National Hindi Daily Newspaper
Breaking News

अगले साल अप्रैल से सिंतबर के बीच कभी भी लागू हो सकता है जीएसटी: जेटली

जेटली ने शनिवार को फिक्की की सालाना आम बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि संविधान संशोधन के मुताबिक जीएसटी को एक अप्रैल से लेकर 16 सितंबर, 2017 के बीच किसी भी समय लागू किया जा सकता है

नई दिल्ली: देश में वस्तु एवं सेवा कर के लागू होने (1 अप्रैल, 2017) को लेकर पैदा हो रहे संदेह के बीच केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बताया कि जीएसटी लेनदेन से जुड़ा कर है और इसे वर्ष के दौरान किसी भी समय लागू किया जा सकता है। जेटली ने शनिवार को फिक्की की सालाना आम बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि संविधान संशोधन के मुताबिक जीएसटी को एक अप्रैल से लेकर 16 सितंबर, 2017 के बीच किसी भी समय लागू किया जा सकता है। आपको बता दें कि जीएसटी में केन्द्र और राज्यों में लगने वाले अप्रत्यक्ष करों को समाहित कर दिया जाएगा।  वित्त मंत्री ने बताया कि जीएसटी परिषद ने सभी 10 मुद्दों को सुलझा लिया है और केवल एक मुद्दा बचा है। यह मुद्दा कर प्रशासन के अधिकार से जुड़ा है। उन्होंने कहा, ‘यह कारोबार से जुड़ा कर है, आयकर नहीं है। लेनदेन से जुड़ा यह कर वित्तीय वर्ष के किसी भी हिस्से में लागू किया जा सकता है। इस लिहाज से इसे अमल में लाने की समयावधि संवैधानिक अनिवार्यता के मुताबिक 1 अप्रैल, 2017 से 16 सितंबर, 2017 के बीच है। उम्मीद है कि जितना जल्दी हम इसे करेंगे उतना ही यह इस नई कर प्रणाली के लिए अच्छा होगा।
संसद में जीएसटी से जुड़े संविधान संशोधन विधेयक के अगस्त में पारित होने के बाद सितंबर मध्य तक आधे से अधिक राज्य विधानसभाओं ने इसकी पुष्टि कर दी। वित्त मंत्री अरुण जेटली की अध्यक्षता वाली जीएसटी परिषद ने कई महत्वपूर्ण निर्णय लिये हैं। परिषद में राज्यों के वित्त मंत्री अथवा उनके प्रतिनिधि शामिल हैं।

 

Translate »
Skip to toolbar