National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

तितली का असर दिखना शुरू,कई हिस्सों में तेज हवा के साथ बारिश

रांची।बंगाल की खाड़ी में आए चक्रवाती तूफान तितली का असर झारखंड के कई हिस्सों में दिखने लगा है। राजधानी रांची, उपराजधानी दुमका, जमशेदपुर, सिमडेगा, खूंटी, सरायकेला-खरसावां,गिरिडीह सहित राज्य के कई इलाकों में बुधवार रात से शुरू हुई बारिश गुरुवार को भी भर रूक-रूक जारी है।
राजधानी रांची में सुबह से ही हल्की बारिश हो रही है, इस दौरान 20-30किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा भी चल रही है। इस बारिश से दुर्गा पूजा पंडाल को अंतिम रूप देने में लगे कारीगरों की परेशानी बढ़ी है, वहीं पूजा बाजार भी असर पड़ा है। लेकिन किसान इस बारिश को खेती के लिए फायदेमंद मान रहे है।
मौसम विभाग ने गुरुवार को बोकारो, गुमला, हजारीबाग, खूंटी, रामगढ़, पूर्वी और पश्चिमी सिंहभूम, सरायकेला, सिमडेगा सहित अन्य जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। मौसम विभाग की ओर से अगले तीन दिनों तक झारखंड में अलर्ट घोषित किया गया है। मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार इन जिलों में 65 से लेकर 115 मिली मीटर तक बारिश हो सकती है।
चक्रवातीय तूफान तितली को लेकर आंधी-बारिश की आशंका के मद्देनजर आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा कई एहतियाती कदम उठाये गये है। वहीं प्रशासनिक अधिकारियों को अपने क्षेत्र में अलर्ट रहने का दिशा-निर्देश जारी किया है। साथ ही इस आंधी-बारिश में अगर किसी को नुकसान होता है, तो तत्काल उसे सहायता पहुंचाने को कहा गया है। बारिश से तापमान में भी गिरावट दर्ज की गयी है।
इधर, तितली के असर को देखते हुए विभिन्न जिलों में भी प्रशासन द्वारा एहतियाती कदम उठाया गया है। जिला प्रशासन की ओर से सभी दुर्गा पूजा पंडालों के संचालकों को विशेष मजबूती के साथ पंडाल बनाने का निर्देश दिया है, साथ ही पंडाल में विद्युत आपूर्ति को लेकर तार और कमजोर बिजली के तारों की मरम्मत करवाने की सलाह दी गयी है। इसके अलावा चक्रवात के दौरान वाहनों के आवागमन की धीमी गति से परिचालन करने, आकस्मिकता से निपटने के लिए अस्पताल, पावर स्टेशन, आपातकालीन सेवाएं इत्यादि तैयार की जाएंगी और एनडीआरएफ टीम व नागरिक रक्षा प्रतिक्रिया बलों को सतर्क रहने का निर्देश दिया गया है। साथ ही जेसीबी, एम्बुलेंस और कुछ छोटे वाहनों सहित त्वरित प्रतिक्रिया टीम (क्यूआरटी) प्रत्येक महत्वपूर्ण जगहों पर रखे जाने का निर्देश दिया गया है। वहीं चक्रवात तितली को लेकर जानकारी भी प्रसारित की जा रही है, वहीं बीएसएनएल और निजी दूरसंचार ऑपरेटरों को संचार बनाए रखने का निर्देश जारी किया है।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar