National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले को भरी सभा में मरा चांटा, समर्थकों ने मारने वाले को धुना, आज महाराष्ट्र बंद

ठाणे । केंद्रीय मंत्री और महाराष्ट्र में रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (ए) के अध्यक्ष रामदास आठवले को भरी सभा में एक शख्स ने जोरदार चांटा जड़ दिया। मुंबई से सटे ठाणे में एक कार्यक्रम में उन्हें एक युवक ने थप्पड़ जड़ दिया। यह घटना पुलिस की मौजूदगी में ठाणे के अंबरनाथ में हुई। थप्पड़ मारने वाले शख्स का नाम प्रवीण गोसावी है। इस घटना के बाद आठवले समर्थकों ने उसे पकड़ लिया और उसकी जमकर पिटाई की। पुलिस ने बताया कि रामदास आठवले शनिवार रात ठाणे के अंबरनाथ में एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने गए थे। उन पर हमला उस समय हुआ, जब वो मंच से नीचे उतर रहे थे। थप्पड़ मारने के बाद वह भागने लगा, तो आठवले के समर्थकों ने उसे पकड़ लिया और उसकी जमकर धुनाई कर दी। पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।
पुलिस ने बताया कि आठवले के समर्थकों की धुनाई से चोटिल हुए हमलवार को प्राथमिक उपचार दिया गया और फिर मुंबई के जेजे अस्पताल में भर्ती कराया गया। पुलिस का कहना है कि हमले की वजह साफ नहीं हो पाई है। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है। ज्ञात हो कि मराठा आरक्षण पर रामदास आठवले ने कहा था कि मराठा समाज को दिया गया आरक्षण कोर्ट में नहीं टिक सकेगा। वह चाहते है कि मराठा समाज को आरक्षण दिया जाए, लेकिन राज्य सरकार ने जिस तरह से आरक्षण दिया है, वह कानूनी नहीं है। आठवले पर हुआ हमला उनके इस बयान से जोड़कर देखा जा रहा है। इससे पहले गुजरात के सूरत में रामदास आठवले पर एक कार्यक्रम के दौरान एक युवक ने काला कपड़ा फेंका था। जब आठवले एक कार्यक्रम में केंद्र सरकार की उपलब्धियां गिना रहे थे, तभी यह युवक उनकी कुर्सी के पीछे आकर खड़ा हो गया था। केंद्रीय राज्यमंत्री मीडिया के सामने बोल रहे थे, तभी इस युवक ने अपनी जेब से काला कपड़ा निकाला और उनकी तरफ फेंकते हुए नारेबाजी शुरू कर दी थी। यह सब मीडिया के सामने हुआ था।
आठवले ने आरोप लगाया है कि उन पर हमले की साजिश पहले से रच ली गई थी। इस हमले के मास्टरमाइंड को गिरफ्तार किया जाना चाहिए। हमने 9 दिसंबर को महाराष्ट्र बंद का आह्वान किया है। उधर, हमले के बाद आठवले के समर्थक उनके घर के बाहर एकजुट हो गए। माना जा रहा है कि मामले को लेकर आज आठवले की पार्टी और उनके समर्थक सड़क पर उतरेंगे।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar