National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

एके मिश्रा फाउंडेशन द्वारा फ्री स्वास्थ्य कैम्प का आयोजन

नई दिल्ली। वंचित बच्चों और उनके माता-पिता को रोगों की रोकथाम एवं उनके उपचार के लिए एके मिश्रा फाउंडेशन ने सेव चाइल्ड बेगर के सहयोग ललिता पार्क (लक्ष्मी नगर ) खादर स्लम में स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया। इस कैम्प के दौरान इस क्षेत्र के 500 से अधिक लोगों की चिकित्सकीय जांच की गई। इस मौके पर कई गणमान्य व्यक्ति भी एके मिश्रा फाउंडेशन की इस महत्वपूर्ण पहल के समर्थन में आगे आए और इस कैम्प के दौरान अपनी उपस्थिति जताई। इस कैम्प के सफल आयोजन में जिन अनेक संस्थाओं एवं संगठनों ने सहयोग किया उनमें मृदुल फाउंडेशन, सेवा भारती, अजय रेलीफलाइन, ओपन आम्र्स और रसोई शामिल हैं। फेडरेशन और ऑफ रेजीडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन (फोर्डा, इंडिया) के डॉक्टरों की एक विशेष टीम ने मरीजों की स्वास्थ्य की जांच-पड़ताल की और और जरूरतमंद मरीजों को चिकित्सकीय सहायता प्रदान की।
एके मिश्रा फाउंडेशन के संस्थापक ए के मिश्रा ने कहा, ‘‘ग्रामीण भारत को सशक्त बनाना और गांवों का निरंतर विकास कराना हमारे राष्ट्र के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। मैं चाणक्य आईएएस अकादमी और एके मिश्रा फाउंडेशन के माध्यम से युवाओं पर खास तौर पर ध्यान केन्द्रित करते हुए समाज के सभी तबकों के लिए अवसरों के सृजन के लिए अपनी पूरी क्षमताओं के अनुसार काम कर रहा हूं क्योंकि युवा ही हमारे देश की वास्तविक संपत्ति हैं। यह कैम्प उसी दृष्टि के साथ आयोजित किया गया और मुझे खुशी है कि शिविर उत्साहजनक रूप से सफल साबित हुआ।’’ एके मिश्रा गैर-लाभकारी संगठन ए के मिश्रा फाउंडेशन के साथ चाणक्य आईएएस अकादमी के संस्थापक और अध्यक्ष भी हैं। एके मिश्रा फाउंडेशन सामाजिक गतिविधियों में सक्रिय हैं और पहले से ही हजारीबाग एवं देश के अन्य हिस्सों में कौशल विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम, रोजगार के अवसर, बच्चों के लिए क्रॉस कंट्री चैम्पियनशिप तथा बुजुर्गों के लिए स्वास्थ्य कैम्प आयोजित करता रहा है।
प्रसिद्ध चिकित्सकों के जरिए क्षेत्र में झोपड़ पट्टी के वंचित बच्चों को मुफ्त चिकित्सकीय जांच और चिकित्सा उपलब्ध कराने के पड़ताल और उपचार प्रदान करने के उद्देश्य से यह कैम्प आयोजित किया गया। इस मौके पर बीमारियों की जांच के लिए रक्त के नमूने लिए गए ताकि बच्चों की आगे की चिकित्सा हो। इसके अलावा चिकित्सकों ने जरूरमंदों को चिकित्सकीय पर्चे दवाइयों के सुझाव भी लिख कर दिए। साथ ही महिलाओं को दोबारा उपयोग में लाए जा सकने वाले सैनिटरी नैपकिन तथा मरीजों को जरूरी दवाइयोंं के अलावा जरूरतमंद परिवारों को 50 एक्वागार्ड भी वितरित किए गए ताकि क्षेत्र के लोगों को साफ पेय जल मिले।
इस मौके पर भिखारियों एवं अन्य बंचित बच्चों की ओर से भी नृत्य और नाटक जैसे सांस्कृतिक कार्यक्रमों को भी पेश किया गया। सांस्कृतिक कार्यक्रम को देखकर वहां आने वाले मेहमान इन भिखारियों और बंचित बच्चों की प्रतिभा देखकर दंग रह गए। इस कैम्प के आयोजन के बाद व्यापक पौधा रोपण कार्यक्रम चलाया गया ओर उस इलाके में 150 से अधिक पौधों लगाए गए। इसका उद्देश्य क्षेत्र के लोगों को हरा-भरा एवं स्वस्थ वातावरण प्रदान करना है। एके मिश्रा ने इस कार्यक्रम में सहयोग करने वाले सभी भागीदारों के प्रति कृतज्ञता व्यक्त करते हुए कहा, ‘मैं राष्ट्र को प्रति नि:स्वार्थ सेवा के लिए टीम सेव चाइल्ड बेगर को बधाई देना चाहता हूं। अगर सही सरोकार है तो कोई भी प्रयास व्यर्थ नहीं जाता है। यह युवा टीम बंचित बच्चों के जीवन में व्यापक परिवर्तन लाने में सक्षम है और मैं उन्हें शुभकामना देता हूं तथा एके मिश्रा फाउंडेशन की ओर से हर तरह के सहयोग का वायदा करता हूं। मैं फोर्डा के डॉक्टरों की टीम का भी शुक्रिया अदा करना चाहूंगा, जिन्होंने जांच-पड़ताल एवं बच्चों को जरूरी चिकित्सकीय सलाह प्रदान किया। एके मिश्रा फाउंडेशन आगे भी इस तरह की पहल के लिए सेव द बेगर एवं फोर्डा के साथ मिलकर काम करने को इच्छुक है। मैं यहां आने वाले हरेक व्यक्ति और इस पहल में हमारा साथ देने वाले हर संस्था को भी धन्यवाद देना चाहता हूं जो न केवल व्यक्तिगत रूप से बल्कि सामूहिक रूप से समाज को रहने के लिए बेहतर जगह बनाने की इस पहल में साथ दे रहे हैं।’’

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar