National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

आर्थिक पैकेज से झूमा शेयर बाजार

मुंबई। बैंकिंग और बुनियादी ढाँचा क्षेत्र के लिए सरकार द्वारा भारी भरकम आर्थिक पैकेजों की घोषणा से घरेलू शेयर बाजारों ने आज ऊँची छलाँग लगाई और बीएसई का सेंसेक्स पहली बार 33 हजार अंक के पार निकल गया, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी पहली बार 10,300 अंक के आँकड़े को छूने में कामयाब रहा, बैंकिंग शेयरों में निवेशकों की जोरदार लिवाली से बाजार खुलने के कुछ ही मिनट के भीतर सेंसेक्स 33,117.33 अंक के कारोबार के दौरान के अब तक के रिकॉर्ड स्तर पर पहुँच गया। पूरे दिन मजबूत बढ़त में रहता हुआ अंतत: यह गत दिवस की तुलना में 1.33 प्रतिशत यानी 435.16 अंक चढ़कर रिकॉर्ड 33,042.50 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी का कारोबार के दौरान का उच्चतम स्तर 10,340.55 अंक रहा और कारोबार की समाप्ति पर यह 0.86 प्रतिशत यानी 87.65 अंक की बढ़त में 10,295.35 अंक के सर्वकालिक उच्च स्तर पर बंद हुआ। सरकार ने सार्वजनिक बैंकों को अगले दो साल में कुल 2.11 लाख करोड़ रुपये की पूँजी उपलब्ध कराने संबंधी प्रस्ताव को मंगलवार को मंजूरी दी है। इससे देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक के शेयर 27.58 प्रतिशत चढ़कर 324.70 रुपये पर बंद हुये। गत दिवस इसका मूल्य 254.50 रुपये प्रति शेयर रहा था। निजी बैंकों एचडीएफसी बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक और एचडीएफसी में गिरावट रही। इंफ्रा क्षेत्र में पाँच साल में 6.92 लाख करोड़ रुपये के निवेश से 84 हजार किलोमीटर राजमार्ग के निर्माण के सरकार के फैसले से इस क्षेत्र को बड़े पैमाने पर ऋण देने वाले निजी बैंकों आईसीआईसीआई बैंक और एक्सिस बैंक के शेयरों में भी बड़ा उछाल देखा गया। आईसीआईसीआई बैंक के शेयर 14.69 प्रतिशत चढ़कर 305.60 रुपये प्रति शेयर पर रहे। गत दिवस यह 266.45 रुपये पर रहा था। एक्सिस बैंक में 4.61 प्रतिशत की तेजी देखी गयी। सेंसेक्स की यह 25 मई के बाद की और निफ्टी की 12 अक्टूबर के बाद की सबसे बड़ी तेजी है। दोनों लगातार तीसरे दिन हरे निशान में बंद हुये हैं।
सेंसेक्स 389.94 अंक चढ़कर 32,995.28 अंक पर खुला और कुछ ही मिनट में गत दिवस के मुकाबले 509.99 अंक चढ़कर 33,117.33 अंक के कारोबार के दौरान अब तक के उच्चतम स्तर पर पहुँच गया। यह पहली बार है जब सेंसेक्स ने 33 हजार अंक के आँकड़े को छुआ है। कारोबार के दौरान 32,804.60 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ यह अंतत: गत दिवस के मुकाबले 435.16 अंक चढ़कर 33,042.50 अंक पर बंद हुआ।
सेंसेक्स की 30 में से 18 कंपनियों के शेयर हरे और शेष 12 के लाल निशान में रहे। एसबीआई के शेयर सबसे ज्यादा चढ़े जबकि कोटक महिंद्रा बैंक ने सर्वाधिक करीब साढ़े पाँच फीसदी का नुकसान उठाया। दवा कंपनियाँ भी दबाव में रहीं।
निफ्टी 113.45 अंक की बढ़त में 10,321.15 अंक पर खुला और कुछ ही देर में अपनी बढ़त 132.85 अंक तक बढ़ता हुआ 10,321.15 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर पर पहुँच गया। हालाँकि, यह 10,300 अंक के ऊपर टिक नहीं सका। कारोबार के दौरान 10,240.90 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ कारोबार की समाप्ति पर यह गत दिवस के मुकाबले 87.65 अंक की तेजी के साथ अब तक के रिकॉर्ड स्तर 10,295.35 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 50 कंपनियों में से 24 में लिवाल और 26 में बिकवाली का जोर रहा।
मझौली कंपनियों में अपेक्षाकृत कम तेजी रही जबकि छोटी कंपनियों में बिकवाली का जोर रहा। बीएसई का मिडकैप 0.42 प्रतिशत की तेजी के साथ 16,249.36 अंक पर पहुँच गया। वहीं, स्मॉलकैप 0.19 प्रतिशत टूटकर 17,159.30 अंक पर बंद हुआ। बीएसई में कुल 2,839 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1532 के शेयर लाल निशान में और 1160 के हरे निशान में रहे जबकि 137 के शेयर अपरिवर्तित बंद हुये।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar