेट लिफ्टर अजयसिंह शेखावत 18 अगस्त से जकार्ता में होने वाले 18वें एशियन गेम्स के वेट लिफ्टिंग मुकाबलों में 77 किलोग्राम भार वर्ग में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। महाराणा प्रताप अवार्ड से सम्मानित वेट लिफ्टर अजयसिंह शेखावत ने एशियन गेम्स के लिए क्वालीफाई कर लिया है। वे इसके लिए पंजाब के पटियाला में तैयारी कर रहे थे। पिछले वर्ष मंगलौर में हुए सीनियर नेशनल वेट लिफ्टिंग मुकाबलों में उन्होंने दो स्वर्ण और एक रजत पदक जीतकर प्रदेश और जिले को गौरवान्वित किया था। इससे पहले वे गुवाहाटी में हुए सैफ खेल व जूनियर कॉमनवेल्थ गेम्स में भी स्वर्ण पदक जीत चुके हैं।
अजयसिंह ने 20 साल की उम्र में अब तक नेशनल और इंटरनेशनल लेवल पर 13 मैडल जीत लिए है। मैडल का सिलसिला 2012 में शुरू हुआ। छ: सालों में यह सारी उपलब्धि हासिल की है। उनके पिता रिटायर्ड सूबेदार मेजर ऑनररी लेफ्टिनेंट धर्मपालसिंह ने बताया कि अजयसिंह की पढ़ाई आर्मी स्पोट्र्स इंस्टीट्यूट पुणे में हुई। दसवीं तक पढ़ाई करने के बाद अजयसिंह ने दिल्ली से प्राइवेट सीनियर की और अब ग्रेजुएशन भी प्राइवेट कर रहा है। वेट लिफ्टिंग का क्षेत्र चुनने के बाद अजयसिंह ने कभी पीछे मुडक़र नहीं देखा और 2015 से लेकर अब तक अंतरराष्ट्रीय स्तर पर छह मैडल जीत चुका है। वहीं राष्ट्रीय स्तरीय प्रतियोगिताओं में भी सात मैडल जीत चुका है। अन्य प्रतियोगिताओं में तो उसने अपना दमखम सर्वश्रेष्ठता के साथ कई बार दिखा दिया।
अजयसिंह के मेडलों की कहानी अभी भी जारी है और लगता नहीं कि आने वाले सालों में भी रूकेगी। अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं की बात करें तो 2015 में कॉमन वेल्थ गेम्स पुणे में हुए थे। जहां पर अजयसिंह ने रजत पदक जीता था। इसके बाद 2016 में दो पदक जीते। गुवाहटी में हुई साउथ एशियन चैंपियनशिप में गोल्ड और मलेशिया में हुई कॉमनवैल्थ चैंपियनशिप में भी गोल्ड मैडल जीता। यही नहीं इस प्रतियोगिता के सीनियर और जूनियर वर्ग में बेस्ट लिफ्टर का पुरस्कार भी अजयसिंह को मिला। इसी तरह 2017 में चार मैडल जीत चुके है। एशियन चैंपियनशिप जुलाई 2017 में नेपाल में हुई थी। जहां पर तीन कांस्य पदक जीते। आस्ट्रेलिया में गोल्ड मैडल जीता। उनकी इस उपलब्धी पर परिजनों और खेलप्रेमियों ने मिठाई बांटकर प्रसन्नता जताई।

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Translate »
Skip to toolbar