ब्रेकिंग न्यूज़

अब डेयरी विभाग के दफ्तरों और प्रशिक्षण केन्द्रों में दूध की मुफ्त जांच करवाओ

विभाग लोगों को दूध की गुणवत्ता बारे कर रहा है जागरूक

लुधियाना। मिशन तंदरुस्त पंजाब के अंतर्गत पंजाब डेयरी विकास बोर्ड लोगों को सुरक्षित और शुद्ध दूध उपलब्ध करवाने के लिए वचनबद्ध है। अब पंजाब डेयरी विकास बोर्ड के कार्यालयों और प्रशिक्षण केंद्रों में कोई भी नागरिक सरकारी काम काज वाले दिन प्रात:काल 9बजे से 11 बजे के बीच दूध की जांच करवा सकता है। इस संबंधी जानकारी देते हुए डिप्टी डायरैक्टर डेयरी विभाग स. दिलबाग सिंह हांस ने बताया कि यह सुविधा जिला लुधियाना में डेयरी विभाग के दफ्तरों और प्रशिक्षण सेंटरों में लागू है और सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देष दिए जा चुके है कि अधिक से अधिक दूध के सैंपलों की जांच की जाए और इस की एक रिपोर्ट हैडक्वाटर को भेजी जाये। लुधियाना में डेयरी विभाग का दफ्तर 598 -एल, माडल टाऊन में है जहाँ इच्छुक व्यक्ति दूध की जांच करवा सकते हैं। उन्होंने कहा कि सम्बन्धित अधिकारियों को स्टेट फूड एंड ड्रग लैबारटरी में पहले ही दूध की जांच संबंधी प्रशिक्षण दिया जा चुका है। उन्होंने बताया कि विभाग की तरफ से गाँवों में जा कर लोगों को दूध व दूध से बने पदार्थ और अन्य पशुओं की देखभाल बारे संपूर्ण जानकारी दी जाती है। विभाग की तरफ से हर महीने दो सप्ताह का प्रशिक्षण पाठयक्रम भी करवाया जाता है, जिस में इच्छुक महिलाएं एंव मर्द हिस्सा ले सकते हैं और उसके बाद उन्हें सर्टिफिकेट भी दिए जाते हैं। उनहोने कहा कि इसके अलावा विभाग की तरफ से लगाए जा रहे कैंपों और सैमीनारों दौरान गुरू अंगद देव वैटरनरी और एनिमल साइंसेज यूनिवर्सिटी, लुधियाना और डेयरी विकास विभाग पंजाब के विषय माहिरों की तरफ से दूध और दूध पदार्थों संबंधी विभिन्न विषयो पर विस्तारपूर्वक जानकारी दी जाती है। जिसमें दूध जांच कैंपों, फूड सेफ्टी एक्ट, दूध के मानक और डेयरी फार्मिंग व्यवसाय के लिए पंजाब सरकार की तरफ से चलाईं जा रही स्कीमों बारे लोगों को बताया जाता है।स. हांस ने कहा कि डेयरी विभाग मिशन तंदरुस्त पंजाब के अंतर्गत जिला लुधियाना में लोगों को दूध की जांच, साफ सुथरा दूध उपलब्ध कराने और इसके लाभ व नुकसानों बारे जागरूक करने प्रति दृढ़ संकल्प है। उन्होंने लोगों से अपील की कि यदि उन्हें लगता है कि किसी भी जगह दूध या दूध पदार्थों में किसी तरह की मिलावट से हो रही है तो वह तुरंत उनके ध्यान में ला सकते हैं।

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Translate »
Skip to toolbar