ब्रेकिंग न्यूज़

प्रधान देव ग्रह सूर्य का तुला से वृश्चिक में गोचर

पं अंकित मारर्कण्डेय के मुताबिक 16 नवम्बर को सूर्य तुला राशि से वृश्चिक राशि मे गोचर करेंगे .

गोचर अवधि : 16 नवंबर 2017 को दोपहर 12:36 बजे से सूर्य वृश्चिक राशि में गोचर करेंगे जो 15 दिसंबर 2017 को तक स्थित रहेंगे । सूर्य के इस गोचर का प्रभाव आपकी राशि पर भी पडेगा। वेदों में सूर्य को जगत की आत्मा कहा गया है। सूर्य सृष्टि को चलाने वाले एक प्रत्यक्ष देवता का रूप हैं। नवग्रहों में सूर्य को राजा की उपाधि दी गई है। सूर्य के द्वारा ही सभी ग्रहों को प्रकाश मिलता है। ज्योतिषास्त्र के मुताबिक सूर्य देव आत्मा, स्वास्थ्य, उदारवादी जीवनशैली और पिता का प्रतिनिधित्व करते हैं। कुंडली में सूर्य को पूर्वजों का प्रतिनिधि भी माना जाता है। सूर्य प्रधान जातक उच्च पदों पर आसीन अधिकारी होते हैं।

वेदों में कहा गया है : पं अंकित मारर्कण्डेय के मुताबिक सूर्य उपासना के लिए वेदों में मंत्र है- “सूर्य आत्मा जगतस्तस्थुषश्च” जिसका अर्थ है सूर्य जगत की आत्मा है, क्योंकि सूर्य की ऊर्जा व रोशनी ही जगत में ऊर्जा व चेतना भरती है। पुराणों में भी सूर्य को ही जगत की उत्पत्ति का कारण मानते हुए सर्वोपरि ईश्वर माना गया है।

रविवार और सूर्य : रविवार का दिन सूर्य उपासना से जीवन को सुखी और सफल बनाने के लिए बहुत ही फलदायी माना गया है। शास्त्रों में सूर्य की उपासना यश, स्वास्थ्य, सम्मान, बुद्धि और धन देने वाली मानी गई है। ज्योतिष शास्त्रों के मुताबिक भी सूर्य की अनुकूलता इंसान को जीवन में अपार सुख-सौभाग्य और सफलता देती है।

सूर्य उपासना : से शक्ति, स्वास्थ्य, यश, सफलता कामना पूरी करने के लिए ही यहां बताया जा रहा है- सूर्य का वेदोक्त मंत्र। इसे सूर्य की प्रसन्नता के लिए यथासंभव स्वयं या किसी विद्वान ब्राह्मण से जप कराना बहुत ही सुखदायक फलदायी होता है-

मन्त्र ..ॐ
वेंदोक्त मन्त्र ..
आकृष्णेन् रजसा वर्तमानो निवेशयन्न अमृतंमर्त्यं च।
हिरण्ययेन सविता रथेना देवो याति भुवनानि पश्यन।।

मंत्र…
ॐ आदित्या नमः
ॐ घृणि: सूर्याय नम:
ॐ ह्रीं हौं सूर्याय नम

उपाय : जिस जातक की कुंडली मे सूर्य कमजोर है -प्रतिदिन या रविवार को सुबह स्नान कर जल से भरे कलश में लाल कुमकुम ,लाल फूल, लाल अक्षत डालकर सूर्य को अर्घ्य देते समय यह मंत्र बोलें। साथ ही कम से कम 108 बार इस मंत्र का जप सूर्य का ध्यान करते हुए करें। इस दिन रविवार का व्रत रख नमक त्यागना बहुत ही शुभ फल देता है

क्या करे ...
आदित्यह्र्दय स्त्रोत्र का पाठ करे
विष्णुशहस्त्र नाम पाठ करे

ये करे दान : सूर्य के लिए गेहूँ, ताँबा, घी, गुड़, लाल कपड़ा, कनेर के फूल, सोना, गाय-बछड़ा आदि का दान किया जाता है।

मेष : स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां जैसे बुख़ार, सिरदर्द आदि हो सकती हैं।विरोधियों का सामना करना पड़ सकता है। गलत संगत से बचें, अन्यथा मुश्किल में पड़ सकते हैं। बच्चों और जीवनसाथी के लिए ये समय अच्छा रहेगा। शर्त लगाना या जुंआ खेलने जैसी गलत आदतें आपको इस दौरान घेर सकती हैं। इनसे बचने का प्रयास करें वरना धन की हानि संभव है
उपाय : भगवान विष्णु की पूजा करें। मन्त्र जाप करे

