National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

दिमाग में फ्यूल की कमी से आता है गुस्सा

खाना खाते ही हो जाते हैं नॉर्मल

नई दिल्ली। जरा सोचकर देखिए कि हमें जब भूख लगती है तो सिर्फ गुस्सा ही क्यूं आता है? हमारे अंदर और कोई भावना क्यूं नहीं उत्पन्न होती है? दिमाग अचानक से काम करना सही ढंग से क्यूं बंद कर देते हैं? कई ऐसी चीजें हैं जो हमारे साथ होती हैं जब हम काफी भूखे हो जाते हैं। और हां, खाना खाते ही नॉर्मल भी हो जाते हैं। इसके पीछे एक कारण है। दिमाग के लिए हमें फ्यूल चाहिए होता है जो हमें खाने से मिलेगा। बॉडी का हर सेल एनर्जी की डिमांड करता है। जब हमारी बॉडी को सही समय पर सही पोषक तत्व नहीं मिलते हैं तो हमें स्वास्थ्य संबंधी कई समस्याएं हो सकती हैं। इसके कारण सबसे पहले हमें गुस्सा आता है और इरिटेट होने लगते हैं। इसके अलावा इससे हमारी मांसपेशियां भी कमजोर होती हैं। हमारे शरीर में कई हॉर्मोन रिलीज होते हैं जिनकी मदद से हमारी बॉडी काम करती है। सेरोटोनिन और मेलाटोनिन दो ऐसे हॉर्मोन हैं जिनके रिलीज होने से हमारा शरीर रिलैक्स होता है। अगर हम ज्यादा लंबे समय के लिए भूखे रहते हैं तो इससे हमारा शरीर स्ट्रेस महसूस करने लगता है जो गुस्सा आने का कारण है। जैसे ही हमारे शरीर में पोषक तत्व पहुंचते हैं वैसे ही हमारी पाचन क्रिया काम करने लगती है। कार्बोहाइड्रेट्स, प्रोटीन और फैट्स तीनों पचकर शुगर, अमीनो एसिड और फ्री फैटी एसिड में बदलते हैं। ये पोषक तत्व आपके खून में पहुंचते हैं। इसके बाद आपके शरीर के हर ऑर्गन में ये पास होते हैं जिससे आपको एनर्जी मिलती है।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar