ब्रेकिंग न्यूज़

द्वारका एक्सप्रेस-वे के लिए भूख हड़ताल

गुरुग्राम । खेड़की दौला टोल हटाने और द्वारका एक्सप्रेस-वे बनवाने के लिए गुरुवार से लोगों ने भूख हड़ताल शुरू कर दी है। टोल के पास ही पांच लोग मांगे पूरी होने तक आमरण अनशन पर बैठ गए हैं। उनका कहना है कि टोल हटाने और एक्स्प्रेसवे बनाने से कम कुछ भी बर्दाश्त नहीं है। द्वारका एक्सप्रेसवे वेलफेयर एसोसिएशन के नेतृत्व में १७५ सोसाइटी के लोग हड़ताल में शामिल हैं। खेड़की दौला के आसपास के १७ गांव के चेयरमैन राव अभय सिंह समर्थन में पहुंचे। उन्होंने समर्थन देकर भूख हड़ताल शुरू कराई। इसके बाद द्वारका एक्सप्रेस वे वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष याशीश यादव के नेतृत्व में ५ लोग भूख हड़ताल पर बैठ गए हैं। इनमें याशीश यादव के अलावा लोकेश यादव, कंचन जैन, बजरंग जैन और अमरेश मिश्रा शामिल हैं। याशीश ने कहा कि सरकार खेड़की दौला टोल हटने की तारीख बताए। इसके अलावा द्वारका एक्सप्रेस वे को खेड़की दौला टोल के पास जोड़ जाए। राष्ट्रीय राजमार्ग पर द्वारका एक्सप्रेस वे से सटी दीवार को तोड़ा जाए। इसके बाद ही भूख हड़ताल खत्म की जाएगी। राव अभय सिंह ने कहा कि २००७ में द्वारका एक्सप्रेस वे परियाजना की घोषणा की गई थी। इसके बाद से लेकर अभी तक ११ सालों से इसे किसी न किसी कारणों से लटकाया जा रहा है। किसी भी सरकार की नीयत इसे बनाने की नहीं है। उन्होंने कहा कि खेड़की दौला टोल जब बनाया जा रहा था। उसी वक्त इसका विरोध किया था। इसको लेकर सदन में प्रस्ताव भी पास किया गया था। इसके बावजूद इसे बना दिया। हरियाणा में द्वारका एक्सप्रेस वे बनकर लगभग तैयार है। हरियाणा-दिल्ली सीमा से लेकर राष्ट्रीय राजमार्ग तक चार जगह पर थोड़ा-थोड़ा हिस्सा अटका हुआ है। लेकिन थोड़ी बहुत परेशानी झेलकर वाहन इससे गुजरते हैं। लेकिन पिछले दिनों खेड़की दौला गांव में जिस प्लॉट से होकर रास्ता गुजर रहा है वहां पर गड्डा खोद दिया गया है। इस कारण अब वाहन यहां से गुजर नहीं पा रहे।

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Translate »
Skip to toolbar