न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

जेल में राम रहीम को मिली VIP सुविधाएं

राम रहीम को आईपीसी की धारा 376 यानी बलात्कार और धारा 506 यानी जान से मारने की धमकी देने का दोषी पाया गया है. कोर्ट से दोषी साबित होने के बाद राम रहीम को कल रात 9 बजकर 40 मिनट पर रोहतक की सुनारिया जेल भेज दिया गया.

रोहतक। बलात्कार का दोषी बाबा गुरमीत राम रहीम रोहतक की जेल में बंद हैं, लेकिन उसे जेल में पूरा वीआईपी ट्रीटमेंट मिल रहा है. रोहतक की जेल में बाबा राम रहीम की सेल में एसी लगा है. पानी का प्योरिफायर है. यही नहीं एक सहायक भी दिया गया है. सवाल ये है कि एक बलात्कार के दोषी को वीआईपी ट्रीटमेंट क्यों मिल रहा है?

मेहमान की तरह दी गई सुविधाएं

जिस शख्स को 24 घंटे पहले अदालत ने बलात्कार का दोषी मानकर जेल भेजा है. उस बलात्कारी बाबा गुरमीत राह रहीम को जेल में सामान्य कैदी की तरह नहीं, बल्कि जेल के मेहमान की तरह वीवीआईपी सुविधाएं दी गई हैं.

राम रहीम पर कौन-कौन से चार्ज लगे हैं?

राम रहीम को आईपीसी की धारा 376 यानी बलात्कार और धारा 506 यानी जान से मारने की धमकी देने का दोषी पाया गया है. कोर्ट से दोषी साबित होने के बाद राम रहीम को कल रात 9 बजकर 40 मिनट पर रोहतक की सुनारिया जेल भेज दिया गया, लेकिन यहां उसे जो सुविधाएं मिली हैं. वो किसी फाइव स्टार होटल से कम नहीं हैं.

जेल में अपने साथ ले गए कपड़े ही पहनेगा राम रहीम

जेल में राम रहीम को सलाखों के पीछे नहीं भेजा गया है, बल्कि एक कमरे में रखा गया है. इस कमरे में ऐशो आराम की सारी सुविधाएं हैं. कमरे के अंदर एक बेड है. राम रहीम जेल में अपने साथ ले गए कपड़े ही पहनेगा. इसके अलावा साफ पानी के लिए कमरे में पानी का प्यूरिफायर तक लगाया गया है. साथ ही एक एसी भी लगा हुआ है. यानी बलात्कार का दोषी जेल में फुल ऐश कर रहा है. जेल प्रशासन की ओर से उसे एक सहायक भी दिया गया है. जो 24 घंटे उसके साथ रहेगा.

क्या साधारण बलात्कारी इंसान के लिए ऐसा ही सूलूक करता है जेल प्रशासन

कोर्ट से दोषी साबित होने के बाद राम रहीम की तस्वीर सामने आई थी, जिसमें वो सफेद रंग के कपड़ों में नजर आया. उसने नागरा जूता भी पहन रखा था. राम रहीम अपने साथ कपड़ों से भरा बैग भी लेकर आया था. अब सोचिए अगर कोई कोई साधारण बलात्कार का दोषी होता तो उसके साथ पुलिस क्या सुलूक करती. उसे कोर्ट से सीधे जेल की सलाखों में ठूंस देती लेकिन राम रहीम के साथ ऐसा नहीं हुआ.

पंचकूला कोर्ट पहुंचने के दौरान भी राम रहीम ने अपनी ताकत दिखाई

पेशी के लिए पंचकूला कोर्ट पहुंचने के दौरान भी राम रहीम ने अपनी ताकत दिखाई थी. उसके काफिले में इतनी गाड़ियां चल रही थीं कि आप गिनते-गिनते थक जाएंगे. गुरमीत राम रहीम को वीवीआईपी ट्रीटमेंट मिल रहा है. इसकी वजह है खट्टर सरकार से करीबी. मुख्यमंत्री से लेकर हरियाणा के कई मंत्री तक उसके साथ दिख चुके हैं. शायद इसी वजह से उसे जेल में कैदी वाली नहीं बल्कि वीवीआईपी मेहमान वाली सुविधाएं दी जा रही है.

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar