National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

ट्रिपल मर्डर केस: बहू ने सास-ससुर जेठ को गला घोंटकर मारा, यूं ठिकाने लगाईं लाशें

हरियाणा के सोहना में हुए मर्डर केस में पुलिस ने सनसनीखेज खुलासा किया है. पुलिस की जांच में सामने आया है कि यहां 2 नहीं बल्कि तीन हत्याएं हुई हैं. इसमें 2 लाश राजस्थान के अलवर और तीसरी लाश हरियाणा में जलाई गई थी. इस मामले में पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है. एक आरोपी फरार है, जिसकी तलाश की जा रही है.

जानकारी के मुताबिक, अलवर के रामगढ़ से गोबर के बिटोले से दो शव बरामद हुए थे. इसमें एक शव अधजली हालत में था. पुलिस इस मामले को ऑनर किलिंग का मान कर चल रही थी. लेकिन जब जांच शुरू हुई तो कई सनसनीखेज खुलासे हुए. यहां दो नहीं बल्कि तीन हत्याएं हुई हैं. जो ऑनर किलिंग नहीं, पैसे के खातिर एक सोची समझी साजिश थी.

इस मामले में मृतकों की पहचान हरियाणा के सोहना निवासी सतपाल (70) पत्नी पुष्पा देवी (65) और विकलांग बेटे पंकज के रूप में हुई है. पंकज की पत्नी उसे छोड़ कर चली गई थी. पंकज के कोई संतान भी नहीं है. उसके छोटे भाई विपिन ने कुछ समय पहले सुसाइड कर लिया था. दरअसल सतपाल ने दो महीने पहले 3 करोड़ रुपयों की जमीन बेची थी.

मृतक विपिन की पत्नी गीता इस पैसे को हड़पना चाहती थी. गीता ने भाई समरपाल और नौकर विकास के साथ मिलकर सास-ससुर और जेठ की हत्या की साजिश रच डाली. इसके बाद तीनों की हत्या कर गीता ने सास-ससुर को अलवर के रामगढ़ में जलवा दिया. जबकि अपने जेठ को हरियाणा के नगीना में जलवाया. शवों के जलने की दुर्गंध से मामले का खुलासा हुआ.

पुलिस के मुताबिक, ग्रामीण रणवीर सिंह ने बताया कि एक काले रंग की कार को उसने मौके से जाते देखा था. पुलिस ने पड़ताल कर सोहना-अलवर रोड पर रामगढ़ के पास के टोल से कार की पहचान की और कार मालिक शुभम तक जा पहुंची. कार मालिक ने पुलिस को पूरी कहानी बताई, जिसके बाद वारदात का खुलासा हुआ. पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज कर लिया.

तीन आरोपी गीता, उसके भाई सिमरदीप और नौकर विकास के खिलाफ जांच शुरू कर दी. राजस्थान पुलिस ने आरोपी गीता और विकास को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि सिमरदीप अभी फरार है. पुलिस के मुताबिक सिमरदीप अभी देहरादून में हो सकता है. उसकी गिरफ्तारी के लिए टीम गठित कर दी गई है. शवों का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है.

पुलिस के मुताबिक, जांच के दौरान तीन हत्याओं का मामला सामने आया. पंकज का शव बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. आरोपी गीता ने भाई और नौकर के साथ मिलकर इस वारदात को अंजाम दिया. पुलिस ने गीता और नौकर विकास को गिरफ्तार कर लिया है. फिलहाल समरपाल फरार है, जिसकी तलाश में पुलिस दबिश दे रही है.

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar