National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

इलायची ने करुणा को अपनी पहचान दोबारा पाने में मदद की

इलायची ने मुरारी की दुकान के सामने लहंगे की दुकान खोलने का फैसला किया

नई दिल्ली। सोनी सब का कॉमेडी ड्रामा ‘जीजाजी छत पर हैं’ इलायची (हिबा नवाब) की शरारतांे, पंचम (निखिल खुराना) के उसकी शरारतों से उबरने के संघर्ष और मुरारी (अनूप उपाध्याय) के अपनी बेटी को सही रास्ते पर ले आने के इर्द-गिर्द घूमती है। इस शो में किरदारों के कारण होने वाली कॉमेडी को दिखाया गया है, जो आपको पंचम जैसे अनूठे स्ट्रगलर से प्यार करने को मजबूर कर देगा। साथ ही आपको आजाद ख्याल इलायची और परेशान पिता से मोहब्बत हो ही जायेगी।
इसके आगामी एपिसोड में, मुरारी अपनी पत्नी करुणा (सोमा राठौर) का अपमान कर रहा होता है और उसके काम और क्षमताओं पर उंगली उठा रहा होता है। इलायची यह देखकर दुखी हो जाती है और अपने पिता को गलत साबित करने को चुनौती के तौर पर लेती है। वह मुरारी की दुकान के ठीक सामने एक लहंगे की दुकान खोलने का फैसला करती है, ताकि वह साबित कर सके कि लड़की भी उस काम में कामयाब हो सकती है, जो वह करना चाहती है। वह पंचम की मदद लेती है, लेकिन वह मुरारी के प्रति वफादारी के कारण इनकार कर देता है। हालांकि, इलायची हार मानने वालों में से नहीं है, वह करुणा के भाई छटंकी (फिरोज़) को अमिताभ बच्चन बनाकर दुकान के भव्य शुभारंभ पर बुलाने की योजना बनाती है। इससे मुरारी असुरक्षित महसूस करने लगता है, वह दंग रह जाता है और परेशान जा जाता है।
क्या मुरारी को उस योजना के बारे में पता चल जायेगा? क्या इलायची अपने पिता को गलत साबित कर पायेगी?
इलायची का किरदार निभा रहीं, हिबा नवाब कहती हैं, ‘‘इस कहानी का बिलकुल नया एंगल आने वाला है, जिसमें इस शो की महिला किरदारों को सशक्त बताया जा रहा है। अपनी शर्तों पर जिंदगी जीने के लिये वह सक्षम है। यह ट्रैक इस बात का बेहतरीन उदाहरण है कि कोई प्रेरक संदेश देने के लिये हमेशा उपदेशात्मक होने की जरूरत नहीं।’’
इलायची की मां का किरदार निभा रहीं, करुणा, सोमा राठौर कहती हैं, ‘‘टेलीविजन दर्शकों तक संदेश पहुंचाने का सबसे बेहतरीन माध्यम है। इसके आगामी एपिसोड में, हम दिखायेंगे कि महिला और पुरुष बराबर होते हैं, सारी विषमताओं के बावजूद एक ही प्लेटफॉर्म पर हो सकते हैं। करुणा के रूप में इस तरह के प्रेरक ट्रैक का हिस्सा बनना मेरे लिये गर्व की बात है।’’

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar