National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

Vyapar बिलिंग सॉफ्टवेयर, डिजिटल पेमेंट्स को और भी आसान बनाता है

Vyapar बिलिंग सॉफ्टवेयर, डिजिटल पेमेंट्स को और भी आसान बनाता है; अपने लाखों ग्राहकों के लिये UPI पेमेंट्स के साथ इंटरफेस को सक्षम बनाया

विजय न्यूज़ ब्यूरो
Vyapar, जोकि आसान एवं फ्री बिलिंग, इंवेंटरी एवं जीएसटी सॉफ्टवेयर है, ने अपने लाखों ग्राहकों को डिजिटल भुगतान का सहज एवं झंझटमुक्‍त अनुभव देने के लिये UPI पेमेंट्स (यूनीफाइड पेमेंट इंटरफेस) को सक्षम बनाया है। यह रणनीतिक भागीदारी मर्चंट्स/यूजर्स को Vyapar एप्‍प के माध्‍यम से UPI पेमेंट ऑप्‍शन का इस्‍तेमाल कर डिजिटल तरीके से भुगतान करना आसान बनायेगी। UPI एक मोबाइल पेमेंट मोड है, जो यूजर्स को दो बैंक खातों के बीच पैसों को फौरन स्‍थानांतरित करने में सक्षम बनाता है। इसके अतिरिक्‍त, यूजर्स उन मर्चंट्स को भी भुगतान कर सकते हैं, जो पेमेंट मोड के रूप में UPI को स्‍वीकार करते हैं।
यह फीचर यूजर्स को अपने बचत बैंक खातों से सीधे इंस्‍टैंट कैशलेश पेमेंट्स करने में भी सक्षम बनायेगा। इसके लिये उन्‍हें UPI पेमेंट ऑप्‍शन के माध्‍यम से एक मर्चंट क्‍यूआर कोड को स्‍कैन करना होता है। नए वैल्‍यू-ऐडेड फीचर से Vyapar के लाखों ग्राहकों को फायदा होगा, क्‍योंकि वे अब आसानी से सीधे अपने बैंक खाते से भुगतान प्राप्‍त कर सकते हैं, इस तरह उन्‍हें लंबी-चौड़ी प्रक्रिया से होकर नहीं गुजरना पड़ेगा।

Vyapar एप्‍प में नए फीचर के बारे में बताते हुये श्री सुमित अग्रवाल-सीईओ एवं संस्‍थापक, Vyapar ने कहा, ” Vyapar ने हमेशा ही ग्राहकों के लिये एक मजबूत प्‍लेटफॉर्म बनाने पर फोकस किया है और सादगी व सुरक्षा को संतुलित करने वाली नवीनतम टेक्‍नोलॉजी ट्रेंड्स एवं फंक्‍शनैलिटीज को अपनाया है। हम Vyapar प्‍लेटफॉर्म पर UPI पेमेंट का स्‍वागत करते हैं। यह रणनीतिक इंटरफेस हमें हमारे एप्‍प के दस लाख से भी अधिक ग्राहकों/यूजर्स के लिये सहूलियत एवं सुविधा लाने में मदद करेगा।”

Vyapar ने प्रत्‍येक मर्चंट के लिये नि:शुल्‍क ऑटोमैटिक ट्रांजैक्‍शन को सक्षम बनाया है, जिससे मर्चंट्स को प्रत्‍येक ट्रांजैक्शन पर अपने ग्राहकों को अपडेट रखने में मदद मिलती है। हमारी योजना बैंकों के साथ प्रत्‍येक एकीकरण को लागू करने और अन्‍य ऑनलाइन भुगतान चैनलों के माध्‍यम से मर्चंट्स के लिये अधिक पेमेंट ऑप्‍शन्‍स उपलब्‍ध कराने की भी है।
झंझटमुक्‍त स्‍वीकरण को सक्षम बनाने के लिये Vyapar द्वारा UPI अकाउंट बनाने पर इसके ग्राहकों को ऑनलाइन ट्रेनिंग भी उपलब्‍ध कराया जायेगा। UPI के साथ Vyapar के सहयोग से न सिर्फ इसकी पहुंच बढ़ाने में मदद मिलेगी, बल्कि भारतीय ग्राहकों के बीच इसकी स्‍वीकार्यता को बढ़ाने में भी मदद मिलेगी।

Vyapar के विषय में :
वर्ष 2016 में स्‍थापित Vyapar बैंगलोर में स्थित एक पूर्णत: जीएसटी-अनुकूल बिजनेस अकाउंटिंग सॉफ्टवेयर है, जिसका लक्ष्‍य सूक्ष्‍म एवं लघु व्‍यावसायों की दैनिक गतिविधियों को आसान बनाना है। Vyapar सॉफ्टवेयर का इस्‍तेमाल 1 मिलियन से ज्‍यादा लघु व्‍यावसायों द्वारा बिल के भुगतान, इंवेंटरी मैनेजमेंट एवं जीएसटी फाइल करने के लिये किया जाता है। भारत में अधिकतर एमएसएमई आज भी कागज पर बिल बनाती है। मैनुअल एंट्रीज करने और पेन एवं कागज का इस्‍तेमाल कर जोड़-घटाव करने में ही उनका समय बर्बाद हो जाता है।
Vyapar की मदद से वे अपने फोन का इस्‍तेमाल कर आसानी से प्रोफेशनल जीएसटी बिल बना सकते हैं। इसके कुल योग की खुद ब खुद गणना हो जाती है, उनका भुगतान हो जाता है और एप्‍प द्वारा रिसीबेवल्‍स खुद ब खुद अपडेट हो जाते हैं, जिससे अकाउंटिंग आसानी से हो जाता है। वे सिर्फ कुछ सेकेंड्स में व्‍हाट्सएप्‍प पर अपने बिलों को प्रिंट/शेयर कर सकते हैं और सीधे ऑनलाइन भुगतान एकत्र कर सकते हैं। वे अनपेड बिलों को ट्रैक कर सकते हैं और व्‍हाट्सएप्‍प, एसएमएस इत्‍यादि के माध्‍यम से ग्राहकों को लंबित भुगतानों के बारे में पेमेंट रिमाइंडर्स भेज सकते हैं, ताकि भुगतान को तेजी से एकत्र किया जा सके।

Print Friendly, PDF & Email
Translate »