ब्रेकिंग न्यूज़

वेब चेक इन सुविधा के लिए अब शुल्क वसूलेगी इं‎डिगो

 नई संशोधित नीति के तहत 14 नवंबर से नियम लागू
नई ‎दिल्ली। किफायती ‎किराए में हवाई सेवा उपलब्ध करने वाली इंडिगो अब ग्राहकों से वेब चेक इन सुविधा के लिए चार्ज वसूलना शुरू कर दिया है। एक नई संशोधित नीति के तहत 14 नवंबर, 2018 से यह नियम लागू हो गया है। इसके साथ ही वेब चेक-इन सुविधा का उपयोग करने वाले यात्री अब बिना ओवरहेड वाली सीटों का चयन नहीं कर सकते हैं। हालांकि, यात्री फ्री सीटों को चुनने के लिए एयरपोर्ट पर सेल्फ-चेक-इन कियोस्क का इस्तेमाल कर सकते हैं। इंडिगो के नियमों में इस बदलाव की कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की गई थी। एक यात्री ने जब ट्विटर पर इस मुद्दे को उठाया तब इंडिगो की यह नई नीति सामने आई। इंडिगो के ऑफिशियल हैंडल ने ट्विट किया ‎कि हमारी संशोधित नीति के अनुसार सभी वेब चेक-इन सुविधा के लिए सारी सीटों पर अब चार्ज लगेगा। हालांकि वैकल्पिक रूप से, आप हवाई अड्डे पर मुफ्त में चेक-इन कर सकते हैं। सीटें उपलब्धता के अनुसार सौंपी जाएगी।
जानकारी के मुताबिक लगभग हर बड़ी एयरलाइंस में अ‎ति‎रिक्त लेग स्पेस वाली और खिड़की के बगल वाली सीटों के लिए अतिरिक्त शुल्क वसूला जाता है। इंडिगो सीट के लेगरुम या फिर किनारे या विंडो सीट के आधार पर 200 रुपए से लेकर 600 रुपए के बीच शुल्क लेता है। ऑनलाइन चेक-इन प्रक्रिया फ्लाइट के प्रस्थान से 48 घंटे पहले शुरू होती है और 2 घंटे पहले तक चालू रहती है। घरेलू क्षेत्रों में उड़ान भरने वाले यात्री निर्धारित समय से एक घंटे पहले किसी भी समय वेब चेक-इन कर सकते हैं।

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Translate »
Skip to toolbar