न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

गाजियाबाद के भोजपुरी साहित्यकार को पं. धरीक्षण मिश्र साहित्य सम्मान

विजय न्यूज़ ब्यूरो
कुशीनगर। गाजियाबाद के सुप्रसिद्ध भोजपुरी कवि जयशंकर प्रसाद द्विवेदी को उनकी पहली भोजपुरी कृति “पीपर के पतई” के लिए सर्व भाषा ट्रस्ट द्वारा पं धरीक्षण मिश्र साहित्य सम्मान से नवाजा गया। उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिला जो भगवान बुद्ध की निर्वाण स्थली के रूप में जाना जाता है, गत 23 मार्च को ‘सर्व भाषा ट्रस्ट’ ने ‘जर्नलिस्ट्स वेलफेयर ऑर्गेनाइजेशन’ और ‘नवप्रभा मंच’ के साथ भगवान बुद्ध की परिनिर्वाण स्थली, अज्ञेय की जन्म-स्थली, कुशीनगर में अन्य सम्मानों के साथ ही ‘पं. धरीक्षण मिश्र साहित्य सम्मान 2018’ का आयोजन किया था,उसी समारोह में यह सम्मान विधायक रजनीकान्त मणि त्रिपाठी,डॉ वेदप्रकाश पाण्डेय और आर डी एन श्रीवास्तव के हाथों से प्रदान किया गया। दिल्ली, एन सी आर सहित पूरे देश में जयशंकर प्रसाद द्विवेदी को एक प्रखर भोजपुरी सेवी और भोजपुरी की एक मात्र मासिक पत्रिका ‘भोजपुरी साहित्य सरिता’ के संपादक के रूप में ख्याति प्राप्त है। जयशंकर प्रसाद द्विवेदी की अब तक भोजपुरी की दो पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं, जिसमें से एक काव्य संग्रह और दूसरा गीत संग्रह है। इसके अतिरिक्त भोजपुरी में उनकी अब तक सैकड़ों रचनाएँ विभिन्न पत्र पत्रिकाओं में प्रकाशित हो चुकी हैं। गाजियाबाद के भोजपुरी साहित्यकार का सम्मान वास्तव में गाजियाबाद की मिट्टी का सम्मान है।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar