National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

निगम अधिकारियों की लापरवाही के चलते होटल व्यवसाय हुआ ठप्प

बुकिंग करा चुके लोग अपने कार्यक्रम की जगह बदलने पर कर रहे है विचार

मनोज तोमर/विजय न्यूज ब्यूरो

फरीदाबाद। शादियों के सीजन में नीलम-बाटा रोड स्थित होटल व्यवसायियों का कारोबार जहां गुलजार हुआ करता था वहीं नगर निगम अधिकारियों की लापरवाही के चलते नीलम-बाटा रोड पर उडऩे वाली धूल व अधूरा सडक़ निर्माण कार्य के चलते लोग यहां बने होटलों में अपने आयोजन करने से कतराने लगे है और हालात ऐसे हो गए है कि जो लोग शादियों की बुकिंग करा चुके है, वह भी इस मार्ग की बदहाली को देखकर अपने कार्यक्रम की जगह बदलने पर विचार करने लगे है। हैरानी की बात तो यह है कि इस नीलम-बाटा रोड इस बात के लिए प्रसिद्ध है कि इस पर सर्वाधिक लगभग एक दर्जन होटल व बैक्वेंट हॉल हैं। ऐसे में रास्ता बंद होने व उड़ती धूल व कूड़े के ढेरों के चलते होटल व बैक्वेंट संचालकों को काफी नुकसान झेलना पड़ रहा है। शहर के प्रमुख माने जाने वाला नीलम-बाटा रोड नगर निगम के अधिकारियों की कार्यशैली को बखूबी बयान कर रहा है। इस रोड को बनाने का कार्य लंबे समय से चल रहा है। ठेकेदार द्वारा सडक़ तो खोद दी गई है तथा मिट्टी के टीले बनाकर सडक़ का आवागमन भी बंद कर दिया गया है। उसके निर्माण का कार्य बहुत ही सुस्त गति से चल रहा है। ऐसे में जब प्रदूषण शहर में खतरनाक स्तर तक पहुंच गया है, सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि मिट्टी के ऊंचे-ऊंचे टीले से वायु कितनी अधिक प्रदूषित हो रही होगी। इतना ही नहीं इस रोड पर कचरे के भी ढेर लगे हुए हैं। इन कचरों के ढेर में से इतनी बदबू उठती है कि वहां से निकलना भी दूभर होता है। ऐसे में स्थानीय दुकानदार किस प्रकार कार्य कर रहे होंगे, इसका सहज अंदाजा लगाया जा सकता है। इस रोड के दोनों और लगभग एक दर्जन होटल व बैक्वेंट हॉल स्थित हैं। शादियों का सीजन चल रहा है। ऐसे मेें जिन लोगों ने उक्त  होटल्स व बंैक्वेंट को बुक किया था, उन्होंने अपनी बुकिंग रोड की जर्जर हालत व गंदगी को देखकर कैंसिल करवानी शुरु कर दी है, जिससे होटल बंैक्वेंट हॉल मालिकों को काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है। इसके अलावा इस मार्ग पर कई बैंकों के साथ-साथ मोटरसाइकिलों के शोरुम भी स्थित है, उनके व्यवसाय पर भी इसका सीधा असर देखने को मिल रहा है। अधिकारियों व नेताओं का आवागमन भी इस रोड से होता है। यहां पड़ी गंदगी को वे देखकर भी अनदेखीा कर जाते हैं। रास्ता बंद होने के कारण लोगों को भी काफी परेशानी होती हैं परंतु इन सबके बावजूद न तो किसी अधिकारी को इसकी चिंता है और न ही किसी नेता को, जिससे इस रोड पर व्यवसायिक गतिविधियां चला रहे लोगों में प्रशासन व सरकार के प्रति रोष है।

क्या कहते है होटल व्यवसायी

होटल डिलाईट के डायरेक्टर बंटी भाटिया का कहना है कि यह शहर की प्रमुख सडक़ है। इस सडक़ पर सर्वाधिक होटल व बैक्वेंट हॉल हैं। ऐसे में लोग अपनी बुकिंग उनके होटलों में करने से परहेज कर रहे हैं क्योंकि सडक़ निर्माण कार्य अधूरा है तथा आवागमन भी बाधित है। हम पूरे साल शादियों के सीजन का इंतजार करते हैं। इस वक्त सर्वाधिक बुकिंग होती है, लेकिन लोग बुकिंग नहीं करा रहे हैं, जिनकी बुकिंग पहले से ही हो चुकी हैं, वे भी अपनी बुकिंग को बदलने के लिए आग्रह कर रहे है। होटल व बैंक्वेंट हॉल संचालकों को नुकसान हो रहा है। उनका कहना है कि इस बार का सीजन उनका पूरी तरह से घाटे में है।

क्या कहते है निगम के अधिकारी

नगर निगम के एसई रमेश बंसल के अनुसार नगर निगम पूरी तरह से मुस्तैदी से काम कर रहा है। उक्त रोड पर सफाई करवाई जा रही है तथा लोगों को आवागमन में परेशानी न हो इसाके लिए सर्विस रोड भी शुरु करवाया जा रहा है। सडक़ का निर्माण कार्य पूरा होने में अभी समय लगेगा इसलिए इसे बीच वैकल्पिक व्यवस्था की जा रही है।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar