न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

आलू से सुन्दरता : शहनाज हुसैन

सव्जियों के राजा आलू का जिक्र आते ही जहन में आते ही अक्सर प्रफेंच प्रफाईज/आलू के परांठे या समोसे पर ध्यान चला जाता है। आलू की फसल दुनिया में चौथी बड़ी पैदावार दर्ज की जाती है तथा आलू के पकवान पूरे विश्व के रसोईघरों में पकाए जाते है। लेकिन आलू विटामिन, मिनरल, आयरन, फासफोरस आदि गुणों से भरपूर होते है जिनसे त्वचा, बालों तथा अन्य सौंदर्य समस्याओं का घर बैठे आसानी से कम लागत में प्रभावी उपचार किया जा सकता है। आलू में विद्यमान हल्के ब्लीचिंग गुणों की वजह से यह हाईपर पिग्मन्टेंशन को रोकता है तथा त्वचा की रंगत में निखार लाता है। आलू में विद्यमान काटे चोलासे नाम इन्जाइम त्वचा में ताजगी तथा चमक लाता है तथा चेहरे पर काले ध्ब्बों, कील मुहांसों को रोकता है। आलू में विद्यमान विटामिन ‘सी’ त्वचा में कोलाजेन कोषिकाओं को बढ़ाकर समय से पहले चेहरे की झुर्रिया तथा बुढापे को रेाकता है तथा यौवनता की समय अवधि बढ़ाता है। ज्यादातर लोगों को यह भ्रम रहता है कि आलू खाने से वजन बढ़ता है जबकि इसके विपरीत वैज्ञानिक अनुसन्धान मैं यह पाया गया है कि आलू में विद्यमान पौष्टिक तत्वों से वजन कतई नहीं बढता। आलू को अगर छिलके सहित उबालकर खाया जाए तो यह वजन को नियन्त्राण में रखता है। आलू की नई प्रजातियों में कम कैलोरी तथा पोष्टिकता को मात्रा अधिक् पाई जाती है। वास्तव के डाक्टर हमें सेहत के मद्देनजर कार्बोहाईडेªट के लिए चीनी बिस्किट कन्पफैकशनरी, मिठाई आदि की जगह आलू के उपयोग की सलाह देते है। आलू के जूस को अन्य जूसों के मिश्रण में पीने से सौन्दर्य में निखार आता है तथा रंगत में निखार आता है। त्वचा सम्बन्धी अनेक सौन्दर्य समस्याओं को आलू के बाहरी उपयोग से ठीक किया जा सकता है।

  • आलू और अण्डे के फेसपैक को चेहरे पर लगाने से चेहरे की त्वचा में खिंचाव आता है तथा त्वचा में यौवनता लौट आती है
  • आधे आलू के रस में एक अण्डे का सफ़ेद हिस्सा मिला कर मिश्रण बना लें तथा इस मिश्रण को चहरे पर आधा घण्टा तक लगा कर चेहरे को साफ ताजे पानी से धो डालिये
  • इससे चेहरे के छिद्रों में खिंचाब आएगा तथा आप जवां दिखायी देंगे
  • आधे आलू रस में दो चम्मच दूध मिलाकर बने मिश्रण को कॉटन की मदद से पुरे चेहरे तथा गर्दन पर लगाइये
  • इस मिश्रण को आधा घंटे बाद पानी से धो डालिये
  • इसे हफ्ते में दो बार लगाने से चेहरे की त्वचा में ताजगी तथा यौवनता का अहसास होता है

आलू से त्वचा पर काले दाग ध्ब्बों को छुडाया जा सकता है। पुराने समय में त्वचा में खाज, खुजली के लिए आलू के चिकित्सकीय गुणों के वजह से जूस का बाहरी उपयोग प्रयोग में किया जाता रहा है। आलू के स्लाईस/पफांक को त्वचा के लाल चकतो, खाज आदि के उपचार में प्रभावी ईलाज माना जाता है। आलू के जूस को चेहरे पर लगाने से चेहरे की त्वचा में खिचाव आता है तथा चेहरे की झुर्रिया दूर होती है। आलू के उपयोग से गर्मी से झुलसी त्वचा को राहत मिलती है तथा ध्ब्बों को छुड़ाने में सहायक सिद्ध होते है, आलू के उपयोग से आंखों के इर्दगिर्द सूजन को कम करने में मदद मिलती है। आलू तथा खीरे के जूस को बराबर मात्रा में मिलाकर प्रतिदिन आंखों के इर्द गिर्द लगाने से आंखों की सुन्दरता बढ़ती है।
आलू के छिलकों से बालों की रंगत काली बनी रहती है। आलू के छिलको को पानी में उबालकर ठण्डा होने दे तथा इस पानी को शैम्पू के बाद बालों को धेने के उपयोग से बालों में चमक तथा कोमलता आती है।

आलू को निम्न प्रकार से प्रयोग किया जात सकता है।

  • आलू तथा हल्दी के फेसपैक से आपकी त्वचा की रंगत में निखार आता है
  • आधे आलू के रस में थोड़ी से हल्दी डालकर बने मिश्रण को आधा घण्टा तक लगा कर बाद में ताजे पानी से धो डालिये
  • इस पैक को हफ्ते में दो बार लगाने से त्वचा की रंगत साफ होनी शुरू हो जाती है तथा आप युवा लगने लगते है
  • आलू जूस को प्रतिदिन चेहरे तथा बाहर त्वचा पर लगाकर 20 मिनट बाद ताजे सापफ पानी से धे डालिए। इससे चेहरे की झुर्रियां खत्म हो जाएगी तथा चेहरे पर यौवनता लौट आएगी।

आलू के छिलके को ब्लैंड कर चेहरे पर कुछ समय तक हल्की-हल्की मसाज कीजिए तथा इसके बाद ताजे, सापफ पानी से धे डालिए। इससे त्वचा को सापफ रखने तथा काले ध्ब्बों को सापफ करने में मदद मिलेगी।
आलू को कदूकस करके दही में मिला कर इस मिश्रण को चेहरे पर 20 मिनट तक लगा रहने दीजिए तथा बाद में स्वच्छ ताजे पानी से धे डालिए इससे त्वचा पर नमी बनी रहेगी तथा शुष्क त्वचा से निजात मिलेगी।
आलू जूस या कदूकस आलू को चेहरे पर 15 मिनट तक लगाने के बाद स्वच्छ ताजे पानी से धो डालिए। इससे आंखों के नीचे सूजन खत्म हो जाएगी तथा आंखों में आकर्षण बरकरार रहेगी।
बिना छिले आलू को उबाल कर पेस्ट बना कर इसमें चार चमच मुल्तानी मिट्टी और कुछ गुलाब जल की बूँदे डालकर पेस्ट बना लें तथा इस पेस्ट को चेहरे , गर्दन ,हाथों की खुळी त्वचा पर लगा कर प्राकृतिक तौर पर सूखने दें तथा इसके बाद ताजे साफ पानी से धो डालें

  • इससे आपकी त्वचा की रंगत में निखार आएगा और चेहरे की आभा बढ़ेगी
  • कच्चे आलू को छीलकर उसका रश निकालकर इसमें चार चमच्च दूध मिलकर बने पेस्ट को कॉटन की मदद से चेहरे , गर्दन और शरीर के खुले भाग पर लगाएं और आधे घण्टे बाद ताजे साफ पानी से धो डालें
  • इसे हफ्ते में दो बार लगाने से चेहरे पर चमक लौट आएगी और कील मुहांसो से भी लाभ मिलेगा
  • अगर आपकी त्वचा काफी ड्राई हो गई है और आप बड़ी नामी ग्रामी कम्पनियों के महँगे उत्पाद लगा कर भी परेशान हैं तो आप आलू को ट्राई कर सकती हैं
  • ड्राई स्किन के लिए छह चमच आलू का रश लेकर उसमें दो चमच एक दिन पुराना दही मिला लीजिये
  • इस पेस्ट को चेहरे और गर्दन पर लगाने के आधे घण्टे बाद ताजे साफ पानी से धो डालिये तथा इसे हफ्ते में दो बार प्रयोग करने से आपकी ड्राई स्किन की समस्या समाप्त हो जाएगी

तैलीय त्वचा के लिए आलू जूस को मुलतानी मिट्टी तथा गुलाबजल में मिलाकर पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को होंठो तथा अंाखों के इर्द गिर्द क्षेत्रा को छोड़कर बाकी बचे चेहरे पर कोमलता से अहिस्ता-अहिस्ता लगा लें तथा जब यह सूख जाए तो ताजे जल से धे डाले। इससे त्वचा में तैलीयपन कम होगा तथा काले मुंहासे खत्म होगें। आलू तथा खीरे को कद्दूकस करके इसमें पक्के पपीते तथा दही में मिलाकर मिश्रण तैयार कर लें। इस मिश्रण को चेहरे पर 20 मिनट तक लगाकर चेहरे को ताजे सापफ पानी से धे डालिये। इससे त्वचा में चमक आयेगी तथा प्राकृतिक सुन्दरता को चार चांद लगेगे। आलू जूस को शहद में मिलाकर त्वचा पर 20 मिनट लगाकर धेने से त्वचा के काले दाग-ध्ब्बे खत्म हो जाते है।

शहनाज हुसैन
लेखिका अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त सौन्दर्य विशेषज्ञ है और हर्बल कवीन के नाम से लोकप्रिय है।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar