National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

गरीबों को उजाड़ा तो सरकार की ईंट से ईंट बजा देंगे : धर्मबीर भड़ाना

विपक्षी दलों ने लोगों के बीच जाकर संभाला मोर्चा, प्रशासन ने टाली तोडफ़ोड़

फरीदाबाद। एन.एच.2 के सी व डी ब्लॉक के 5 हजार से भी अधिक लोगों को उजाडऩे के हाईकोर्ट के आदेश के बाद आप नेता धर्मबीर भड़ाना ने लोगों के बीच जाकर मोर्चा संभाल लिया और सरकार एवं प्रशासन को चुनौती दी कि अगर स्थानीय लोगों को उजाड़ा गया तो वो सरकार की ईंट से ईंट बजा देंगे। उन्होंने कहा कि सरकार में बैठे नेता एवं विधायक एक बार भी यह नहीं सोच रहे कि किसी गरीब का आशियाना जोकि उसकी आजीवन कमाई का हिस्सा है, किस प्रकार एक झटके में उजाडऩे के फरमान जारी कर देते हैं। भड़ाना ने कहा कि भाजपा सरकार हाईकोर्ट में लोगों की पैरवी करने में नाकाम रही, भाजपा सरकार ने हाईकोर्ट में हलफनामे में सच्चाई छिपाई, जिससे कारण यहां के 1500 लोगों के आशियाने उजाडऩे की नौबतआई। उन्होंने कहा कि सबका साथ-सबका विकास की बात करने वाली भाजपा सरकार, गरीबों को उजाडऩे का काम कर रही है। डबुआ कॉलोनी में इन लोगो को फ्लैट दिए जाने पर सरकार को घेरते हुए उन्होंने कहा कि सरकार को किसी को उजाडऩे से पहले उसको बसाने का इंतजाम करना चाहिए। इस अवसर पर वरिष्ठ नेता चन्दर भाटिया ने भी लोगों के बीच जाकर सरकार एवं प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की और उन्होंने आरोप लगाया कि स्थानीय विधायक एवं सांसद की गंदी राजनीति के कारण यह सब हो रहा है। उन्होंने कहा कि ये लोग नहीं चाहते कि गरीब बसे और चैन की सांस ले सके। इस मौके पर कांग्रेस ओबीसी सैल के प्रदेश चेयरमैन राकेश भड़ाना एवं वरिष्ठ कांग्रेसी नेता सरदार परमजीत सिंह गुलाटी ने कहा कि प्रशासन द्वारा वर्षाे से रह रहे गरीबों को उजाडऩा पूरी तरह से गलत है और कांग्रेस पार्टी इसका पुरजोर विरोध करती है तथा गरीबों को किसी कीमत पर उजडऩे नहीं दिया जाएगा। उन्होनें कहा कि भाजपा सरकार गरीबों को उजाडऩे पर तुली है, जबकि कांग्रेस ने सदैव गरीबों को बसाने का काम किया है। उन्होंने कहा कि गरीबों के इस संघर्ष में कांग्रेस पूरी तरह से उनके साथ है और हर स्तर की लड़ाई लडेगी। इस अवसर पर आम आदमी पार्टी संयोजक रणबीर चंदीला, पूर्व विधायक चन्दर भाटिया, पूर्व जिलाध्यक्ष गुलशन बगगा, पूर्व पार्षद राजेश भाटिया, कर्मचारी नेता नरेश शास्त्री, बलबीर बालगुहेर, धर्मबीर वैष्णव सहित हजारों लोगों ने सडक़ों पर उतरकर स्थानीय विधायक, प्रशासन एवं भाजपा सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar