न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

नवरात्रों के दौरान सौन्दर्य टिप्स

इस साल पवित्र शरदीय नवरात्रे 29 सितम्बर से 8 अकतुबर तक मनाये जा रहे हैं। नवरात्रों में ज्यादातर महिलायें धार्मिक कारणों से व्रत रखती हैं जिसका उन्हें दीर्ध कालीन तौर पर मानसिक , आध्यात्मिक और शारीरिक तौर पर लाभ मिलता है / व्रत रखना सौन्दर्य के हिसाब से भी उत्तम माना जाता है। कुछ महिलाएं पुरे नौ दिन का ब्रत रखती हैं और दिन में सिर्फ शाम के बक्त ही खाना खाती हैं। नवरात्रों की धूम से करवा चौथ दिवाली तक के त्योहारी सीजन में महिलाओं पर घर को सजाने , मेहमानबाजी , शॉपिंग आदि की कई जिम्मेदारियां आ जाती हैं जिससे वह मानसिक और शारीरिक रूप से थकावट महसूस करती हैं और यह थकावट उनके चेहरे पर झलकती है। त्योहारों के पावन दिनों में जब की आप खिली खिल्ली और उल्हास भरे ख़ुशी के अंदाज़ में दिखना चाहती हैं लेकिन बार बार ब्यूटी पार्लर जाकर फेसिअल करबाने का बक्त भी नहीं निकाल पाती। ऐसे में कुछ घरेलू उपचार के माध्यम से आप चेहरे की आभा बनाये रख सकती हैं और आपकी जेब पर कोई बोझ भी नहीं पड़ेगा।

