ब्रेकिंग न्यूज़

Category: धर्म-दर्शन

Total 25 Posts

महावीर जयंती : महावीर बनने की तैयारी में जुटें

महावीर जयंती का महत्व सिर्फ जैनियों के लिए ही नहीं, बल्कि सम्पूर्ण मानव समाज के लिये है। जो जैन मत को मानने वाले हैं, वे यह पवित्र दिन बहुत ही

भगवान महावीर जयन्ती- 17 अप्रैल : महावीर क्रांतिकारी युगपुरुष थे

भगवान महावीर की जयन्ती मनाते हुए हमें महावीर के जीवनदर्शन को जीवनशैली का संकल्प लेना होगा। वे एक क्रांतिकारी युगपुरुष थे, उनकी क्रांति का अर्थ रक्तपात नहीं! क्रांति का अर्थ

भगवान महावीर ने दुनिया की सत्य और अहिंसा का सन्देश दिया

महावीर जयंती जैन समुदाय का सबसे बड़ा पर्व है। 17 अप्रैल बुधवार को पूरे देश में महावीर जयंती का पर्व मनाया जाएगा। जैन समुदाय के लिए महावीर जयंती का विशेष

पर्यटकों अपनी ओर खींचती हैं अक्षरधाम की कलाकृतियां

विजय न्यूज ब्यूरो रमेश ठाकुर, नई दिल्ली। दिल्ली स्थित अक्षरधाम मंदिर अपने स्थापना के बाद से ही राजधानी पहुंचने वाले देश-विदेश के पर्यटकों के लिए पहला दर्शनार्थ स्थान बना हुआ

18 मार्च मेले पर विशेष : जन जन की आस्था के देव खाटू के श्याम नरेश

राजस्थान की धरती पर पग-पग पर किसी महान संत, महात्मा, लोकदेवताओं के मन्दिर स्थित है। यहां के हर स्थान का अपना इतिहास है। ऐसे ही राजस्थान के प्रसिद्द स्थलों में

फाल्गुन अमावस्या 2019 : अमावस्या आज, इन बातों का ध्यान रखने से सुखमय बनेगा जीवन

आज 6 मार्च को फाल्गुन अमावस्या पर लोग व्रत रखते हैं और भगवान से सुख-समृद्धि की कामना करते हैं। इस दिन लोग अपने पूर्वजों का तर्पण या श्राद्ध भी करते

सीरियल ‘राधाकृष्ण’ में नज़र आ रहे धनबाद के आलोक शर्मा 

नई दिल्ली l आलोक शर्मा को बचपन से ही अभीनय का शौक था किंतु बचपन में वो माहौल नहीं मिल पाया और ये थोड़े शर्मीले भी थे। बिहार के नवादा

 हरियाणा में दुनिया का सबसे बड़ा रावण, लिम्का बुक में दर्ज

पंचकूला । हरियाणा में दुनिया का सबसे बड़ा रावण पंचकूला में बनाया गया है। इसकी ऊंचाई 210 फीट है। इसे लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड ने भी दर्ज किया है। रावण

एमा ने सुनाई बैंकर से बौद्ध भिक्षु बनने की कहानी

नई दिल्ली । बैंकर से बौद्ध भिक्षु बनने वाली एमा स्लेड ने दिल्ली में आयोजित ‘रॉब रिपोर्ट लिमिटेड एडिशन-2018’ कार्यक्रम में अपने जीवन के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

परम पूज्य सुदीक्षा जी ने औपचारिक रूप से संत निरंकारी मिशन के आध्यात्मिक प्रमुख की जिम्मेदारी संभाली

नई दिल्ली। निरंकारी सद्गुरु माता सविन्दर हरदेव जी महाराज के आदेश व आशीर्वाद से उनकी सुपुत्री परम पूज्य सुदीक्षा जी को आज संत निरंकारी मिशन का निरंकारी सद्गुरु और आध्यात्मिक

कृष्ण भक्ति का परिचायक है इस्कॉन मंदिर

भगवान कृष्ण के मंदिर को इस्कॉन मंदिर भी कहा जाता है। इस्कॉन के मंदिर सारी दुनिया में है। इस मंदिर का नाम एक विशेष अंग्रेजी भाषा के शब्दों को बनाकर

सामान्य भारतीय जन के प्रतीक हैं ‘शिव’

त्याग और तपस्या के प्रतिरुप भगवान शिव लोक-कल्याण के अधिष्ठाता देवता हैं। वे संसार की समस्त विलासिताओं और ऐश्वर्य प्रदर्शन की प्रवृत्तियों से दूर हैं। सर्वशक्ति सम्पन्न होकर भी अहंकार

खरमास की शुरुआत, भूलकर भी न करें ये काम

15 दिसंबर को सूर्य धनु राशि में प्रवेश कर रहे हैं. सूर्य के इस राशि में प्रवेश के साथ शुभ कार्य बंद हो जाते हैं. ये स्थिति लगभग एक माह

प्रधान देव ग्रह सूर्य का तुला से वृश्चिक में गोचर

पं अंकित मारर्कण्डेय के मुताबिक 16 नवम्बर को सूर्य तुला राशि से वृश्चिक राशि मे गोचर करेंगे . गोचर अवधि : 16 नवंबर 2017 को दोपहर 12:36 बजे से सूर्य

सभी तीर्थो का गुरू माना जाता है पुष्कर

राजस्थान में त्यौहारों, पर्वो एवं मेलों की अनूठी परम्परा एवं संस्कृति है वैसी देश में अन्यत्र कहीं मिलना कठिन है। यहां का प्रत्येक मेला एवं त्यौहार लोक जीवन की किसी

गुरु नानक देव जयंती : सच्चे संत थे गुरु नानक देव

भारतीय संस्कृति में आध्यात्मिक गुरु को महत्वपूर्ण स्थान दिया गया है। यहां तक कि हमारी वैदिक संस्कृति के कई मंत्रों में गुरु परमब्रह्मा, तस्मै श्री गुरुवे नमः यानि गुरु को

कार्तिक माह प्रारम्भ ब्रह्म मुहूर्त में स्नान ,दान ,दीपदान, जाप से मिलेगी भगवान विष्णु की कृपा

 ॐ नमो भगवते वासु देवाय नम:   6 अक्टूबर से कार्तिक मास प्रारंभ , आध्यात्मिक ऊर्जा एवं शारीरिक शक्ति संग्रह करने में कार्तिक मास का विशेष महत्व है। इसमें सूर्य की किरणों एवं चन्द्र

बुराई पर अच्छाई की जीत के प्रतीक हैं नवरात्रि

भारतीय जन-जीवन में धर्म की महत्ता अपरम्पार है। यह भारत की गंगा-जमुना तहजीब का ही नतीजा है कि सब धर्मों को मानने वाले लोग अपने-अपने धर्म को मानते हुए इस

गुरु नानक ने समाज में भलाई का सन्देश दिया था

हमारे साधु संतों ने सदा सर्वदा समाज को भलाई का मार्ग दिखाया था। इसी परम्परा का निर्वहन करते हुए गुरु नानक देव ने समाज को झूठ, प्रपंच और अहंकार को

21 सितम्बर जयन्ती पर विशेष : समाजवाद के प्रर्वतक युग पुरुष थे महाराजा अग्रसेन

दुनिया में आज जिस समाजवाद की बात की जाती है उसको 5000 वर्ष पूर्व ही महाराजा अग्रसेन ने सार्थक कर दिखाया था। महाराजा अग्रसेन को समाजवाद का सच्चा प्रणेता कहा

21 सितम्बर जयन्ती पर विशेष : समाजवाद के प्रर्वतक युग पुरुष थे महाराजा अग्रसेन

दुनिया में आज जिस समाजवाद की बात की जाती है उसको 5000 वर्ष पूर्व ही महाराजा अग्रसेन ने सार्थक कर दिखाया था। महाराजा अग्रसेन को समाजवाद का सच्चा प्रणेता कहा

Translate »