वृषभ : करियर का ग्राफ ऊपर की ओर बढ़ सकता है। कार्यक्षेत्र पर अधिकारी पद की प्राप्ति हो सकती है। निजी जीवन तनाव पूर्ण रहेगा। दंपत्तियों क बीच वादविवाद हो सकता है बावजूद इसके जीवनसाथी की सेहत में गिरावट आपको परेशान कर सकती है। बच्चों को भी इस गोचर के दौरान परेशानियां उठानी पड़ सकती हैं हालांकि मां को इस समय का पूर्ण लाभ मिलेगा। कार्यों में बाधा आ सकती है लेकिन धैर्य व संयम के साथ आप अपने कर्तव्यों का पालन कर सकेंगे।
उपाय : रविवार को गुड़ दान करें।सूर्य जाप करे

मिथुन : इस दौरान आपके द्वारा किए गए प्रयास सफल होंगे और लाभ प्राप्त होगा। विरोधियों को हराकर आप अपने क्षेत्र में आगे बढ़ सकेंगे। छोटी-मोटी परेशानियां हो सकती हैं, अन्यथा सेहत ठीक रहेगी। आर्थिक स्थिति काफी अच्छी होगी। सरकारी नीतियों से लाभ मिल सकता है। आत्म सम्मान में वृद्धि होगी और जीवन में सुख-शांति व समृद्धि बनी रहेगी।
उपाय : आदित्य हृदय स्तोत्रम का पाठ , सूर्य जाप करें।

कर्क : इस गोचर के दौरान आर्थिक लाभ होगा। साथी के साथ मतभेद के कारण प्रेम संबंधों में परेशानी व तनाव उत्पन्न हो सकता है। बच्चों को भी किसी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। लेकिन जीवनसाथी को इस समय का लाभ प्राप्त होगा। बच्चों से विवाद होने के कारण आप भावनात्मक रूप से असंतुष्ट रहेंगे। करियर के लिहाज़ से आपको इस दौरान कर्ज़ों से मुक्ति मिलेगी साथ ही आप जॉब चेंज का प्लान भी बना सकते हैं। स्वभाव से घमंडी हो सकते हैं।
उपाय : गरीबों में दवाइयां बाटें। और दान करे

सिंह : सरकारी फायदे जैसे घर, गाड़ी आदि सुविधाओं का लाभ इस दौरान प्राप्त कर सकते हैं। वहीं आपके जीवन साथी को भी उच्च पद प्राप्त हो सकता है। सामाजिक छवि और ज़्यादा बेहतर तरीके से उभरेगी। निजी ज़िंदगी में तनाव व झगड़े रहेंगे। मां की सेहत कमज़ोर पड़ सकती है। गोचर की इस अवधि में आप नया घर या गाड़ी भी ख़रीद सकते हैं।
उपाय : रोजाना सूर्य नमस्कार करें। बीज मंत्र जाप करे

कन्या : साहस में कमी आ सकती है किंतु आप अपने संकल्प के प्रति अडिग रहेंगे। ये संकल्प आपको आपके विरोधियों से आगे लेकर जाएंगे। भाई-बंधुओं के साथ मतभेद हो सकते हैं। इस दौरान आपको आर्थिक लाभ होगा। धार्मिक कार्यों में रूचि बढ़ेगी। यात्राओं का भी योग नज़र आ रहा है। उच्च अधिकारियों व प्रख्यात लोगों से मिलने का मौका प्राप्त होगा।
उपाय : ज़रूरतमंदों को रविवार के दिन गेहूं दान करें।

तुला : इस बीच आपकी भाषा कठोर हो जाएगी जिसके चलते परिवार में विवाद हो सकते हैं। गलत विचारों के लोगों से सामना हो सकता है। आय वृद्धि हेतु बहुत सी परेशानियां आएंगी परंतु आप उनसे निपटकर अच्छी रकम़ जोड़ पाएंगे। नेत्र रोग, सिरदर्द, बुख़ार जैसी चीजें आपको परेशान कर सकती हैं। सेहत संबंधी समस्याओं से निजात पाने के लिए भरपूर पानी पिएं। किराए पर दी गई प्रॉपर्टी से मुनाफ़ा हो सकता है।
उपाय : रविवार को लाल फूल और लाल कपड़ा दान करे

वृश्चिक : इस समय आपका ध्यान केवल अपने काम पर ही केंद्रित रहेगा हालांकि इस दौरान रुकावटें भी आती रहेंगी। स्वभाव में गुस्सा व घमंड की वृद्धि हो सकती है। अप्रत्याशित यात्राओं के योग हैं साथ ही सेहत बिगड़ने के भी आसार हैं। गोचर की इस पूर्ण अवधि में मानसिक तनाव बना रहेगा। इससे निजात पाने के लिए आप ध्यान का सहारा भी ले सकते हैं। करियर में उतार-चढ़ाव संभव है।
उपाय : सूर्य देव की पूजा करें और उन्हें जल चढ़ाएं।

धनु : इस दौरान बुख़ार, पेट दर्द, अनिद्रा या फिर नेत्र से संबंधित अन्य समस्याएं हो सकती हैं। लंबी यात्रा का योग है, विदेश जाने का मौका भी मिल सकता है। इसी बीच आपके ख़र्चें भी बढ़ जाएंगे। दोस्तों के साथ कुछ प्रॉब्लम हो सकती हैं। बुरे कर्मों के कारण नाम ख़राब हो सकता है। तनाव ग्रस्त जीवन रहेगा लेकिन आपको संयम व धैर्य से काम करने की ज़रूरत है। विदेश में रहने वालों या अंतर्राष्ट्रीय कंपनी में कार्यरत्त लोगों को अच्छी ख़बर व सफलता मिलेगी।
उपाय : पानी में सिंदूर व लाल फूल डालकर सूर्य देव को अर्पित करें।

मकर : अप्रत्याशित लाभ की संभावना है। उच्च अधिकारियों के साथ उठना-बैठना होगा व उनके साथ घनिष्ठ संबंध स्थापित हो सकते हैं। वरिष्ठ अधिकारियों से सहयोग प्राप्त हो सकता है। कार्यक्षेत्र पर नया पद हासिल हो सकता है या फिर आपको किसी अवार्ड से भी नवाज़ा जा सकता है। इससे आत्म-सम्मान में वृद्धि होगी। कोई शुभ समाचार प्राप्त हो सकता है जिसकी
आपने कल्पना भी नहीं की होगी। परिवार में पिता से सहयोग प्राप्त होगा लेकिन प्रेम-संबंधों में मन-मुटाव रहेगा। कुल मिलाकर ये गोचर आपके लिए लाभदायक साबित होगा।
उपाय : तांबे के बर्तन से सूर्य देव को जल अर्पित करें।

कुंभ : कार्यक्षेत्र पर तरक्की हासिल होगी। स्वभाव में घमंड के बढ़ने से नुकसान हो सकते हैं। वहीं दूसरी तरफ घरेलू जीवन में भी लड़ाई-झगड़े होते रहेंगे। सरकारी नौकरी करने वालों को गोचर के दौरान लाभ मिल सकता है। आत्म सम्मान में वृद्धि होगी और प्रशंसा के हकदार होंगे। कार्यों में व्यस्त रहने के कारण परिवार को समय नहीं दे पाएंगे। इस कारण घर में क्लेश भी रहेंगे। इन सबके अलावा शादीशुदा जीवन में भी टकराव रहेंगे।
उपाय :केसरिया रंग के कपड़े को रविवार के दिन भगवान विष्णु के मंदिर में दान करें।

मीन : जीवन में संघर्ष बढ़ जाएगा और हर कार्य को पूर्ण करने के लिए ज़्यादा मेहनत करनी होगी। पिता की सेहत में गिरावट देखने को मिल सकती है। कार्यक्षेत्र बदल सकता है या फिर ट्रांसफर भी हो सकता है। भाई-बहनों से विवाद हो सकते हैं। धार्मिक कार्यों की ओर रुझान बढ़ेगा। चुनौतियों का डटकर सामना करना पड़ेगा। देर ही सही लेकिन अंत में सफलता ज़रूर मिलेगी और आपको मानसिक तौर पर शांति मिलेगी। इस दौरान लंबी यात्रा के भी योग हैं।
उपाय : सूर्य देव को जल लाल फूल चढ़ाएं।

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Translate »
Skip to toolbar