नवरात्रों जैसे त्यौहार चकाचैंध रोशनी में मनाएं जाते है। इसलिए चकाचैंध रोशनी में आपको चमकीले रंगों से परिपूर्ण सौंदर्य प्रसाध्नों का प्रयोग करना चाहिए अन्यथा त्यौहार के दौरान आपके चेहरे की चमक फीकी पड़ जाएगी।
इस त्यौहार में दौरान अपनी प्राकृतिक आभा एवं सौंदर्य बनाए रखने के लिए सबसे पहले अपनी त्वचा को साफ करें तथा उस पर तरल माॅइस्चराइजर लगा लीजिए। तैलीय त्वचा के लिए काॅटनवूल की मदद में चेहरे पर अस्ट्रिजन्न्ट लोशन लगा लीजिए तथा कुछ मिनट तक इंतजार करने के बाद चेहरे के दाग धब्बों को फांउडेशन लगाने से पहले संगोपक से ढक लीजिए या धब्बों पर हल्के रंग का फाऊंडेशन लगाए तथा उसके बाद पूरे चेहरे पर सामान्य फाऊंडेशन का उपयोग करें। यदि आप कोई मुहांसा या काला धब्बा कवर करना चाहते है तो उसे फांउडेशन के उपयोग से पहले ढक लें।
चेहरे पर फाउंडेशन लगा कर इसे गीले स्पंज से या ऊंगलियों की मदद से चेहरे तथा गर्दन पर पूरी तरह मिला लें। फाऊंडेशन को स्थिर करने के लिए खुला पाऊडर उपयोग में लाएं फाउंडेशन को मटमैले टोन से उपयोग करें न कि गुलाबी टोन से। मेरी राय में भारतीय त्वचा पर मटमैला रंग काफी जंचता है। यदि आपकी त्वचा अत्यध्कि गोरी है तो गुलाबी रंगत वाली मटमैली टोन का उपयोग करें। यदि आपकी त्वचा निखरी है लेकिन इसमें पीलापन है तो उस दशा में गुलाबी रंगत वाली टोन का उपयोग न करें बल्कि बिस्कुट रंगत को टोन का उपयोग करें। सांवले रंग में भूरे रंग की टोन उपयुक्त है। मेरे विचार में ज्यादातर भारतीय त्वचा के रंग पीले की अपेक्षा मटमैले तथा बिस्किट फाउंडेशन में ज्यादा आकर्षक दिखते है।
नवरात्रों में पावन त्यौहारों में आप गोल्ड फाउंडेशन का उपयोग भी कर सकती है। इसे चेहरे पर लगाईए तथा गीले स्पंज से पूरे चेहरे पर धूमा दीजिए ताकि त्वचा को सुनहरी रंगत दी जा सके। जब भी आप मेकअप करे तो उसे जरूरत से ज्यादा न लीपें तथा न ही जयादा रंगड़े। फाउंडेशन या ब्लशर में उसे स्पर्श से उंगलियांे के उपयोग से लगाना ही बेहतर होता है। इसे गीले स्पंज से भी हल्के तरीके से पूरे चेहरे पर लगाया जा सकता है।
गालों पर हल्के बल्शर का प्रयोग किया जाना चाहिए तथा पाऊडर ब्लशर का उपयोग आसानी से किया जा सकता है तथा उसे पाऊडर लगाने के बाद प्रयोग करें। इसे गालों पर लगाने के बाद ऊपरी तथा नीचली तरफ सहजता धीरे-धीरे लगाऐ। उसके बाद गालों पर हल्के रंग हाईलाइटर का प्रयोग करें तथा इसे पूरी तरह त्वचा पर मिला लें। रात्रि में ब्लशर के रंगों का होंठों के रंगों के अनूकूल होना जरूरी नहीं है यदि आपने नारंगी लिपस्टिक लगाई है तो नारंगी व्लशर का प्रयोग न करें। निखरी त्वचा के लिए गुलाबी तथा लाल ब्लशर का प्रयोग करें। यदि आपकी त्वचा में पीलापन है तो नारंगी ब्लशर के उपयोग से परहेज करें । गेहूएं रेग की त्वचा गुलाबी, मुंगिया, कांस्य रंग अत्याधिक लाभदायक हो सकते है तथा सांवले रंग के लिए आलू बुखारा, गहरा लाल रंग तथा कांस्य रंग सबसे ज्यादा उपयुक्त साबित होगा।
आंखों की सुन्दरता के लिए आंखों की ऊपरी पलक पर हल्के भूरे रंग की शैडों लगाएं तथा क्रीज में गहरे भूरे रंग का उपयोग करें। आंखों को गहरे आई पेंसिल या आई लाईनर की मदद से सज्जित करंे। ऊपरी परत पर गहरी आई शैडों भी काफी प्रभावी साबित होती है।
वास्तव में काली आई लाईनर या चमकार आंखों का दौर चल रहा है।
नवरात्रों के दौरान आंखों के सौंदर्य के लिए आप सुनहरी, रूपहली या कांस्य प्रतिछाया को ऊपरी परत पर लगाने के लिए प्रयोग में ला सकती है। भौंहों को सुनहरी या हल्की रंग की छाया से चिन्हांकित करें।
सामान्य भारतीय त्वचा के लिए मूंगिया, अंगूरी, आलु बुखारा, स्ट्राबरी, लाल रंग की शेड की लिपस्टिक काफी आर्कषक साबित होती है। गहरी गुलाबी तथा गुलाबी-लाल भी उपयोगी साबित होगी। ज्यादातर त्वचा के अनुकूल लगने वाली गुलाबी शेड आसानी से मिल जाती है। सांवली त्वचा के लिए नारंगी तथा मुंगिया शेड का उपयोग करें तथा साफ त्वचा के लिए नांरगी शेड का उपयोग करें। त्यौहार में बिन्दी सौंदर्य का अभिन्न अंग मानी जाती है। अपनी डेªस से मिलती जुलती आकर्षक बिन्दी का उपयोग करें।
नवरात्रों में अगर आप गरबे में जाती हैं तो डांस की बजह से आपका मेकअप पसीने में बह जाता है ऐसे में मेकअप को ज्यादा देर तक चलाने के लिए मेकअप से पहले चेहरे को साफ पानी से धोने के बाद इस पर आइस क्यूब रगड़ें जिससे आप का मेकअप लम्बे समय तक चलेगा / इस दौरान अगर आप पारिवारिक या धार्मिक आयोजनों की बजह से देर रात घर आती हैं तो रात को सोने से पहले मेक अप उतारना कतई न भूलें / देर रात्री तक चलने बाले आयोजनों में होंठों पर गहरे रंग की लिपस्टिक लगायें ताकि यह आप के होंठों पर साफ नज़र आए /शाइनिंग बाली लिक्विड लिपस्टिक बेहतर होगी ।

शहनाज हुसैन

लेखिका अन्र्तराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त
सौन्दर्य विशेषज्ञ है तथा हर्बल क्वीन

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar