न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

कैंटर के भीतर तंदूर जलाकर सो रहे छह युवकों की दम घुटने से मौत

दिल्ली कैंट इलाके में कैंटर के भीतर तंदूर जलाकर सो रहे छह युवकों की दम घुटने से मौत हो गई। सभी युवक कैटरिंग का काम करते थे। सोमवार को समारोह खत्म होने के बाद वे कैंटर में जाकर सो गए थे। सभी युवकों की उम्र 25 से 35 वर्ष के बीच है।

शादी समारोह में हुआ हादसा
पुलिस उपायुक्त शिबेश सिंह ने बताया कि सोमवार को दिल्ली कैंट के मॉल रोड पर शादी समारोह था। देर रात लगभग दो बजे तक समारोह चला। इसके बाद वहां से कैटिरंग कर्मचारियों ने अपना सामान कैंटर में रखा और उसमें सवार होकर दिल्ली कैंट स्थित केन्द्रीय विद्यालय के पास एक मैदान में पहुंचे। इस जगह पर मंगलवार को आयोजित होने वाले समारोह में उन्हें काम करना था। रात लगभग 3 बजे छह कर्मचारी कैंटर के अंदर सो गए। इसी में शादी समारोह में इस्तेमाल हुआ तंदूर भी रखा था, जिससे धुआं निकल रहा था। मंगलवार दोपहर कैटरिंग कंपनी का सुपरवाइजर निर्मल वहां पहुंचा तो देखा कि कैंटर के अंदर मौजूद कर्मचारी बेहोशी की हालत में पड़े हैं। उन्होंने मामले की जानकारी पुलिस को दी और मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी को इलाज के लिए दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल पहुंचाया, लेकिन तब तक उनकी मौत हो चुकी थी।

धुएं ने दम घोंटा
प्राथमिक जांच में धुएं से दम घुटने के चलते मौत होने की बात सामने आई है। पुलिस को पता चला है कि मरने वाले सभी कर्मचारी कैटरिंग कंपनी में दिहाड़ी पर काम करते थे। वह चंदर विहार में एक किराये के मकान में रहते थे। हादसे में मरने वाले अनिल, अमित और पंकज उत्तराखंड के रुद्रपुर के रहने वाले थे। कमल नेपाल का रहने वाला था, जबकि अवध लाल और दीपचंद के बारे में पुलिस को अधिक जानकारी नहीं मिल सकी है।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar