National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

घुसपैठ करते 6 आतंकी ढेर

श्रीनगर। पाकिस्तानी सैनिकों ने सोमवार को उत्तरी कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर भारतीय ठिकानों पर भारी गोलाबारी करते हुए आतंकियों की घुसपैठ कराने का प्रयास किया, जिसे सेना ने नाकाम बनाते हुए छह आतंकियों को मार गिराया। दो घुसपैठिये बारामुला के उड़ी सेक्टर के रामपुर सब सेक्टर और चार कुपवाड़ा के टंगडार व नौगाम सेक्टर में मारे गए। इस दौरान सेना के एक लेफ्टिनेंट राहुल शेख सहित चार जवान घायल हो गए। एलओसी पर घुसपैठियों के खिलाफ सैन्य अभियान जारी है। सेना ने अपने पैरा कमांडो भी मैदान में उतार दिए हैं। सोमवार सुबह करीब छह बजे पाकिस्तानी सैनिकों ने टंगडार और नौगाम सेक्टर को जोड़ने वाली नट गली और बलथियाना के इलाके में भारतीय चौकियों पर गोलाबारी की। गोलाबारी 45 मिनट तक जारी रही। अचानक हुई गोलाबारी से भारतीय जवानों को घुसपैठ की कोशिश का अंदाजा हो गया। आठ बजे सेना की 20 आरआर और छह गढ़वाल के जवानों ने सात से आठ घुसपैठियों को भारतीय सीमा में देखा। जवानों ने उन्हें ललकारा, लेकिन घुसपैठियों ने गोलीबारी शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई में चार घुसपैठिये मारे गए। इसी दौरान आतंकियों के एक अन्य दल ने रामपुर सब सेक्टर के टुरना पोस्ट के पास से घुसपैठ का प्रयास किया। यहां भी सेना ने दो घुसपैठियों को मार गिराया। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने बताया कि पांच आतंकियों के शव बरामद कर लिए गए हैं और अभियान जारी है। मारे गए आतंकियों से चार असाल्ट राइफल व दो पिट्ठू बैग भी मिले हैं। 

पाकिस्तान ने दागे गोले, दो बच्चों की मौत

सेक्टर कमांडर स्तर की फ्लैग मीटिंग में सीमा पर शांति बनाए रखने के सारे वादे तोड़ते हुए पाकिस्तान ने सोमवार को जम्मू संभाग के पुंछ जिले के देगवार, शाहपुर व किरनी सेक्टर में जमकर गोले बरसाए। भारतीय चौकियों व रिहायशी क्षेत्रों को निशाना बनाकर की गई गोलाबारी में दो बच्चों की मौत और तीन जवानों सहित 15 लोग घायल हो गए। वहीं पाकिस्तानी सेना ने सोमवार देर शाम राजौरी के तरकुंडी सेक्टर में स्नाइपर शाट दगा, जो सीधे सीमा पर तैनात सीमा सुरक्षा बल की 163 बटालियन के जवान इरम रामाचंद्रन को लगा।

अन्य जवानों ने घायल को पास केसैन्य अस्पताल पहुंचाया।

वहीं श्रीनगर-मुजफ्फराबाद सड़क पर जुहामा में सोमवार शाम आतंकियों के ग्रेनेड हमले में दो पुलिसकर्मी घायल हो गए। हमले के बाद फरार आतंकियों को पकड़ने के लिए सुरक्षाबलों ने अभियान चला रखा है।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar