ब्रेकिंग न्यूज़

Category: बाल मुकुन्द ओझा

Total 99 Posts

जनकल्याण के महानायक भगवान परशुराम

भगवान परशुराम का पौराणिक कथाओं और धर्म में एक महत्त्वपूर्ण स्थान पर हैं पराक्रम के प्रतीक परशुराम का जन्म 6 उच्च ग्रहों के योग में हुआ, इसलिए वह तेजस्वी, ओजस्वी

छोटी उम्र में शादी घर की बरबादी बाल मुकुन्द ओझा

अक्षय तृतीया या आखातीज वैशाख मास में शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को कहते हैं। इस वर्ष आखातीज 7 मई को है। पौराणिक ग्रंथों के अनुसार इस दिन जो भी

विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस : मीडिया के समक्ष सबसे बड़ी चुनौती है उसकी विश्वसनीयता

तीन मई का दिन दुनियाभर में प्रेस की आजादी के दिवस के रूप में मनाया जाता है। प्रेस स्वतंत्रता के बुनियादी सिद्धांतों, मूल्यों और प्रेस की स्वतंत्रता पर हो रहे

सादगी और विचारों के प्रबल पक्षधर थे मधु लिमये

समाजवादी नेता मधु लिमये से मैं दो तीन बार दिल्ली में मिला था। पहली मुलाकात 1975 में हुई तब मैनें समाजवादियों के भविष्य के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा

जनमत निर्माण का कार्य जनसंपर्क का है

जनसम्पर्क शब्द को लेकर देश में अनेक भ्रांतिया उत्पन्न हो रही है। लोग इस शब्द की व्याख्या अपने अपने तरीके से कर रहे है। कुछ लोग इसे अपने व्यवसाय से

भगवान महावीर ने दुनिया की सत्य और अहिंसा का सन्देश दिया

महावीर जयंती जैन समुदाय का सबसे बड़ा पर्व है। 17 अप्रैल बुधवार को पूरे देश में महावीर जयंती का पर्व मनाया जाएगा। जैन समुदाय के लिए महावीर जयंती का विशेष

मेलो और तीज त्योहारों का देश है भारत

भारत त्योहारों और परंपराओं का देश है। हर त्योहार का अपना महत्व है। अप्रैल का महीना पर्व और त्योहारों का है। इस माह नवरात्रों के साथ चेटीचंड, गणगौर, दुर्गाष्टमी, रामनवमी,

गर्मी और पानी ने रुलाया

आजादी के बाद से ही मरुस्थलीय क्षेत्र राजस्थान पेयजल के संकट से जूझता रहा है। पहले लोग कुए, तालाब और बावड़ियों के पानी पर निर्भर थे। आबादी बढ़ने के साथ

ग्लोबल एजेंसियों ने माना बेहद प्रदूषित है भारत के शहर

देश और विदेशों की विभिन्न ग्लोबल एजेंसियों द्वारा वायु प्रदूषण के खतरे से बार बार आगाह करने के बावजूद न सरकार चेती है और न ही नागरिक। लगता है लोगों

राजनीति में जाति का जयकारा

भारत का समाज जाति आधारित है और यहां चुनावों में जाति को काफी महत्व दिया जाता है। राजनीति भी जाति के प्रभाव से मुक्त नहीं है और टिकटों के बंटवारे

भाजपा संकल्प पत्र में राष्ट्रवाद अन्त्योदय और सुशासन का मूलमंत्र

भारतीय जनता पार्टी ने लोकसभा चुनाव 2019 के लिए अपने पत्ते खोल दिए है। भाजपा मुख्यालय में आयोजित कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और गृहमंत्री राजनाथ

आडवाणी पर मर्यादाहीन बयान

चुनावी राजनीति में इन दिनों आपत्तिजनक और विवादित बयानों को लेकर हंगामा मचा हुआ है। सियासत में विवादास्पद बयान को नेता भले अपने पॉपुलर होने का जरिया मानें, लेकिन ऐसे

निष्क्रियता गंभीर बीमारियों को जन्म देती है

स्वस्थ जीवन का अधिकार हर मनुष्य को है। इसी को लक्ष्य बनाकर आज से 71 साल पहले विश्व स्वास्थ्य संगठन की स्थापना की गयी थी। संगठन द्वारा विश्व स्वास्थ्य दिवस

चुनावी शोर में खोई सूखे की आहट

देश एक बार फिर सूखे की चपेट में है। सूखा, बाढ़, अतिवृष्टि आदि प्राकृतिक आपदाएं भारत का भविष्य निर्धारित करती है। पानी की कमी के कारण फसलें वर्षा पर आधारित

खेती किसानी में नवाचार का उजाला भरने वाले डॉ महेंद्र मधुप

देश के ख्यातनाम और लब्ध प्रतिष्ठित कृषि पत्रकार डॉ महेंद्र मधुप राजस्थान के एक ऐसे शख्सियत है जिन्होंने खेत और खलिहान के विकास का बीड़ा उठाकर कृषि वैज्ञानिकों को राष्ट्रीय

घर घर मंडराया वायु प्रदूषण का खतरा

वायु प्रदूषण पर विभिन्न शोध रिपोर्टों का गहनता से अध्ययन करें तो यह पाएंगे की यह किसी महामारी से कम नहीं है। इसे किसी भी स्थिति में कमतर मापना स्वस्थ्य

बहुगुणकारी है लैवेंडर के फूल पौधे और उत्पाद

फूलों की बात करने पर हमारे मन मस्तिष्क में बेला, गेंदा गुलाब, चंपा, चमेली और मालती के रंग-सुगंध उभरते हैं। ये फूल अब मंदिरों-मजारों की ही शोभा बढ़ाते नजर आते

कृष्ण भक्ति का परिचायक है इस्कॉन मंदिर

भगवान कृष्ण के मंदिर को इस्कॉन मंदिर भी कहा जाता है। इस्कॉन के मंदिर सारी दुनिया में है। इस मंदिर का नाम एक विशेष अंग्रेजी भाषा के शब्दों को बनाकर

नस नस को डसता है नशा

अंतर्राष्ट्रीय नशा निरोधक दिवस प्रत्येक वर्ष 26 जून को मनाया जाता है। नशीली वस्तुओं और पदार्थों के निवारण हेतु संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 26 जून को अंतर्राष्ट्रीय नशा व मादक

पूर्वोत्तर में चली मोदी लहर : त्रिपुरा में शून्य से सत्ता के शिखर पर सवार हुई भाजपा

भाजपा त्रिपुरा में शून्य से सत्ता के शिखर पर पहुँचने में सफल हो गई है। संभवत आजादी के बाद यह पहला अवसर है कि कोई राजनीतिक दल डेढ़ प्रतिशत वोट

आतंक की फैक्ट्री चला रहा पाकिस्तान

भारत की आजादी और विभाजन के बाद भारत ने धर्मनिरपेक्ष, संप्रभु और लोकतंत्र का रास्ता चुना तथा पाकिस्तान इस्लामिक राष्ट्र बना। यहीं से दोनों की राह जुदा हो गई। भारत

Translate »