National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

जोधपुर में पुलिसवालों ने राजनाथ को नहीं दिया गार्ड ऑफ ऑनर

जोधपुर। राजस्थान में सैलरी में हो रही कटौती से नाराज पुलिसकर्मियों ने केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह के सामने अनोखे तरीके से विरोध जताया है। खबरों के अनुसार जोधपुर में आईबी ट्रेनिंग सेंटर के उद्घाटन कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे गृहमंत्री को यहां गार्ड ऑफ ऑनर दिया जाना था लेकिन जो 8 पुलिसकर्मी गार्ड ऑफ ऑनर देने वाले थे वो छुट्टी पर चले गए। इसके बाद दूसरे जवानों को बुलाकर गृहमंत्री को सलामी दिलवाई गई।

दरअसल राजस्थान की पुलिस लगातार हो रही वेतन कटौती के चलते आंदोलन पर उतर आई है। इसी कड़ी में पुलिसकर्मियों ने सोमवार को सामूहिक अवकाश भी रखा था।

वेतनमान में कटौती को लेकर पुलिस के जवानों में भारी रोष व्याप्त है, ऐसे में 9 अक्टूबर से ही मैस का बहिष्कार कर रहे पुलिसकर्मियों ने पुलिस विभाग और सरकार को आंदोलन की चेतावनी दी थी, जिसके बाद सोमवार को बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी हड़ताल पर चले गए। ऐन दीपावली से पहले हुए इस आंदोलन से सरकार की परेशानी बढ़ गई है, क्योंकि दीपावली पर सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए पुलिस के अतिरिक्त जाब्ते का बंदोबस्त किया जाता है।

आंदोलन के तहत सीकर में तो एक पुलिस कांस्टेबल वेतन काटे जाने के विरोध में टंकी पर जा चढ़ा। अन्य पुलिसकर्मियों द्वारा समझाइश के बाद वो नीचे आया। पुलिस कांस्टेबल ने नीचे आने के बाद अन्य पुलिसकर्मियों से आंदोलन में शामिल होने की अपील की। अलग अलग संभागों में पुलिसकर्मी कार्य बहिष्कार करते हुए जिला कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन करने पहुंचे।

जोधपुर में हाईकोर्ट जजों की सुरक्षा में लगे पुलिस के गार्ड भी जजों को कोर्ट तक छोड़ने के बाद अन्य पुलिसकर्मियों के साथ आंदोलन में शामिल हुए। राजधानी जयपुर में सिविल लाइंस मेट्रो स्टेशन की सुरक्षा व्यवस्था में लगे राजस्थान पुलिस के जवानों ने सिर मुंडवाकर अपना विरोध दर्ज करवाया। इससे पहले भी जयपुर में ही रायसर चैकी के थाना प्रभारी समेत 5 कांस्टेबलों ने अपने सिर मुंडवा लिए थे जिन्हें अब एसपी ग्रामीण द्वारा लाइन हाजिर कर दिया गया है।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar