National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

“नासा में लिया प्रशिक्षण एक अतुलनीय अनुभव हैं”: सुशांत सिंह राजपूत

हालही में अलबामा में रहें नासा के ‘स्पेस एन्ड रॉकेट सेन्टर’ से ट्रेनिंग लेकर देश लौटे सुशांत सिंह राजपूत अब अंतरिक्ष यात्री के रूप में अपनी अगली फिल्म ‘चंदा मामा दूर के’ की शुटिंग के लिए तैय्यार हो गए हैं।

अंतरिक्ष यात्रा पर बननेवाली फिल्म चंदामामा दूर के भारत की पहली स्पेस पर बननेवाली फिल्म हैं। संजय पुरन सिंह चौहान ने यह फिल्म निर्देशित की हैं। यह एक ऐसा अंतरिक्ष मिशन होता हैं, जिसकी वजह से पूरा देश एकत्रित आता हैं।

स्वेदस और जानेमन जैसी फिल्मों की वजह से बॉलीवूड का नासा के साथ एक खास कनेक्शन हैं। लेकिन यह पहली बार होगा, की नासा की टिम ने एक बॉलीवूड अभिनेता को नासा में बुलाकर उसे फिल्म में रहीं अंतरिक्ष यात्री की भूमिका के लिए ट्रेनिंग दी हो।

युएसएसआरसी व्दारा सुशांत सिंह राजपूत को उनके अंतरिक्ष यात्री की भूमिका के लिए प्रशिक्षित किया गया हैं। उनकी कार्यशालाओं और विभिन्न प्रशिक्षण पध्दती में सुशांत ने ट्रेनिंग ली हैं। और नासा में प्रशिक्षण लेने का मौका मिलने से और वहाँ अंतरिक्ष यात्री की तरह ट्रेनिंग मिलने से सुशांत बेहद खुश हैं।

इस पूरे अनुभव के बारे बताते हुए सुशांत कहते हैं, की, “यह एक अद्भुत अनुभव था। पिछले बीस सालों से मेरे दिमाग में सिर्फ फॉर्म्युला औऱ थिअरीज ही थें। लेकिन पहली बार,मैने कई सारे अनुभव लिए। जिरो ग्रैविटी क्या होती हैं। स्पेस में जाना क्या होता हैं इसका अनुभव पहली बार लिया। मैंने जो सिर्फ किताबों में पढा था। जो सच्चाई में महसूस किया। वह दूनिया ही, काफी अलग होती हैं। पार्क में गयें एएक बच्चें की तरह हर एक चीज समझने और करने का मन वहाँ जाकर हो रहा था।”

भौतिकशास्त्र में सुशांत को अव्वल नंबर आतें थें। और उन्हें अंतरिक्ष-भौतिकशास्त्र में पहले सें ही रूची रहीं हैं। यहाँ तक की उनके पास तारे देखने की दूरबीन भी हैं। सुशांत कहतें हैं “यह दुनिया की सबसे दूर की दूरबिनों में से एख हैं। इससे शनि के छल्ले भी दिख सकतें हैं।”

दिनेश जाला

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar