ब्रेकिंग न्यूज़

15 वीं “ एवरीथिंग अबाउट वाटर ” एक्सपो और कॉन्क्लेव 2018

नई दिल्ली। 15 वें एवरीथिंग अबाउट वाटर एक्सपो के लॉन्च की घोषणा की गई है, यह एक्सपो दक्षिण एशिया का सबसे बड़ा जल एक्सपो होगा और भारत में सबसे अद्वितीय और व्यापक वार्षिक जल कार्यक्रमों में से एक होगा जो पानी और अपशिष्ट जल प्रबंधन क्षेत्र में नवीनतम तकनीकों का प्रदर्शन करेगा। सेंट्रल ग्राउंड वॉटर बोर्ड, एसोचैम, टीईआरआई, एमडब्ल्यूआरआरए और दिल्ली जल बोर्ड के समर्थन द्वारा, दुनिया भर के विशेषज्ञों को आज के चुनौतियों पर चर्चा करने के लिए एक ऐसे मंच को ला रहा है, जो भारत आज सामना कर रहा है और टिकाऊ समाधान ढूंढ सकता है। यह अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन 23 अगस्त से 25 अगस्त तक प्रगति मैदान, नई दिल्ली में आयोजित किया जा रहा है। इस एक्सपो में जल की कमी और ग्राउंड वॉटर क्वालिटी, पीने की पानी की आवश्यकता और सामुदायिक पेयजल, अपशिष्ट जल पुनः उपयोग और रीसाइकिं्लग के विकास और सागर जल विलुप्त होने जैसे विषयो पर विशेष ध्यान दिया जायेगा।
कृषि और पीने योग्य क्षेत्रों में पानी की बढ़ती खपत के साथ, 2025 तक भारत को गंभीर पानी की समस्या होने की उम्मीद है। तेजी से औद्योगिकीकरण और बढ़ती आबादी ने पानी की मांग-आपूर्ति के अंतर को बढ़ा दिया है, जो केंद्रीय और राज्य सरकार दोनों के लिए गहरी चिंता का विषय हैं। नीति आयोग की एक हालिया रिपोर्ट में, यह पता चला है कि भारत जल संकट का सामना कर रहा है। रिपोर्ट में यह भी उल्लेख किया गया है कि वर्तमान में आवश्यक कदम नहीं उठाए जाने पर पानी की मांग 2030 तक पानी की आपूर्ति से आगे निकल जाएगी। एक बेहतर भविष्य के लिए, हमें आज सोचना शुरू करना होगा।
एक्सपो मुख्य आकर्षणः
1. 25 देशों से 300 से अधिक प्रदर्शकों के साथ दक्षिण एशिया का सबसे बड़ा जल कार्यक्रम
2.15000 से अधिक व्यवसाय आगंतुकों और 1000 सम्मेलन प्रतिनिधियों
3.200 उपयोगिता से 200 से अधिक उच्च प्रोफ़ाइल सरकारी अधिकारी
4. जल क्षेत्र में किए गए उत्कृष्ट काम को स्वीकार करने के लिए हॉल ऑफ फेम अवॉर्ड्स
5.चीन, ताइवान और यूरोप जैसे विशिष्ट देश मंडप
6.एक्वा कैरियर- स्पॉट जॉब के लिए जॉब फेयर पानी में अंतरराष्ट्रीय कंपनियों से ऑफर करता है
7.अभिनव उत्पादों को प्रदर्शित करने के लिए नया उत्पाद लॉन्च जोन
मुख्य अतिथिः
1. वाटर मैन ऑफ़ इंडियाः श्री राजेंद्र सिंह (सम्मान के अतिथि)
2.अध्यक्ष, केंद्रीय भूमि जल बोर्डः श्री के.सी.एचक (सम्मान के अतिथि)
3.महानिदेशक, राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशनः श्री राजीव रंजन मिश्रा (अतिथि)
4.डॉ। सैयामल सरकार, निदेशक, जल संसाधन, टीईआरआई, पूर्व सचिव, जल संसाधन मंत्रालय

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Translate »
Skip to toolbar