न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

अगर राजीव गांधी को पता था कि एक रूपया 15 पैसा बन जाता है तो उन्होंने कुछ किया क्यों नहीं : मोदी

सूरत. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि अगर पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को यह पता था कि दिल्ली से भेजा उनका एक रूपया गांव में पहुंचते पहुंचते 15 पैसा हो जाता है तो उन्होंने इस पर रोक के लिए कोई उपाय क्यों नहीं किया।

श्री मोदी ने आज यहां कडोदरा में एक चुनावी सभा में कहा कि राजीव गांधी सूफियाना बात करते थे और कहते थे कि दिल्ली से उनके समय चला एक रूपया गांव तक पहुंचते पहुंचते 15 पैसा हो जाता था। पर जब उन्हें यह बात समझ आती थी तो उन्होंने इसे रोकने का कोई उपाय क्यों नहीं किया। ये कैसा पंजा (कांग्रेस का चुनाव चिन्ह) है जिसने एक रूपये को घिस घिस कर 15 पैसा बना दिया था। कांग्रेस को याद करने से एक ही परिवार का चेहरा याद आता है। बोफोर्स, टूजी, कोयला घोटाला याद आते हैं। इसने जल थल या नभ जहां भी मौका मिला वहीं हाथ मारने की परंपरा बना दी थी।

उन्होंने कांग्रेस पर गुजरात विरोधी होने का आरोप लगाते हुए कहा कि पूरे राज्य में भाजपा के पक्ष में ऐसी आंधी चल रही है कि भाजपा पराजय के डर से बुरी तरह भयभीत हो गयी है। इसे समझ में आना चाहिए कि जब तक यह प्रायश्चित न करे, गुजरात विरोधी मानसिकता नहीं बदलेगी राज्य इसे कभी स्वीकार नहीं करेगा। यह बदले हुए समय में गांव में भी नयी तकनीक को जानने वाली नयी पीढ़ी को प्रभावित करने की उम्मीद पाले बैठी है। कांग्रेस को पता ही नहीं है कि देश की क्या इच्छा अपेक्षा है और यह कहां जाना चाहता है। कांग्रेस को इसके पाप की कड़ी सजा मिलनी चाहिए। गुजरात में हर बूथ से इसकी विदायी होनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने खुद न कुछ किया और न करा और अब कहती है कि करने भी नहीं देगी। पर इसका पाला सरदार पटेल की धरती की धूल में पले बढ़े मुझसे हुआ है। कांग्रेस ने गुजरात में इतना कीचड़ फैलाया है कि जनता 150 से ज्यादा कमल खिला देगी। इन लोगों ने नोटबंदी के बाद हर चुनाव में हार का सामना किया है और उत्तर प्रदेश में ऐसी हवा बना दी थी कि भाजपा को 25 भी सीटें नहीं मिलेगी। अहंकार में गुजरातियों की तुलना गधे से कर दी पर आज उनकी ऐसी हालत हो गयी कि उत्तर प्रदेश की गली गली में घूम कर खुद गधों का पैर पकड़ते फिर रहे हैं।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar