National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

दांबुला वनडे में टीम इंडिया की शानदार जीत, श्रीलंका को 9 विकेट से हराया

टीम इंडिया ने श्रीलंका को दांबुला में खेले गए पहले वनडे मैच में 9 विकेट से मात देकर पांच मैचों की वनडे सीरीज में 1-0 से बढ़त बना ली है. इस मैच में टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए श्रीलंका की पूरी टीम 43.2 ओवर में 216 रन पर ही ऑल आउट हो गई. इसी के साथ ही टीम इंडिया को जीत के लिए 217 रनों का टारगेट मिला. आसान से लक्ष्य का पीछा करते हुए टीम इंडिया ने 28.5 ओवर में ही 220 रन बनाकर 9 विकेट से मैच अपने नाम कर लिया. टीम इंडिया की ओर से शिखर धवन ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए 90 गेंदों में 132 रन बनाए. कप्तान विराट कोहली ने भी शानदार 82 रनों की पारी खेली. श्रीलंका के किसी भी गेंदबाज के बाद धवन और विराट कोहली का तोड़ नहीं था. श्रीलंका को एकमात्र विकेट रोहित शर्मा के रूप में मिला. वह भी रन आउट के जरिए. शिखर धवन को उनकी तूफानी पारी के लिए ‘मैन ऑफ द मैच’ का अवॉर्ड दिया गया. 

25 दिन में श्रीलंकाई दौरे पर तीसरा शतक

श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में 2 और अब दांबुला में खेले गए पहले वनडे में शतक लगाकर शिखर धवन ने इस श्रीलंकाई दौरे पर 25 दिनों में तीसरा शतक जड़ने का कारनामा किया है. श्रीलंका में सबसे तेज सेन्चुरी लगाने वाले इंडियन भी बन गए. साथ ही धवन श्रीलंका की धरती पर वनडे में सबसे तेज शतक लगाने वाले भारतीय बल्लेबाज बने हैं. शिखर धवन ने जबरदस्त बैटिंग करते हुए 90 गेंदों में 132 रन बनाए. ये श्रीलंका के खिलाफ धवन के वनडे करियर की तीसरी और ओवरऑल 11वीं सेन्चुरी रही.

नहीं चली श्रीलंका की बल्लेबाजी

पहले बल्लेबाजी करने उतरी श्रीलंकाई टीम को डिकवेला और गुणातिलका ने शानदार शुरुआत दी. दोनों ने मिलकर पहले विकेट के लिए 74 रन जोड़े.एक वक्त पर श्रीलंका का स्कोर 1 विकेट पर 139 रन था और वो काफी मजबूत स्थिति में नजर आ रही थी. लेकिन दूसरा विकेट गिरते ही श्रीलंका की पारी ढह गई. केदार जाधव ने डिकवेला का विकेट लेकर श्रीलंका को ऐसा झटका दिया, जिससे वो उबर नहीं पाई. इसके बाद तो लगातार विकेट गिरने का सिलसिला शुरू हो गया. 1 विकेट पर 139 रन बना चुकी श्रीलंका की टीम ने 178 रन तक पहुंचते-पहुंचते 7 विकेट खो दिए. वहीं 43.2 ओवर में पूरी टीम 216 रन पर ऑलआउट हो गई.

216 रनों पर ढेर हुई श्रीलंका

श्रीलंका की टीम को पहला झटका 13.6 ओवर में लगा. जब युजवेंद्र चहल की बॉल पर दानुष्का गुणातिलका (37) लोकेश राहुल को कैच दे बैठे. दूसरे विकेट के लिए डिकवेला और मेंडिस ने 65 रन की पार्टनरशिप की. भारत को दूसरा विकेट 24.3 ओवर में मिला. जब निरोशन डिकवेला (64) को केदार जाधव ने एलबीडब्लू कर दिया. उस वक्त श्रीलंका का स्कोर 139 रन था. श्रीलंकाई टीम का स्कोर 27 ओवर में 2 विकेट पर 150 रन था. लेकिन इसके बाद 28 रन के अंदर 5 और विकेट गिर गए. तीसरा विकेट 27.1 ओवर में अक्षर पटेल ने कुसल मेंडिस (36) को बोल्ड करके लिया. चौथा झटका केदार जाधव ने 166 के स्कोर पर दिया. जब उन्होंने 32.2 ओवर में कप्तान उपुल तरंगा (13) को शिखर धवन के हाथों कैच करा दिया. एक ओवर बाद ही कपुगेदरा (1) भी आउट हो गए. उन्हें 33.2 ओवर में विराट ने रन आउट कर दिया. ये श्रीलंका का पांचवां विकेट था. हसरंगा (2) के रूप में छठा विकेट गिरा, 34.2 ओवर में 176 के स्कोर पर अक्षर पटेल की बॉल पर केदार जाधव ने कैच लेकर उन्हें वापस भेज दिया. सातवां विकेट थिसारा परेरा (0) का रहा, 35.5 ओवर में जसप्रीत बुमराह ने बोल्ड कर दिया. 38.5 ओवर में लंक्षण संदाकन (5) के रूप में टीम का आठवां विकेट गिरा. उन्हें अक्षर पटेल ने एलबीडब्लू कर दिया. युजवेंद्र चहल ने 41.2 ओवर में लसिथ मलिंगा (8) को स्टंप कराते हुए श्रीलंका का नौवां विकेट गिराया. आखिरी विकेट के रूप में विश्वा फर्नांडो (0) का विकेट 43.2 ओवर में गिरा. उन्हें जसप्रीत बुमराह ने बोल्ड कर दिया. भारत की ओर से अक्षर पटेल ने 3 विकेट लिए. वहीं केदार जाधव, जसप्रीत बुमराह और युजवेंद्र चहल को 2-2 विकेट मिला. इससे पहले टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया है और श्रीलंका की टीम को पहले बल्लेबाजी करने का न्योता दिया है.टीम इंडिया के प्लेइंग इलेवन में लोकेश राहुल, अक्षर पटेल भुवनेश्वर कुमार और युजवेंद्र चहल शामिल हैं. वहीं श्रीलंका टीम में चामरा कपुगेदरा, तिसारा परेरा और विश्वा फर्नांडो को जगह दी गई है. इस मैच में विश्वा फर्नांडो वनडे डेब्यू कर रहे हैं.

कोहली को याद आया अपना डेब्यू वनडे

कोहली ने टॉस जीतकर कहा, “हम लक्ष्य का पीछा करेंगे. काफी समय के बाद हम इस ट्रैक पर खेलेंगे. ट्रैक में ज्यादा घास नहीं है जितनी यहां हुआ करती थी. उम्मीद कर रहे हैं कि यह ऐसा विकेट होगा जिसमें बैटिंग करके मजा आएगा. हमें लक्ष्य का पीछा करना पसंद है. टॉस जीतने से आपके पास थोड़ा लाभ होता है. लेकिन आपको अपनी स्किल्स को लागू करना होता है. विराट कोहली ने 9 साल पहले इसी मैदान पर डेब्यू किया था. अपने डेब्यू को याद करते हुए उन्होंने कहा, 9 साल पहले मैं उसी कुर्सी पर बैठा था. कुछ खुशनुमा यादें हैं. आइडिया ये है कि हमें मैच जीतने के बाद भी सुधार करना है. जैसा कि मैंने कहा कि आपको बढ़िया शुरुआत करनी होगी. चार खिलाड़ी जिन्हें जगह नहीं मिली है वे मनीष पांडे, शार्दुल ठाकुर, कुलदीप यादव और अजिंक्य रहाणे हैं. टेस्ट सीरीज में 3-0 से ऐतिहासिक जीत दर्ज करने के बाद टीम इंडिया का मकसद होगा अपनी जीत की लय को बरकरार रखना. वहीं श्रीलंकाई टीम चाहेगी कि वो टेस्ट सीरीज में मिली हार का बदला ले. वैसे श्रीलंकाई टीम के लिए ये इतना आसान भी नहीं है, क्योंकि आईसीसी वनडे रैंकिग में तीसरे स्थान पर मौजूद टीम इंडिया के पास ऐसे कई खिलाड़ी हैं जो श्रीलंका टीम पर भारी पड़ सकते हैं.

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar