National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

उत्तर पश्चिमी रेलवे के 2600 कोच में लगेंगे

डिब्बों में लगेगें उत्कृष्ट क्वालिटी के साइनेज (संकेतक) ब्रेल लिपि में होने के कारण दृष्टिहीन भी होगें लाभान्वित

जयपुर। श्री पीयूष गोयल, रेलमंत्री, भारत सरकार की पहल से ट्रेन में यात्रियों को उत्कृष्ट सुविधायें प्रदान करने के लिये डिब्बों में बेहतर गुणवत्ता के ब्रेल लिपि युक्त साइनेज (संकेतक) लगाये जा रहे है। उत्तर पश्चिमी रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी श्री तरूण जैन के अनुसार यात्रियों को कोच के अन्दर किसी भी प्रकार की जानकारी आसानी से उपलबध हो इसके लिये प्रत्येक कोच में ब्रेल लिपि युक्त साइनेज (संकेतक) लगाये जा रहे हैं। यह साइनेज उत्कृष्ट क्वालिटी के मैंटेलिड बेस पर बनाये जा रहे है, इनकी दृष्यता बेहतर होने के कारण यह सभी यात्रियों के लिये उपयोगी होगें साथ ही ब्रेल में होने से दृष्टिहीन यात्री भी आसानी से सुविधाओं का उपयोग कर सकेगें। उत्तर पश्चिमी रेलवे पर अभी तक 250 कोच में ब्रेल साइनेज लगाने का कार्य पूर्ण किया जा चुका है, 400 कोच में लगाने आदेश जारी किये जा चुके है तथा 1950 कोच के लिये प्रक्रिया जारी है। इनके होने से उत्तर पश्चिमी रेलवे के सभी कोच में इन साइनेज को लगाने का कार्य हो जायेगा। एक कोच में ब्रेल लिपि साइनेज लगाने का खर्च लगभग 20 हजार तक आता है। वर्तमान में कोच में साइनेज (संकेतक) के लिये गम स्टिकर का उपयोग किया जाता है, जो कि थोडे समय बाद या तो हट जाते हैं या इधर-उधर से कट जाते है तथा गन्दे हो जाते है, जिससे इनकी कम/खत्म हो जाती है और यात्री अनावयश्क रूप से परेशान होते है। नये प्रकार के मैटेलिक बेस के ब्रेल साइनेज लगाये जाने में यह स्थाई रूप से लगे रहेगें। इनकी क्वालिटी बेहतर होने से इनकी दृष्यता अच्छी रहेगी तथा यह टिकाऊ व लम्बे समय तक चलेगें।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar