National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

चावला कालोनी स्थित इलैक्ट्रोनिक स्टोर से चोरों ने चुराया लाखों का माल

इसी क्षेत्र की दो अन्य दुकानों में भी वारदात को दिया अंजाम

फरीदाबाद। बल्लभगढ़ की चावला कालोनी के मस्ताना चौक पर स्थित तीन दुकानों मेें चोरों ने चोरी की और फरार हो गए। चोरों ने चोरी की इन वारदातों को अंजाम देने में करीबन तीन घण्टे का समय लिया। वारदात की घटना सीसीटीवी में रिकार्ड हो गई है। एक ही रात में तीन दुकानों में हुई चोरी के बाद दुकानदारों में भय का माहौल बना हुआ है। उन्होंने पुलिस प्रशासन से मांग की कि वह इन वारदातों को गंभीरता से लेते हुए चोरों को जल्द से जल्द पकडक़र उन्हें सख्त से सख्त सजा दें। प्राप्त जानकारी के मुताबिक चावला कालोनी में मस्ताना चौक पर जगदम्बा इलेक्ट्रिक स्टोर नामक दुकान है। बीती रात इस दुकान में एक अकेला चोर रात को करीब पौने दो बजे तीन बार में बराबर वाले रोड़ पर से एक शटर को तोडक़र उक्त दुकान में छत से घुसा और करीब तीन घंटे तक चोरी की वारदात को अंजाम दिया। चोर अपने साथ बिजली के सामान की इस दुकान में से अलग-अलग कंपनियों के कॉपर की तार के महंगे-महंगे कई बंडल, बिजली की मोटरें तथा नगदी लेकर सुबह करीब पौने पांच बजे उसी रास्ते से वापिस लौट गया जहां से वो घुसा था। वापिस जाते समय उसके हाथ में दो बोरे थे जिसमें वो चोरी का माल भरकर ले गया। यही नही चोर समझदारी का परिचय देते हुए दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे तथा उसकी डीवीआर भी साथ ले गया ताकि उसकी पहचान ना हो सके। लेकिन उसे शायद यह नहीं पता था कि उस दुकान के अलावा उस जगह पर भी कैमरे लगे हुए हैं जहां से वो चोरी करने के लिए दुकान में घुसा था। उस कैमरे में चोर के आने-जाने की सारी घटना कैद हो गई जिसके बल पर पुलिस अब चोर को पकडऩे का शायद प्रयास करेगी। वैसे जिस तरीके से चोर ने इस चोरी की वारदात को अंजाम दिया है उसे देखते हुए लगता है कि उसने चोरी करने से पहले दुकान की रेकी की थी जिसके बाद उसने यह वारदात की। जगदम्बा इलेक्ट्रिक स्टोर के मालिक रामअवतार गुप्ता का कहना है कि वे सुबह करीब साढ़े नौ बजे जब दुकान पर आए तो उन्हें दुकान खोलने पर चोरी की इस घटना का पता चला। इस पर उन्होंने इस घटना की सुचना देने के लिए संबंधित सिटी पुलिस थाने में फोन किया तो उन्होंने चौकी में जाने की बात कहकर अपना पल्ला झाड़ते हुए फोन काट दिया। उन्होंने फिर चावला कालोनी पुलिस चौकी में फोन किया लेकिन उन्होंने भी उनकी बात को अनसुना कर दिया। फिर उन्होंने 100 नंबर पर फोन किया लेकिन फिर भी करीब एक घंटे तक पुलिस मौके पर नहीं पहुंची। बकौल रामअवतार आखिर में उन्होंने पुलिस कमिश्रर डॉ0 हनीफ कुरैशी को फोन कर सारी उपरोक्त सारी घटना की जानकारी देते हुए पुलिस थाने-चौकी में किए गए फोन की बातों से अवगत कराया। बस फिर क्या था पुलिस कमिश्रर के आदेश मिलते ही स्थानीय चावला कालोनी के पुलिसकर्मी तथा थाना प्रभारी मौके पर पहुंच गए। यहीं नहीं क्राईम ब्रांच तथा सीआईडी की टीम भी घटनास्थल पर आ गई तथा सभी मौका-मुआयना करने लगे। वो बात अलग है कि एसएचओ महोदय मात्र पांच मिनट में ही खानापूर्ति कर वापिस चले गए। इसके अलावा भी इसी मार्ग पर स्थित दो अन्य दुकानें के ताले तोडक़र चोर हजारों का सामान चुराकर ले गए।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar