ब्रेकिंग न्यूज़

भारतीय एक्ज़िम बैंक का ब्रिक्स आर्थिक शोध पुरस्कार 2018 घोषित

मु॑बई। भारतीय निर्यात-आयात बैंक (एक्ज़िम बैंक) का आर्थिक शोध पुरस्कार 2018 डॉ. ज़ेली ही को मिला। उन्हें यह पुरस्कार ‘अंतरराष्ट्रीय व्यापार, कल्याण और असमानता पर आलेख’ शीर्षक वाली उनकी डॉक्टोरल थीसिस के लिए मिला है। पुरस्कार दक्षिण अफ्रीका के केपटाउन में आयोजित 8वीं वार्षिक ब्रिक्स वित्तीय फोरम के दौरान 25 जुलाई, 2018 को प्रदान किया गया। इसकी मेजबानी डेवलपमेंट बैंक ऑफ सदर्न अफ्रीका ने की। पुरस्कार स्वरूप 15 लाख रुपए (करीब 23,000 यूएस डॉलर), पदक और प्रशस्ति पत्र प्रदान किया जाता है। विजेता को यह पुरस्कार डेवलपमेंट बैंक ऑफ सदर्न अफ्रीका के उपाध्यक्ष श्री फ्रांज़ बालेनी ने प्रदान किया। इस दौरान ब्रिक्स के सदस्य विकास बैंकों अर्थात ब्राजील के बीएनडीईएस; रूस के वेनेश्कोनॉम बैंक; और चाइना डेवलपमेंट बैंक के शीर्ष अधिकारी उपस्थित रहे। इस अवसर पर डॉ. ही की पुरस्कृत थीसिस पर आधारित एक्ज़िम बैंक के प्रासंगिक आलेख का भी विमोचन किया गया।
पुरस्कृत थीसिस
डॉ. ज़ेली ही ने कोलंबिया यूनिवर्सिटी, यूएसए से 2017 में अपनी डॉक्टोरल डिग्री हासिल की थी। वह फिलहाल पेन-वॉर्टन पब्लिक पॉलिसी इनिशिएटिव, यूएसए में अर्थशास्त्री के रूप में कार्यरत हैं।
ब्रिक्स आर्थिक शोध पुरस्कार
वर्ष 2016 में ब्रिक्स फोरम की अध्यक्षता भारत ने की थी और उसी साल ब्रिक्स अंतरबैंक सहयोग तंत्र की अध्यक्षता एक्ज़िम बैंक द्वारा की गई। मार्च 2016 में ही एक्ज़िम बैंक द्वारा ब्रिक्स आर्थिक शोध पुरस्कार की स्थापना की गई थी। इस पुरस्कार का उद्देश्य ब्रिक्स सदस्य देशों के लिए अर्थशास्त्र संबंधी प्रासंगिक शोध को बढ़ावा और प्रोत्साहन देना है।
ब्रिक्स आर्थिक शोध पुरस्कार अंतरराष्ट्रीय अर्थशास्त्र, व्यापार और विकास तथा संबंधित वित्तपोषण के क्षेत्र में शोध को बढ़ावा देने के एक्ज़िम बैंक के प्रयासों को बढ़ाने की दिशा में एक और कदम है। पुरस्कार के लिए ब्रिक्स देशों के नागरिकों द्वारा लिखी गई ऐसी डॉक्टोरल थीसिस प्रविष्टि के रूप में स्वीकार की जाती हैं, जिन्हें किसी भी प्रतिष्ठित वैश्विक विश्वविद्यालय से डॉक्टरेट की उपाधि दे दी गई है या डॉक्टरेट के लिए उन्हें स्वीकार कर लिया गया है। इस पुरस्कार संबंधी सूचना वैश्विक स्तर पर प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के जरिए प्रसारित की गई थी।

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Translate »
Skip to toolbar