National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

अलवर रामगढ़ विकास खंड के गाँव गढ़ी धनेटा मेंलगा किसान मेला

सहगल फाउंडेशन और मोजेक इंडिया प्रा. लिमिटेड कम्पनी ने आज (17 नवम्बर, 2017) को अलवर के रामगढ़ विकास खंड के गाँव गढ़ी धनेटा में किसान मेले का आयोजन किया जिसका उदेश्य किसानों को विभिन्न सरकारी कृषि कार्यक्रमोंएवं योजनाओं की जानकारी के अलावा फसलों की नवीनतम प्रजातियों के बीजों, किसानों के लिए उपयोगी उन्नत तकनीकोंआदि की जानकारी एक ही मंच पर उपलब्ध करवाना था.
इस मौके परमुख्य अतिथिश्री होशियार सिंह, संयुक्त निदेशक, कृषि, निगरानी और मूल्यांकन,राजस्थाननेकहा कि उन्हें ख़ुशी है कि“इस मेले नेकिसानों और सरकारी अधिकारियों को एक साथ बातचीत करने का मंच प्रदान किया है.उन्होंने ने कहा कि इस प्रकार के आयोजन से किसानों को विशेष जानकारी हासिल होती है और किसान नई तकनीकों काइस्तेमाल सीखते हैं और नई एवं उन्नत तकनीक अपनाकर अपनी फ़सलों से बढ़िया पैदावार प्राप्त करने में उन्हें मदद मिलती है.”
मोज़ेक इंडिया प्रा. लिमिटेड कम्पनी के एग्रोनोमिस्ट डॉ चन्द्र प्रकाश ने कहा हमारा उद्देश्य “किसानों के साथ मिलकर उनका विकास करना है ताकि उनका जीवन स्तर और ऊचा उठ सके.”आज किसानों के सहयोग से शरू कृषि ज्योति परियोजना अपने नौंवेे साल में प्रवेश कर चुकी है. तीनगांवों से शुरू होकर यह मेवात और अलवर के 60 गांवों तक अपना सफ़र तय कर चुकी है और आगे भी इसी तरह यह सफरनामा जारी रहेगा”.

सहगल फाउंडेशन के कृषि विकास कार्यक्रम प्रोग्राम लीडर अरविन्द राणा ने कहा कि “किसानों को आधुनिक तकनीक की जानकारी होना बेहद जरूरी है. अकसर यह देखा जाता है कि किसानों को सरकार द्वारा चलाई जा रही स्कीमों के बारे में पर्याप्त जानकारी नहीं मिलती और इसलिए वह इनका लाभ उठाने में असमर्थ रहते हैं. यह मेला आपसी अनुभवों व नई जानकारियों से रूबरू होने का एक मंच है’’
इस मेले में आसपास के गांवोंसेबड़ी संख्या में किसानों ने भाग लिया, जिसमें महिला किसानों ने भी शिरकत कर कृषिसे सम्बंधित सरकारी कार्यक्रमों व नई योजनाओं की जानकारी प्राप्त कीताकि वे भविष्य में सरकारी योजनाओं का लाभ उठा सकें.
सहगल फाउंडेशन की संचार अधिकारी सोनिया चोपड़ा ने जानकारी देते हुए बताया कि मेले में किसानों को कृषि की नवीनतम तकनीकों की जानकारी देने के लिए विभिन्नकृषि कार्य से जुडी कंपनियों जैसे जैन इरीगेशन सिस्टम्स, मोज़ेक फ़र्टिलाइज़र और हाईटेक इंडिया आदि के लगभग 10 स्टाल लगाये गए थे.
यह मेला आज गाँव के पंचायत भवन में आयोजित किया गया. मेंले में कृषि विज्ञान केंद्र, बागवानी विभाग, कृषि विभाग और पशुपालन विभाग, मृदा परीक्षण प्रयोगशाला के अधिकारीभी शामिलहुए और उन्होंने किसानों को सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी दी वह उन्हें इन योजनाओं का लाभ उठाने के लिए अपने प्रेरित किया.
सहगल फाउंडेशन से ग्रामीण सुशासन कार्यक्रम की डायरेक्टर अंजलि माखीजा, प्रोजेक्ट डायरेक्टर अंजलि गोदयल औरकृषि विकास कार्यक्रम के प्रोजेक्ट लीडर अरविन्द राणा शामिल हुए.

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar