न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

एफआरडीए विधेयक का विरोध करें :कांग्रेस

अहमदाबाद। कांग्रेस ने लोगों से वित्तीय समाधान एवं जमा बीमा विधेयक (एफआरडीआई) 2017 का विरोध करने का अनुरोध करते हुये आज कहा कि इसके कानून बन जाने पर आम लोगों की बैंकों में जमा राशि के डूबने का खतरा बढ़ जायेगा।

कांग्रेस के प्रवक्ता अजय माकन ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि सरकार ने संसद के पिछले सत्र के दौरान एफआरडीआई विधेयक पेश किया था और इसे शीतकालीन सत्र के दौरान पारित किये जाने का प्रयास किया जा रहा है जिसका कांग्रेस जोरदार विरोध करेगी । चुनिन्दा पूंजीपतियों के डूबे कर्ज से बैकों को बचाने के लिए यह विधेयक लाया गया है ।

श्री माकन ने कहा कि इस कानून के बन जाने पर किसी भी सरकारी वित्तीय संस्थानों या बीमा कम्पनी को किसी व्यक्ति को दिया जा सकेगा । इस विधेयक के कारण 22 कानूनों में संशोधन होगा तथा बैंकों में जमा राशि पर बीमा की गारंटी समाप्त कर दी जायेगी । इस कानून के बनने के बाद राज्यों में स्थित सहकारी क्षेत्र के बैंक भी इसके दायरे में आ जायेंगे ।

उन्होंने कहा कि इस कानून के आने के बाद संसद , रिजर्व बैंक , सेबी , आईआरडीए और कई अन्य संस्थायें कमजोर होगी । श्री माकन ने कहा कि माेदी सरकार के कार्यकाल के दौरान बैंकों का गैर निष्पादित सम्पत्ति (एनपीए) तेजी से बढ़ी है। सरकार कर्ज वसूलने में विफल रहने वाली बैंकों को राहत देना चाहती है और इसी को ध्यान में रखकर इस विधेयक को लाया गया है ।
उन्होंने कहा कि कांग्रेस के शासन के दौरान एनपीए 3़ 84 प्रतिशत था जो अब बढ़कर 12. 47 प्रतिशत हो गया है। उन्होंने कहा कि 12 चुनिन्दा उद्योगपतियों पर 25 प्रतिशत एनपीए है ।
कांग्रेस नेता ने कहा कि इस कानून के बनने के बाद बैंको में जमा राशि को लेकर लोगों में न केवल अनिश्चितता बढ़ेगी, बल्कि कई प्रकार की दूसरी समस्यायें खड़ी होगी । उन्होंने कहा कि कांग्रेस हर स्तर पर इसका विरोध करेगी और विपक्षी दलों काे भी इसके लिए एकजुट करेगी ।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar