National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

IPL: केकेआर ने 7 विकेट से पंजाब को हराया

नई दिल्ली। कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) ने किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) को आईपीएल-2019 के 52वें मुकाबले में 7 विकेट से हरा दिया। मोहाली में खेले गए इस मुकाबले में पंजाब ने पहले बैटिंग करते हुए सैम करन (नाबाद 55) के अर्धशतक की बदौलत 6 विकेट पर 183 रन बनाए थे। जवाब में केकेआर ने शुभमन गिल (नाबाद 65 रन, 49 गेंद, 5 चौके और दो छक्के) और क्रिस लिन (46) की जोरदार पारियों की बदौलत 18 ओवर में 3 विकेट खोकर जीत हासिल कर ली। इसके साथ ही केकेआर की प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीदें भी जीवित हैं। यह उसकी 13 मैचों में छठी जीत है और उसके 12 पॉइंट्स हैं। दूसरी ओर, पंजाब की उम्मीदें प्लेऑफ में पहुंचने की लगभग खत्म हो गई हैं।

केकेआर की तूफानी शुरुआत
184 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी कोलकाता टीम को क्रिस लिन ने तूफानी शुरुआत दी और 5 ओवर में टीम के 47 रन बन गए। पंजाब की पारी का पहला ओवर शमी ने किया और सिर्फ 3 रन दिए। इसके अगले ही ओवर में क्रिस लिन ने अर्शदीप को सिक्स जड़ते हुए जता दिया कि उन्हें रोकना पंजाब के लिए आसान नहीं है।

लिन-शुभमन के बीच अर्धशतकीय साझेदारी
अर्शदीप जब पारी का चौथा ओवर करने आए तो लिन ने उन्हें हैटट्रिक फोर जड़ डाले। अगले ओवर में कप्तान अश्विन को फोर और सिक्स जड़े तो उनका अगला निशाना एंड्रू टाय बने। हालांकि, वह इस ओवर में फोर और सिक्स लगाने के बाद टाइ को ही कैच थमा बैठे। उन्होंने 22 गेंदों में 4 चौके और 3 छक्के की मदद से 46 रन बनाए। उनके और शुभमन गिल के बीच पहले विकेट के लिए 6 ओवरों में 62 रन की साझेदारी हुई। हालांकि, इसमें गिल के सिर्फ 15 रन ही थे।

रोबिन उथप्पा के 14 गेंदों में 22 रन
अच्छा प्लेटफॉर्म मिलने के बाद नए बल्लेबाज रोबिन उथप्पा ने आते ही आतिशी बैटिंग शुरू की। उन्होंने 9वें ओवर में मुरुगन अश्विन को फोर, सिक्स और फोर जड़ डाले। 11वें ओवर की दूसरी गेंद पर केकेआर के 100 रन पूरे हुए। हालांकि, वह अपनी पारी को बड़ी कर पाते इससे पहले ही आर. अश्विन ने इसी ओवर में उन्हें मयंक अग्रवाल के हाथों कैच करा दिया। वह 14 गेंदों में 2 चौके और 1 सिक्स लगाए। जब वह आउट हुए तो केकेआर आधे से अधिक रन बना चुका था और उसकी स्थिति मजबूत थी।

शुभमन गिल की हाफ सेंचुरी
दूसरी ओर, बेहद आराम से बैटिंग कर रहे युवा बल्लेबाज शुभमन गिल ने 13वां ओवर करने आए आर. अश्विन को टारगेट किया और दो छक्के और एक चौका जड़ते हुए महज 36 गेंदों में फिफ्टी पूरी कर ली। अश्विन के इस ओवर में कुल 18 रन बने। अब बारी आंद्रे रसेल की थी। उन्होंने एंड्रू टाइ के ओवर में दो छक्के जड़ दिए। हालांकि, दूसरा सिक्स कैच हो सकता था, लेकिन लॉन्ग ऑफ पर मयंक अग्रवाल कमाल नहीं कर पाए और गेंद हाथों से लगती हुई सीमारेखा पार गई।

कार्तिक-गिल ने यूं दिलाई जीत
केकेआर का स्कोर 150 रन था तभी मोहम्मद शमी ने आंद्रे रसेल को टाइ के हाथों कैच करा दिया। वह 14 गेंदों में दो चौके और दो छक्के की मदद से 24 रन बनाकर आउट हुए। आखिरी 6 ओवरों में केकेआर को जीत के लिए 26 रनों क जरूरत थी, जिसे दिनेश कार्तिक और शुभमन गिल ने बगैर कोई और विकेट गंवाए बना लिए। दिनेश कार्तिक ने विजयी चौका लगाया। गिल 49 गेंदों में 65 रन बनाकर नाबाद लौटे, जबकि कार्तिक ने 9 गेंदों में दो फोर और एक सिक्स की मदद से नाबाद 21 रन बनाए। पंजाब के लिए मोहम्मद शमी, आर. अश्विन ओर टाइ ने एक-एक विकेट लिया।

किंग्स XI पंजाब की पारी का रोमांच
इससे पहले सैम करन और निकोलस पूरन की शानदार पारियों के दम पर किंग्स इलेवन पंजाब ने कोलकाता नाइटराइडर्स के खिलाफ छह विकेट पर 183 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया। निकोलस पूरन ने 27 गेंदों पर तीन चौके और चार छक्के की मदद से 48 रन बनाए और इस बीच मयंक अग्रवाल (26 गेंदों पर 36 रन) के साथ तीसरे विकेट के लिए 69 रन की साझेदारी करके टीम को शुरुआती झटकों से उबारा।

शुरुआत में संदीप छाए
करन जब 17 रन पर थे तब उन्हें जीवनदान मिला और उन्होंने इसका पूरा फायदा उठाकर 24 गेंदों पर नाबाद 55 रन की पारी खेली, जिसमें 7 चौके और 2 छक्के शामिल हैं। मनदीप सिंह ने 25 रन का योगदान दिया। करन और पूरन ने ऐसे समय में ये पारियां खेली जबकि आईपीएल के वर्तमान सत्र में अपना दूसरा मैच खेल रहे केरल के तेज गेंदबाज संदीप वारियर (31 रन देकर दो विकेट) ने पंजाब के दोनों सलामी बल्लेबाज केएल राहुल (दो) और क्रिस गेल (14) को पावरप्ले में ही पविलियन भेजकर कोलकाता को शानदार शुरुआत दिलाई थी।

पूरन के बाद मंदीप आउट
दिनेश कार्तिक ने पहले भी ऐसे मौकों पर नीतीश राणा के स्पिन कौशल का अच्छा इस्तेमाल किया और आज भी इस कामचलाऊ स्पिनर ने पूरन को धीमी गेंद पर सीमा रेखा पर कैच करवाकर अपने कप्तान को निराश नहीं किया। इस बीच दूसरे छोर पर अधिकतर समय सहयोगी की भूमिका निभाने वाले अग्रवाल भी रन आउट हो गए और इस तरह फिर से अच्छी शुरुआत का फायदा उठाने में नाकाम रहे।

जीवनदान के बाद सैम की तूफानी फिफ्टी
इसके बाद केकेआर को करन को जीवनदान देना काफी महंगा पड़ा। करन ने सुनील नरेन पर छक्का लगाया, लेकिन पारी के इस 17वें ओवर में रिंकू सिंह ने उनका आसान कैच टपकाया। उन्होंने इसका पूरा फायदा उठाया। आंद्रे रसेल की गुडलेंथ और पीयूष चावला की गुगली पर बेहतरीन टाइमिंग से लगाए गए छक्के दर्शनीय थे। उन्होंने अपनी ताकत और कौशल का खुलकर प्रदर्शन किया। उन्होंने रसेल पर 2 चौके और 20वें ओवर में गर्नी की आखिरी 4 गेंदों पर 3 फोर और एक सिक्स लगाकर अर्धशतक पूरा किया। इस ओवर में कुल 22 रन बने।

2 ओवर में बने 32 रन
किंग्स इलेवन ने इस दौरान 4 गेंद के अंदर मनदीप और कप्तान रविचंद्रन अश्विन के विकेट गंवाए थे, लेकिन करन के पराक्रम से उसकी टीम आखिरी 2 ओवरों में 32 रन जुटाने में सफल रही। 7वें विकट के लिए सैम और एंड्रू टाइ के बीच 32 रनों की साझेदारी हुई। इसमें से 31 रन सैम के थे, जबकि एक रन बाई के रूप में मिला था। टाइ बगैर खाता खोले नाबाद लौटे।

Print Friendly, PDF & Email
Translate »