National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

चुनावी सर्गामियों के बीच डेरा समर्थक को लुभाते राजनैतिक दल

विजय न्यूज़ ब्यूरो
नई दिल्ली। जैसे जैसे राजनैतिक गलियारों में चुनावी माहौल गर्म हो रहा है डेरा सच्चा सौदा के समर्थकों को लुभाने में राजनैतिक दल कोई कसर नहीं छोड़ रहा हैं| डेरा प्रमुख बाबा राम रहीम और कई अन्य शीर्ष नेतृत्व के जेल में जाने से डेरा जो अभिभावक विहीन महसूस कर रहा था उसमे नई जान आते हुए दिख रहा हैं और पंजाब बिहार और राजस्थान जैसे राज्यों में फिर से अपनी छवि सुधारने की कोशिश कर रहा है। चाहे वो भाजपा हो या कांग्रेस सभी राजनैतिक संगठनों ने आगामी लोकसभा चुनाव में समर्थन के लिए डेरा से संपर्क किया है।
डेरा के लाखों अनुयाई है जो कि हरियाणा पंजाब के मतों में एक बड़ा हिस्सा है रखते है जिसे सभी राजनैतिक दल भी अच्छी तरह से समझते है और यही डेरा की एक बड़ी ताकत है और इसीलिए डेरा के समागम को समाबोधित करते हुए उनके एक बड़े अधिकारी ने कहा “कई राजनैतिक दलों ने हम से समर्थन की गुहार की हैं और यही समय है कि हमें एक जुट रह कर अपनी शक्ति को बढ़ाना है और उन्हें ये बताना कि हम जिसकी तरफ रहेंगे उन्हें चुनाव में जरूर बढ़त मिलेगी।“
हालांकि ये डेरा के लिए एक चुनौती से कम नहीं होगी क्योंकि पिछले सालों में डेरा को कथित रूप से कई अपराधों में लिप्तता बताई गई है जिसके वजह से डेरा प्रमुख जेल भी काट रहे हैं।

खबरों के बारे में पूछने पर डेरा में एक सेवक ने बताया “ये सब अफवाह के अलावा और कुछ भी नहीं हम क्या करेंगे और किसके पछ में रहेंगे इसका निर्णय आपसी सहमति से लिया जाएगा।”

डेरा ने 23 जगहों पर जिसमें पंजाब हरियाणा और दिल्ली शामिल है नाम चर्चा करा रहे हैं और उसी कड़ी में दिल्ली के कंझावला में नाम चर्चा में लगभग 45000 हजार लोग सम्मिलित हुए और हज़ारों को किताबें और अन्न भी वितरित किए गए।

डेरा का ये नाम चर्चा अपने लोगों को एकत्र करने और उसको एक आगामी चुनाव में अपने फायदे के लिए इस्तेमाल करने के नजरिए से देखा जाए तो गलत नहीं होगा। “साथ में हम मजबूती से खड़े रह सकते है अगर मौका चूके तो कमजोर हो जाएंगे । कई दलों ने हमसे समर्थन मांगा है हमें आपस में तय करना होगा की हम जिसकी तरफ है।” डेरा के एक अधिकारी ने नाम चर्चा के दौरान कहा।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar