न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

जमीयत उलेमा ए हिंद गुरुग्राम मार पीट पीड़ितों का मुक़दमा लड़ेगी

जमीअत के महासचि मौलाना महमूद मदनी ने हरियाणा के मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर सख्त कार्रवाई की मांग की, दूसरी तरफ जमीअत का एक प्रतिनिधि मंडल धमसपुरा गांव पहुंचा

विजय न्यूज़ ब्यूरो
नई दिल्ली। गुरुग्राम में मुस्लिम अल्पसंख्यक के घर पर हुए हमले पर जमीअत उलेमा ए हिंद के महासचिव मौलाना महमूद मदनी ने गहरी चिंता वयक्त किया है, और देश में उस तरह की हो रही घटनाओं पर सरकार से तत्काल कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने कहा कि भारत में धर्म, जाति के आधार पर हमले देश की महानता पर कलंक हैं। इसलिए, देश के शासक, सभी धर्मों के जिम्मेदार और प्रभावशाली लोगों को एक साथ आवाज़ उठाने की आवश्यकता है।
गुरुग्राम घटना पर मौलाना महमूद मदनी ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को एक पत्र भी भेजा है जिसमें मुख्यमंत्री को आकर्षित किया है कि इस घटना के सोशल मीडिया पर आने के बाद पूरे देश में चिंता है, इसलिए अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई हो और पीड़ितों के साथ न्याय किया जाए।
दूसरी ओर जमीअत के एक प्रतिनिधिमंडल ने धमासपुरा गुरुग्राम में परिजनों से मुलाकात के बाद यह घोषणा की है कि जमीअत इन मज़लूमों के लिए मुकदमा लड़ेगी। इस प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व मौलाना हकीमुद्दीन कासमी सचिव जमीअत उलमा ए हिन्द ने किया, जिस ने पीड़ितों और उनके परिजनों से मुलाकात कर ढारस बंधाई। प्रतिनिधिमंडल में जमीअत उलमा हरियाणा, पंजाब और हिमाचल के अध्यक्ष मौलाना यहया करीमी, सैयद ज़हीन अहमद मदनी सचिव जमीअत उलमा सहारनपुर, मुफ्ती सलीम बनारसी सचिव जमीअत उलमा गुड़गांव, मौलाना अरशद क़ासमी, मौलाना जफरुद्दीन क़ासमी, मौलाना नज़ीरूल हक़ करीमी शरीक थे, प्रतिनिधिमंडल ने परिजनों को आश्वासन दिया कि जमीअत आप मज़लूमों के मुकदमे लड़ने के लिए तैयार है ताकि न्याय में किसी भी तरह की रुकावट न हो.
बाद में प्रतिनिधिमंडल ने मारपीट में बुरी तरह घायल लोगों को लोक नायक अस्पताल नई दिल्ली के आपातकालीन वार्ड में ऐडमीट कराया, जहां उनकी देखभाल जमीअत दिल्ली प्रदेश के उपाध्यक्ष कारी अब्दुस्समी कर रहे थे।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar