National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

एन एच ४३ में खडे रहते है बेपरवाह भारी वाहन

सड़क दुर्घटना में हुई वृद्धि
फुनगा । राष्ट्रीय राजमार्ग ४३ के दोनो तरफ हाईवा, ट्रेलर, टैंकर, ओव्हरलोड ट्रक जैसे तमाम अन्य सैकडों वाहन बेपरवाह बेधड़क खडे रहते हैं, जिसके चलते लोग अंधेरे का शिकार होकर दुर्घटना के गाल में समा जाते हैं। लोगों का मानना है कि शहडोल से कोतमा के बीच ऐसा कोई दिन न होता हो जिस दिन दो-चार मौत न होती हों। अधिकतर घटनाएं बुढार, ओपीएम, सांधा तिराहा, भोलगढ़, पसला, बिजौडी, फुनगा, ठूठी, पयारी, बदला, बसखली, केवई बेरियर के आस-पास संचालित होटल, ढ़ाबा के आस-पास भारी वाहन चालक अपने वाहनों को खड़ा कर नशे का लुप्त उठाते हैं और जब सामने से फर्राटे मारते कोई वाहन रात में निकलता है तो प्रकाश के चकाचौंध में भारी वाहनों से टकराकर लोग काल के गाल में समा रहे हैं। लोगों ने बुढार, अमलई, अनूपपुर, फुनगा, कोतमा, बिजुरी, रामनगर थाना प्रभारियों पर आरोप लगाया है कि ढ़ाबा संचालकों से अवैध वसूली कर वाहन खडा कराने में संरक्षण दे रहे हैं। जिसके चलते प्रतिदिन खडे वाहनों से टकराने के चलते लोगों की मौत हो रही है। राष्ट्रीय राजमार्ग ४३ में हो रहे दिन प्रतिदिन घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए आमजन में कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक तिलक सिंह से मांग किए हैं कि हाईवें में संचालित अवैध ढ़ाबों की जांच कर बेपरवाह भारी वाहन मुख्य मार्ग में खडे करने वालों पर कार्यवाही की जाये।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar