न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

चंडीगढ़ में 57 फीसद गर्ल्स स्टूडेंट इंटरनेट एडिक्ट

चंडीगढ़। पंजाब यूनिवर्सिटी की गर्ल्स स्टूडेंट्स पर स्टडी व रिश्तों का तनाव इस कदर बढ़ गया है कि इंटरनेट ने उनको अपना एडिक्ट बना लिया। यही नहीं, चंडीगढ़ में छात्राएं नाइट पार्टी व शराब की शौकीन भी होने लगी हैं। उससे उनका पूरा लाइफ स्टाइल ही बिगड़ कर रहा गया है। न तो वे पूरी तरह सो पाती हैं और न ही लाइफ इन्जॉय कर पाती हैं। दिनभर के तनाव के कारण खान-पान में भी बदलाव आ गया है।
इसका खुलासा पंजाब यूनिवर्सिटी की पब्लिक हेल्थ डिपार्टमेंट की एक स्टूडेंट राधिका के शोध में हुआ है। शोध के अनुसार, 57 फीसद गर्ल्स स्टूडेंट्स ऐसी हैं जो एक दिन भी इंटरनेट के बिना नहीं रह सकती। 35 फीसद को नियमित रूप से इसके बिना तनाव महसूस होता है। इनमें से 22 प्रतिशत ऐसी हैं जिनको कभी-कभी तनाव होता है। तनाव के चलते वो लगातार बीमारियों का भी शिकार हो रही हैं। करीब 35 फीसद मोटापे का शिकार हैं जो खराब लाइफ स्टाइल का नतीजा है। 28 फीसद को आंखों में समस्या है। शोध में सामने आया कि पीयू में 99 फीसद लड़कियों के पास मोबाइल या इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है।
शोध का प्रारूप
डॉ. जेएस सहरावत की गाइडेंस में की गई शोध में 288 लड़कियों के जीवन व उनकी दिनचर्या को जाना गया। उनसे उनके लाइफ स्टाइल, नींद, खाना, स्टडी व रिश्तों को लेकर सवाल पूछे गए। 20 से 30 साल की स्टूडेंट्स पर की गई इस शोध में इंटरनेट एडिक्शन के अलावा स्टूडेंट्स के तनाव में रहने, पैसे की कमी, शराब व सिगरेट पीने का भी खुलासा हुआ।

तनाव भरा जीवन
69 फीसद गर्ल्स पढ़ाई के चलते तनावग्रस्त रहती हैं। 33 फीसद ऐसी हैं जो प्रेम संबंधों के चलते स्ट्रेस के दौर से गुजर रही हैं। 20 फीसद को दोस्तों के साथ आपसी खटपट के तनाव महूसस होता है। 20 फीसद को पैसे की कमी के चलते दिक्कत है।

शराब और स्मोकिंग को बनाया शौक
शोध में सामने आया कि 20 से 25 साल की आयु की करीब 21 फीसद लड़कियां शराब का सेवन करती हैं। 25 से 30 आयु वर्ग की बात करें तो यह आंकड़ा 60 फीसद तक हो जाता है। स्थिति वास्तव में अलार्मिंग है कि लड़कियां भी लगातार नशे की गिरफ्त में जा रही हैं।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar